अमेरिका

हेती में शांतिरक्षा मिशन समाप्त, लेकिन यूएन का समर्थन जारी रहेगा

हेती में 15 वर्ष से चला आ रहा संयुक्त राष्ट्र शांतिरक्षा अभियान समाप्त हो रहा है लेकिन देश में स्थिरता और लोकतंत्र की जड़ें मज़बूत करने के लिए संगठन का संकल्प जारी रहेगा. संयुक्त राष्ट्र शांति अभियानों के अवर महासचिव ज़्यां-पियरे लॉकोआ ने मंगलवार को सुरक्षा परिषद को यह जानकारी देते हुए यूएन मिशन की उपलब्धियों के बारे में जानकारी साझा की.

बच्चों का ऐतिहासिक जलवायु मुक़दमा

स्वीडन मूल की युवा जलवायु कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग और एलेक्ज़ेन्ड्रिया विलासेनोर समेत 12 देशों के 16 बच्चों ने जलवायु संकट पर सरकार द्वारा कार्रवाई न होने के विरोध में, संयुक्त राष्ट्र बाल अधिकार समिति के सामने 24 सितंबर को एक ऐतिहासिक आधिकारिक याचिका दायर की है. एक रिपोर्ट...

इंटरव्यू: यूएन छत पर सोलर पैनल

जलवायु आपदा का सामना करने के प्रयासों के तहत संयुक्त राष्ट्र में कान्फ्रेंस इमारत की छत पर सोलर पैनल और हरी घास लगए गए हैं. ये काम मुख्य रूप से संयुक्त राष्ट्र के संचालन विभाग के अवर महासचिव अतुल खरे की देखरेख में हुआ है. उनके साथ ख़ास बातचीत.

बहामास में डोरियन तूफ़ान की तबाही के बीच सहायता कार्य तेज़

संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों और उसके साझेदारों ने डोरियन तूफ़ान से बहामास में भारी तबाही होने की चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि वो इस प्राकृतिक आपदा से प्रभावित होने वाले हर एक व्यक्ति के लिए चिंतित हैं. डोरियन तूफ़ान ने बहामास और अबाको दो कैरीबियाई द्वीपों को बुरी तरह प्रभावित किया है. 

कोलंबिया में वेनेज़ुएला के बच्चों को मिला नागरिकता अधिकार

संयुक्त राष्ट्र प्रवासन एजेंसी (IOM) ने कोलंबिया के उस निर्णय का स्वागत किया है जिसमें वहां जन्म लेने वाले वेनेज़ुएला के 24 हज़ार से ज़्यादा बच्चों को कोलंबिया की नागरिकता का अधिकार दिए जाने की घोषणा की गई है. वेनेज़ुएला में राजनैतिक संकट की वजह से लाखों लोगों ने कोलंबिया में शरण ली हुई है और इस क़दम से उन माता-पिता को राहत मिलने की उम्मीद जताई गई है जिनके बच्चे कोलंबिया में पैदा हुए हैं.  

संवाद से ही निकलेगा वेनेज़ुएला संकट का समाधान

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त ने कहा है कि वेनेज़ुएला में क़ायम संकट को दूर करने का एकमात्र रास्ता आपसी संवाद ही है. शुक्रवार को जिनीवा में मानवाधिकार परिषद को संबोधित करते हुए उन्होंने स्पष्ट शब्दों में कहा कि अब सरकार को तय करना है कि लोगों के मानवाधिकारों को सर्वोपरि माना जाए या फिर फिर निजी, वैचारिक और राजनीतिक महत्वाकांक्षाओं को.

कोलंबिया में मानवाधिकार कार्यकर्ताओं की मौतों का सिलसिला 'भयावह'

कोलंबिया में बड़ी संख्या में मानवाधिकार कार्यकर्ताओं के मारे जाने और उन्हें प्रताड़ित किए जाने के मामले सामने आने पर संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार कार्यालय (OHCHR) ने चिंता जताई है. मानवाधिकार कार्यालय ने कहा है कि ऐसी घटनाओं को किसी तरह की सज़ा के डर के बिना अंजाम दिया जा रहा है जिससे सख़्ती से निपटा जाना होगा.

वेनेज़्वेला में मानवीय स्थिति बदतर, 70 लाख लोगों को मदद की दरकार

वेनेज़्वेला मुद्दे पर परस्पर विरोधी प्रस्तावों के पारित न हो पाने के करीब एक महीने बाद वहां कायम स्थिति पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में फिर चर्चा हुई है. बुधवार की बैठक में वेनेज़्वेला को एक बड़ी वास्तविक मानवीय समस्या बताया गया है जहां 70 लाख लोगों को सहायता की ज़रूरत है और हर दिन पांच हज़ार लोग देश छोड़कर जाने को मजबूर हैं. 

दोराहे पर खड़े हैती में 'मानवाधिकारों की रक्षा अहम'

हैती में संयुक्त राष्ट्र शांतिरक्षा मिशन के पूरा होने के आसार के बीच संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार प्रमुख मिशेल बाशलेट ने कहा है कि देश, विकास और शांतिरक्षा के दोराहे पर खड़ा है. सुरक्षा परिषद को जानकारी देते हुए उन्होंने सभी संबंधित पक्षों से अनुरोध किया कि अब तक हुई प्रगति को और मज़बूत बनाए जाने की ज़रूरत है, नहीं तो उसके पूरी तरह खोने का ख़तरा है.

 

वेनेज़्वेला: सुरक्षा परिषद में पारित नहीं हुए रूस और अमेरिका के प्रस्ताव

वेनेज़्वेला पर इस हफ़्ते दूसरी बार सुरक्षा परिषद की गुरुवार को बैठक हुई जिसमें अमेरिका और रूस की ओर से परस्पर विरोधी प्रस्ताव पेश किए गए. लेकिन दोनों ही पारित नहीं हो पाए क्योंकि अमेरिकी प्रस्ताव को वीटो कर दिया गया जबकि रूस के प्रस्ताव को ज़रूरी वोट नहीं मिले.