एसडीजी

‘जल गुणवत्ता के अदृश्य संकट’ से मानवता और पर्यावरण को बड़ा ख़तरा

विश्व बैंक की एक नई रिपोर्ट में कहा गया है कि जल की गुणवत्ता बदतर होती जा रही है जिससे भारी प्रदूषण के शिकार इलाक़ों में आर्थिक संभावनाओं पर बुरा असर पड़ेगा. मंगलवार को जारी इस रिपोर्ट में सचेत किया गया है कि जल की ख़राब गुणवत्ता एक ऐसा संकट है जिससे मानवता और पर्यावरण के लिए ख़तरा पैदा हो रहा है.

प्रगति के लिए 'बेहद ज़रूरी' है पर्यावरण संरक्षण

टिकाऊ विकास लक्ष्यों पर संयुक्त राष्ट्र महासचिव द्वारा नियुक्त पैरोकारों में शामिल भारतीय अभिनेत्री मिर्ज़ा ने कहा है कि लोगों के लिए स्वस्थ जीवन, न्याय और शांति जैसे मुद्दे सीधे तौर पर जलवायु कार्रवाई और पर्यावरण संरक्षण से जुड़े हैं. यूएन समाचार के साथ एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि भारत जल्द ही सबसे बड़ी जनसंख्या वाला देश बन जाएगा और इसलिए यह आवश्यक है कि बढ़ती ज़रूरतों को पूरा करने के लिए प्राकृतिक संसाधनों का इस्तेमाल सही ढंग से किया जाए.

यूनीसेफ़ यूथ चैंपियन – मेहर ठुकराल

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (यूनीसेफ़) ने नॉर्द एंगलिया एजुकेशन के सहयोग से अनेक देशों में टिकाऊ विकास लक्ष्यों को बढ़ावा देने में सक्रिय बच्चों को न्यूयॉर्क स्थित मुख्यालय की सैर कराई. इन बच्चों को अनौपचारिक रूप में यूथ चैंपियन भी कहा गया. ऐसी ही एक यूथ चैंपियन मेहर ठुकराल के साथ यूएन समाचार ने बातचीत की. रिपोर्टर: महबूब ख़ान

सीखने की प्रक्रिया में एक 'संकट' का दौर

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस के अवसर पर अपने संदेश में सचेत किया है कि स्कूल, युवाओं को ऐसे कौशल नहीं सिखा पा रहे हैं जिनसे तकनीकी क्रांति के दौर में उन्हें अपना रास्ता बनाने में मदद मिल सके. यूएन प्रमुख ने ध्यान दिलाया कि छात्रों के लिए सिर्फ़ सीखना ही ज़रूरी नहीं है, बल्कि किस तरह सीखा जाए, यह जानना भी आवश्यक है. 

यूनीसेफ़ यूथ चैंपियन-ख़ुशी

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (यूनीसेफ़) ने नॉर्द एंगलिया एजुकेशन के सहयोग से अनेक देशों में टिकाऊ विकास लक्ष्यों को बढ़ावा देने में सक्रिय बच्चों को न्यूयॉर्क स्थित मुख्यालय की सैर कराई. इन बच्चों को अनौपचारिक रूप में यूथ चैंपियन भी कहा गया. ऐसी ही एक यूथ चैंपियन ख़ुशी के साथ यूएन समाचार ने बातचीत की. रिपोर्टर: महबूब ख़ान

यूथ अकाउंटेबिलिटी एडवोकेट-रीतू जैन

रीतू जैन युवाओं से संबंधित मुद्दों पर काम कर रही हैं. शैक्षणिक संस्थानों में यौन दुर्व्यवहार जैसी चुनौतियों पर उन्होंने काफ़ी काम किया है जिससे युवा उनकी बात सुनने लगे हैं. जुलाई में संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में आयोजित उच्च स्तरीय राजनैतिक मंच में शिरकत के लिए आईं रीतू जैन के साथ यूएन समाचार की ख़ास बातचीत. रिपोर्टर महबूब ख़ान.

दिल्ली में एसडीजी जागरूकता प्रदर्शनी

संयुक्त राष्ट्र के टिकाऊ विकास लक्ष्यों (एसडीजी) के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए दिल्ली के एक स्कूल में एक रोचक प्रदर्शनी आयोजित की गई. संरक्षण नामक इस प्रदर्शनी में छात्रों ने नुक्कड़ नाटक के साथ-साथ अन्य तरीक़ों का भी सहारा लिया. प्रदर्शनी की एक झाँकी...

साँसों के लिए साफ़ हवा की ख़ातिर

पर्यावरण प्रदूषण और वायु की गुणवत्ता के बारे में जाकरूकता बढ़ाने के इरादे से दिल्ली में 23 जुलाई 2019 को क्लीन एयर इनिशिएटिव यानी स्वच्छ वायु पहल लाँच की गई. इस पहल को जलवायु कार्रवाई सम्मेलन 2019 के लिए संयुक्त राष्ट्र महासचिव के विशेष दूत एम्बेसेडर लुइस अल्फ़ोंसो डी अल्बा ने लाँच किया. अंशु शर्मा की रिपोर्ट...

भारत में विकलांग बच्चों की शिक्षा स्थिति

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (यूनीसेफ़) ने भारत में विकलांग बच्चों की शिक्षा की स्थिति के बारे में व्यापक आँकड़े जुटाए हैं. सर्वे में कहा गया है कि विकलांग बच्चों को उचित शिक्षा मुहैया कराने में काफ़ी प्रगति हुई है लेकिन अभी बहुत कुछ करने की ज़रूरत है. ख़ासतौर से ऐसे मौक़े पर जब राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर विचार विमर्श हो रहा है. इसी विषय पर अंशु शर्मा की एक रिपोर्ट... (मल्टीमीडिया सामग्री साभार: यूनेस्को)

एसडीजी के लिए भारत की सक्रियता

भारत ने संयुक्त राष्ट्र के टिकाऊ विकास लक्ष्यों (एसडीजी) को हासिल करने में सक्रिय योगदान की प्रतिबद्धता दर्ज कराई है. हाल ही में संयुक्त राष्ट्र के उच्च स्तरीय राजनैतिक मंच में भाग लेने के लिए मुख्यालय में आए नीति आयोग के उपाध्यक्ष डॉक्टर राजीव कुमार से यूएन समाचार ने ख़ास बातचीत की और यही जानना चाहा कि टिकाऊ विकास लक्ष्यों में भारत किस तरह और कितना योगदान कर रहा है. रिपोर्टर महबूब ख़ान.