कोरोनावायरस वैक्सीन, एक वैश्विक सार्वजनिक भलाई - यूएन प्रमुख

स्वास्थ्य
United Nations

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने कहा है कि वैश्विक महामारी कोविड-19, दुनिया के लिये असाधारण पीड़ा की वजह बनी है, और इस पर क़ाबू पाने के लिये, जीवनरक्षक कोविड-19 वैक्सीनों को वैश्विक सार्वजनिक भलाई के रूप में देखा जाना होगा. उन्होंने ज़ोर देकर कहा कि अनेक देशों में, जंगल में आग की तरह फैल रहे वायरस को रोकने का कोई अन्य रास्ता नहीं है.

ARVIND JODHA/UNFPA INDIA

बुनियादी स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार के लिये समन्वित प्रयास

जैसलमेर, भारत के राजस्थान राज्य का सबसे बड़ा ज़िला है, मगर यहाँ स्वास्थ्य ज़रूरतों को पूरा करने, विशेषकर मातृत्व व प्रसव सम्बन्धी सेवाओं के लिये विशेषज्ञों की कमी एक बड़ी चुनौती रही है. संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या कोष (UNFPA) ने वर्ष 2013 में महिला स्वास्थ्य आवश्यकताओं को पूरा करने के लिये ज़िला प्रशासन व राज्य स्वास्थ्य विभाग के साथ मिलकर प्रयास किये, जिसके सकारात्मक नतीजे दिखाई दिये हैं. इस क्षेत्र में हुई प्रगति में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले अधिकारियों व स्वास्थ्यकर्मियों से एक मुलाक़ात....

UN Photo/Eskinder Debebe

सुरक्षा परिषद में आईसीसी मुख्य अभियोजक – दार्फ़ूर में न्याय सुनिश्चित करने का आग्रह

अन्तरराष्ट्रीय आपराधिक न्यायालय (ICC) की मुख्य अभियोजक फ़तू बेन्सूडा ने अन्तरराष्ट्रीय समुदाय से आग्रह किया है कि दार्फ़ूर की जनता के लिये न्याय और शान्ति को सुनिश्चित किया जाना होगा. उन्होंने बुधवार को अपने नौ-वर्षीय कार्यकाल के दौरान अन्तिम बार सुरक्षा परिषद को सम्बोधित करते हुए कहा कि आईसीसी, एकमात्र संस्था है जिसने सूडान के दार्फ़ूर प्रान्त में हिंसक संघर्ष के पीड़ितों को उम्मीद बंधाई है. 

Unsplash/Gayatri Malhotra

म्याँमार: 'बड़े पैमाने पर मौतों' की रोकथाम के लिये कार्रवाई की माँग

संयुक्त राष्ट्र के स्वतंत्र मानवाधिकार विशेषज्ञ टॉम एण्ड्रयूज़ ने चेतावनी जारी की है कि म्याँमार में व्यापक पैमाने पर मौतों को टालने के लिये जल्द से जल्द अन्तरराष्ट्रीय कार्रवाई की आवश्यकता है. ख़बरों के अनुसार सेना द्वारा किये जा रहे हमलों से बचने के लिये, बड़ी संख्या में लोगों ने जंगलों में शरण ली है, उनके पास भोजन, पानी व दवा का सहारा नहीं है, जिससे उनके जीवन के लिये जोखिम पैदा हो रहा है. 

20-05-2021_UN-7894076_Guterres.jpg

एंतोनियो गुटेरेश, यूएन महासचिव के दूसरे कार्यकाल के लिये नामित

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने महासचिव के तौर पर पाँच-वर्षीय दूसरे कार्यकाल के लिये यूएन प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश को औपचारिक रूप से नामित किया है. यूएन के शीर्षतम पद के लिये अगला कार्यकाल जनवरी 2022 में शुरू होना है. सुरक्षा परिषद ने मंगलवार को एक निजी बैठक के दौरान पारित एक प्रस्ताव में, इस सम्बन्ध में यह सिफ़ारिश पेश की है, जिसे अब औपचारिक स्वीकृति के लिये 193 सदस्य देशों वाली यूएन महासभा में भेजा जाएगा.

Public Health Alliance/Ukraine

एड्स के ख़ात्मे के लिये विषमताओं का अन्त ज़रूरी - यूएन महासभा प्रमुख

संयुक्त राष्ट्र महासभा प्रमुख वोल्कान बोज़किर ने कहा है कि चार दशक पहले एड्स का पहला मामला सामने आने के बाद से अब तक, दुनिया ने इस चुनौती से मुक़ाबले में व्यापक प्रगति दर्ज की है. मगर त्रासदीपूर्ण वास्तविकता यह है कि अधिकाँश निर्बलों पर जोखिम अब भी मंडरा रहा है.  यूएन महासभा में मंगलवार को चर्चा के दौरान सदस्य देशों ने एक राजनैतिक घोषणापत्र के तहत नए, महत्वाकाँक्षी लक्ष्यों को पारित किया है, जिसका उद्देश्य वर्ष 2030 तक 36 लाख नए एचआईवी संक्रमणों और 17 लाख एड्स-सम्बन्धी मौतों की रोकथाम करना है.

एक नज़र में मुख्य बातें