अमेरिका

वेनेज़्वेला शरणार्थियों पर छिटपुट हमलों के ख़िलाफ़ 'एकजुटता की ज़रूरत'

पड़ोसी देशों में शरण ले रहे वेनेज़्वेला के लोगों के ख़िलाफ हमलों और नफ़रत भरे भाषणों की निंदा एकुजट होकर स्पष्ट और कड़े संदेश के ज़रिए की जानी चाहिए. संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी (UNHCR) और यूएन प्रवासन एजेंसी (IOM) के संयुक्त विशेष प्रतिनिधि ने यह बात कही है. 

वेनेज़्वेला संकट के मुद्दे पर सुरक्षा परिषद में मतभेद

राजनीतिक मामलों की संयुक्त राष्ट्र की वरिष्ठ अधिकारी ने शनिवार को सुरक्षा परिषद को बताया कि संवाद और सहयोग वेनेज़्वेला में संकट को समाप्त करने के लिए बेहद अहम हैं. लेकिन सुरक्षा परिषद में तनातनी भरी बहस के दौरान सदस्य देश लातिन अमेरिकी देश में संकट का ठोस समाधान तलाशने के मुद्दे पर बंटे नज़र आए. 

वेनेज़्वेला: गहराते राजनीतिक संकट को जल्द सुलझाने की अपील

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने वेनेज़्वेला में राजनीतिक उठापठक और हिंसक प्रदर्शनों में लोगों के हताहत होने की रिपोर्टों के बीच घटनाओं की पारदर्शी और स्वतंत्र जांच कराए जाने और सभी पक्षों से देश में व्याप्त तनाव को कम करने का आग्रह किया है. वेनेज़्वेला लंबे समय से राजनीतिक और आर्थिक संकट से जूझ रहा है.

'हिंसा के विरूद्ध व्यापक सहमति को प्रोत्साहन मिले'

संयुक्त राष्ट्र के विशेष प्रतिनिधि कार्लोस रूइत्ज़ मासिये ने बुधवार को सुरक्षा परिषद को बताया कि कोलंबिया के लोगों ने देश को फिर संघर्ष की आग में न झोंकने के लिए व्यापक तौर पर सहमति बना ली है. उन्होंने इस भावना को और मज़बूत बनाने की ज़रूरत पर बल देते हुए वहां स्थिरता लाने के लिए उठाए जा रहे कदमों पर जानकारी दी.

विनाशकारी भूकंप के 9 साल बाद क्या हैती में आपदा प्रबंधन बेहतर हुआ है?

​हैती में 9 साल पहले 12 जनवरी 2010 को आए विनाशकारी भूकंप में राजधानी पोर्त-ओ-प्रांस आधे से ज़्यादा ध्वस्त हो गई थी, दो लाख से ज़्यादा मौतें हुई थीं जबकि दस लाख से अधिक लोग विस्थापित होने को मजबूर हो गए थे. लेकिन सवाल यह है कि क्या स्थानीय प्रशासन इस तरह की आपदाओं को सामना करने के लिए अब पहले से बेहतर ढंग से तैयार है? 

ग्वाटेमाला में अंतरराष्ट्रीय आयोग अपना काम जारी रखेगा

दंड मुक्ति के ख़िलाफ़ बने अंतरराष्ट्रीय आयोग (CICIG) को बंद करने के ग्वाटेमाला सरकार के एकतरफ़ा निर्णय को उच्चतम न्यायालय द्वारा ठुकराए जाने के बाद आयोग के प्रवक्ता ने कहा है उनकी टीम अपना काम सुचारू रूप से जारी रखने के रास्ते तलाश रही है. 

भ्रष्टाचार विरोधी आयोग बंद करने के निर्णय को यूएन ने ख़ारिज किया

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने ग्वाटेमाला सरकार के उस निर्णय को ज़ोरदार तरीक़े से अस्वीकार कर दिया है जिसमें दंड मुक्ति के ख़िलाफ बने अंतरराष्ट्रीय आयोग (CICIG) को एकतरफ़ा रूप से ख़त्म करने की घोषणा की गई थी. इस स्वतंत्र आयोग का गठन संयुक्त राष्ट्र और ग्वाटेमाला सरकार ने मिलकर किया था जिसका काम अवैध ढंग से बने सुरक्षा गुटों और उच्चस्तरीय भ्रष्टाचार की जांच करना है.