नवीनतम समाचार

काम के तनाव, ओवरटाइम और बीमारियों से हर साल 28 लाख मौतें

कार्यस्थलों पर असुरक्षित और स्वास्थ्य के लिए हानिकारक माहौल, ज़्यादा तनाव, काम करने के लंबे घंटों और बीमारियों की वजह से हर साल 28 लाख कामगारों की मौत होती है. हर साल 37.4 करोड़ लोग नौकरी से जुड़ी वजहों के चलते या तो बीमार पड़ते हैं या फिर ज़ख़्मी होते हैं. अंतरराष्ट्रीय श्रम संगठन (ILO) की एक नई रिपोर्ट में ये तथ्य उभरकर सामने आए हैं.

 

सूडान में सत्ता परिवर्तन के बाद दार्फ़ूर में हिंसा बढ़ी

सूडान की राजधानी खार्तूम में पिछले सप्ताह सेना द्वारा सत्ता संभालने के बाद दार्फ़ूर प्रांत में सुरक्षा की स्थिति बदतर हुई है लेकिन वहां बढ़ती हिंसा के बीच यूएन शांतिरक्षा मिशन सतर्कता बनाए हुए है. दार्फ़ूर में यूएन और अफ़्रीकी संघ के साझा मिशन (UNAMID) के संयुक्त विशेष प्रतिनिधि जेरेमियाह मामाबोलो ने सुरक्षा परिषद को यह जानकारी दी है.

लीबिया में भारी गोलाबारी की 'भयावह रात'

लीबिया की राजधानी त्रिपोली और आस-पास के इलाक़ों में विरोधी गुटों के बीच झड़पें लगातार जारी हैं जिनसे रिहायशी इलाक़े भी अछूते नहीं हैं. मंगलवार को साढ़े चार हज़ार से ज़्यादा लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पलायन के लिए मजबूर होना पड़ा और संकट फिर शुरू होने के बाद पहली बार इतनी बड़ी संख्या में लोग  विस्थापन का शिकार हुए हैं. यूएन के विशेष प्रतिनिधि घसन सलामे ने इसे एक भयावह रात करार दिया है. 

घातक ई-कचरे को रोज़गार के बेहतर अवसरों में बदलने पर ज़ोर

दुनिया में हर साल करोड़ो टन ई-कचरा पैदा होता है और इलैक्ट्रिक और इलैक्ट्रॉनिक कचरे की ज़हरीली बाढ़ पर्यावरण और लोगों के स्वास्थ्य को नुक़सान पहुंचा रही है. अंतरराष्ट्रीय श्रम संगठन (ILO) ने कहा है कि ई-कचरा के दुष्प्रभावों को तत्काल रोकने के साथ-साथ उसे अच्छे और उपयुक्त कार्य के स्रोत में भी तब्दील किया जाना चाहिए.

तालिबानी हमलों से 'स्थायी शांति' के लिए प्रयासों को झटका

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने अफ़ग़ानिस्तान में तालिबान चरमपंथियों की उस घोषणा की निंदा की है जिसमें वसंत के मौसम में हमले फिर शुरू करने की धमकी दी गई है. सुरक्षा परिषद के मुताबिक़ ये हमले अफ़ग़ानिस्तान की जनता के लिए अनावश्यक पीड़ा और तबाही लेकर आएंगे. अफ़ग़ानिस्तान में हिंसा के बीच शांति प्रक्रिया को आगे बढ़ाने के लिए प्रयास भी हो रहे हैं.

नोट्रे डाम चर्च के पुनर्निर्माण में मदद के लिए तैयार यूनेस्को

फ्रांस की राजधानी पेरिस के ऐतिहासिक नोट्रे डाम कैथीड्रल में भीषण आग के बाद वहां हुए नुक़सान का जायज़ा लेने और आग से बच गए हिस्से को संरक्षित रखने के प्रयास शुरू हो गए हैं. संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन (UNESCO) ने कहा है कि पुनर्निर्माण कार्य को आगे बढ़ाने के लिए वो एक आपात मिशन भेजने के लिए तैयार हैं.

नोट्रे डाम गिरजाघर में भीषण आग से व्यथित यूएन प्रमुख

फ्रांस की राजधानी पेरिस के प्राचीन नोट्रे डाम कैथेड्रल में भीषण आग लगने और इस ऐतिहासिक धरोहर को नुक़सान  पहुंचने पर संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने दुख प्रकट किया है. नोट्रे डाम गिरजाघर को गॉथिक स्थापत्य कला का अनुपम उदाहरण के रूप में देखा जाता है और 1991 में उसे विश्व धरोहर स्थल का दर्जा दिया गया था.

यमन: हुदायदाह से सैनिक हटाने की योजना को मिली मंज़ूरी

यमन के मुख्य बंदरगाह शहर हुदायदाह और आस-पास के मोर्चों से सरकारी सुरक्षा बलों और हुती लड़ाकों को वापस बुलाने की योजना को दोनों पक्षों ने अपनी स्वीकृति दे दी है. यमन के लिए संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत मार्टिन ग्रिफ़िथ्स ने सुरक्षा परिषद को सचेत किया कि देश के अन्य हिस्सों में फ़िलहाल हिंसा में कमी आती दिखाई नहीं दे रही है. 

टिकाऊ विकास लक्ष्यों के लिए और धन की ज़रूरत

असमान वृद्धि, बढ़ता कर्ज़, वित्तीय बाज़ारों में उतार-चढ़ाव, और वैश्विक व्यापार पर कायम तनाव जैसी वैश्विक चुनौतियां, टिकाऊ विकास लक्ष्यों को पाने के रास्ते में बाधाएं खड़ी कर रही हैं. 2030 एजेंडा लागू करने के लिए वित्तीय संसाधन जुटाने पर न्यूयॉर्क में बैठक हो रही है जिसे संबोधित करते हुए संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने कहा कि इन महत्वाकांक्षी लक्ष्यों को हासिल करने के लिए और धन की आवश्यकता होगी.

रवांडा में तुत्सी समुदाय के जनसंहार से 'मानवता को मिले कई सबक'

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने रवांडा में तुत्सी समुदाय के जनसंहार को मानव इतिहास का एक काला अध्याय करार दिया है. रवांडा के राष्ट्रपति पॉल कगामे की उपस्थिति में यूएन महासभा में आयोजित एक समारोह में ऐसी त्रासदियों को फिर न होने देने के लिए संकल्प को मज़बूत करने की अपील की.