जलवायु परिवर्तन से निपटने के लिए जैवविविधता का संरक्षण अहम

एसडीजी
Bioversity International/B. Sthapit

संयुक्त राष्ट्र के आंकड़े दर्शाते हैं कि दुनिया भर में फ़सलों की विविधता घट रही है और लोगों का खाना एक जैसा होता जा रहा है जो बड़ी चिंता का कारण है. यह चेतावनी बुधवार को अंतरराष्ट्रीय जैवविविधता दिवस पर जारी की गई है जिसके ज़रिए पर्यावरण की उपेक्षा से खाद्य सुरक्षा और सार्वजनिक स्वास्थ्य पर पड़ने वाले प्रभाव के बारे में जागरूकता फैलाई जा रही है.

MINUSMA/Harandane Dicko

यूएन प्रमुख ने माली में शांतिरक्षकों पर हमले की निंदा की

माली में संयुक्त राष्ट्र मिशन (MINUSMA) पर हुए हिंसक हमले में नाइजीरिया के एक शांतिसैनिक की मौत हो गई है. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने शनिवार को किए गए इस हमले की कड़ी निंदा की है.  
 

UN Photo/Mark Garten

जलवायु कार्रवाई के लिए सूझबूझ भरे निर्णयों की आवश्यकता पर बल

दक्षिण प्रशांत क्षेत्र के देशों की यात्रा को समाप्त करते हुए संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने वैश्विक समुदाय से अपील की है कि जलवायु कार्रवाई के लिए समझदारी भरे निर्णयों की ज़रूरत हैं क्योंकि पूरे ग्रह का भविष्य दांव पर लगा है. 

UNICEF/Ahmad Al Ahmad

सीरिया के इदलिब प्रांत में टकराव बढ़ने के 'विनाशकारी नतीजे' होंगे

संयुक्त राष्ट्र में राजनीतिक और मानवीय मामलों के प्रमुखों ने सुरक्षा परिषद से सीरिया के इदलिब प्रांत के आसपास जारी हिंसा को तत्काल रोके जाने की अपील की है. उन्होंने आगाह किया कि टकराव बढ़ने के विनाशकारी परिणाम होंगे इसलिए सीरियाई जनता के लिए राजनीतिक समाधान तलाशे जाने के प्रयास होने चाहिए.

UN Photo/Mark Garten

यूएन महासचिव ने तुवालु और दुनिया को डूबने से बचाने की अपील की

तुवालु की यात्रा कर रहे संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने कहा है कि समुद्र का जलस्तर बढ़ने से तुवालु के सामने अस्तित्व का संकट पनप रहा है. तुवालु में सबसे ऊंची जगह समुद्री लहरों से महज़ पांच मीटर ही ऊपर है. तुवालु को बचाने के लिए उन्होंने जलवायु परिवर्तन के ज़िम्मेदार देशों से कार्रवाई की अपील की है.

UNICEF/Kate Holt

कम वज़नी बच्चों का जन्म बना बड़ी समस्या

एक नए शोध के अनुसार 2015 में विश्व भर में दो करोड़ से ज़्यादा कम वज़नी बच्चे पैदा हुए जिनका वज़न ढाई किलो से भी कम था. हर सात में से एक नवजात शिशु के अल्पवज़नी पैदा होने संबंधी तथ्य पहली बार सामने आए हैं जो एक बड़ी स्वास्थ्य चुनौती की ओर इशारा करते हैं. इससे निपटने के लिए और निवेश किए जाने सहित व्यापक पैमाने पर प्रयास करने की आवश्यकता पर बल दिया गया है.

 

एक नज़र में मुख्य बातें