एशिया प्रशांत

अफ़ग़ानिस्तान: रमज़ान में आम लोगों को 'जानबूझकर बनाया गया निशाना'

अफ़ग़ानिस्तान में संयुक्त राष्ट्र ने सभी पक्षों से आग्रह किया है कि हिंसा में आम लोगों को निशाना नहीं बनाया जाना चाहिए और  उनकी रक्षा के दायित्व  को पूर्ण रूप से निभाया जाना चाहिए. रमज़ान के पवित्र महीने में चरमपंथियों के हमलों में राजधानी काबुल में ही 100 से ज़्यादा आम नागरिकों की मौत हो गई जिसकी यूएन ने निंदा की है. 

ताजनगरी में वायु प्रदूषण नियंत्रित करने के लिए नई मुहिम

ताजमहल के लिए दुनिया भर में मशहूर भारतीय शहर आगरा में वायु प्रदूषण को नियंत्रित करने के प्रयासों के तहत एक विशाल योजना तैयार की है. आगरा में ये विशाल वायु प्रदूषण नियंत्रण योजना मंगलवार, तीन जून को प्रारंभ की गई. ग़ौरतलब है कि विश्व पर्यावरण दिवस पाँच जून को मनाया जाता है.

साइकिलों के सहारे वायु प्रदूषण से निपट रहा है चीन

हाल के दशकों में चीन के कई शहरों में कारों ने यातायात के प्रमुख साधन के रूप में साइकिलों को पीछे छोड़ दिया था लेकिन सड़कों पर साइकिलों की फिर से वापसी हो रही है. उनका इस्तेमाल वायु प्रदूषण की समस्या से निपटने में हो रहा है. साइकिलें पर्यावरण के प्रति अनुकूल और आवाजाही का एक सस्ता और सुलभ साधन है जिसे फिर लोकप्रिय बनाने में डिजिटल तकनीक और 21वीं सदी की सोच से मदद मिली है.

सभी के लिए सौर ऊर्जा की उपलब्धता बढ़ाने और दूरगामी इलाक़ों पर ख़ास ध्यान देने पर ज़ोर

पर्यावरण सुधार की दिशा में प्रयासों के तहत सौर ऊर्जा में भारी निवेश की हिमायत करने और उसके उपाय तलाश करने के लिए हाल ही में बैंकाक में एक महत्वपूर्ण परिचर्चा हुई.  परिचर्चा में शिरकत करने वाले  पक्षों के प्रतिनिधियों ने और ज़्यादा सौर क्षमता हासिल करने के लिए वित्तीय संसाधन उपलब्ध कराने के लिए और ज़्यादा अंतरराष्ट्रीय सहयोग बढ़ाने पर ज़ोर दिया.

समानता और सशक्तिकरण से आसान होगा टिकाऊ विकास का रास्ता

थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक में एशिया-प्रशांत क्षेत्र के लिए संयुक्त राष्ट्र सामाजिक एवं आर्थिक आयोग (UNESCAP) के वार्षिक सत्र की शुरुआत हुई है जहां टिकाऊ विकास के 2030 एजेंडे को पूरा करने के लिए वंचित और हाशिए पर जी रहे समुदायों के सशक्तिकरण पर ज़ोर दिया गया है. टिकाऊ विकास प्रक्रिया में किसी को भी पीछे न छूटने देने के लिए इसे अहम बताया गया है.

अफ़ग़ानिस्तान: स्कूलों पर हमलों में तीन गुना बढ़ोत्तरी बनी चिंता का कारण

अफ़ग़ानिस्तान में स्कूलों पर किए जाने वाले हमलों में एक साल के भीतर तीन गुना बढ़ोत्तरी देखने को मिली है जिस पर चिंता ज़ाहिर करते हुए संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (UNICEF) ने पर्याप्त सुरक्षा मुहैया कराने का अनुरोध किया है. यूनिसेफ़ की यह अपील ऐसे समय में जारी की गई है जब स्पेन के मयोरका शहर में सुरक्षित स्कूलों पर तीसरा अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन हो रहा है.

अफ़ग़ानिस्तान में बंदियों के साथ दुर्व्यवहार किए जाने के मामलों पर चिंता

अफ़ग़ानिस्तान में तालिबान चरमपंथियों द्वारा बंदियों के साथ बुरा बर्ताव किए जाने की जानकारी मिलने के बाद संयुक्त राष्ट्र मिशन (UNAMA) ने गहरी चिंता ज़ाहिर की है. यूएन मिशन को विश्वस्त सूत्रों से पता चला है कि कुछ मामलों में बंदियों को यातना दिए जाने की भी बात सामने आई है.  

भारत में वन्यजीव अपराधों की संख्या बढ़ी

वन्यजीवों की अवैध तस्करी से दुनिया भर में जीवों की कई प्रजातियां विलुप्ति के कगार पर पहुंच रही हैं. जानवरों को पालतू बनाने की प्रवृत्ति और उनके चिकित्सकीय गुणों के कारण भारत में भी वन्यजीवों की तस्करी के मामले तेज़ी से बढ़ रहे हैं और आसानी से पैसा कमाने के लालच में युवा भी इस काम में शामिल हो रहे हैं.

जलवायु कार्रवाई के लिए सूझबूझ भरे निर्णयों की आवश्यकता पर बल

दक्षिण प्रशांत क्षेत्र के देशों की यात्रा को समाप्त करते हुए संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने वैश्विक समुदाय से अपील की है कि जलवायु कार्रवाई के लिए समझदारी भरे निर्णयों की ज़रूरत हैं क्योंकि पूरे ग्रह का भविष्य दांव पर लगा है. 

यूएन महासचिव ने तुवालु और दुनिया को डूबने से बचाने की अपील की

तुवालु की यात्रा कर रहे संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने कहा है कि समुद्र का जलस्तर बढ़ने से तुवालु के सामने अस्तित्व का संकट पनप रहा है. तुवालु में सबसे ऊंची जगह समुद्री लहरों से महज़ पांच मीटर ही ऊपर है. तुवालु को बचाने के लिए उन्होंने जलवायु परिवर्तन के ज़िम्मेदार देशों से कार्रवाई की अपील की है.