शांति और सुरक्षा

रोहिंज्या मामले पर आईसीजे का म्याँमार को 'अस्थाई आदेश'

संयुक्त राष्ट्र अंतरराष्ट्रीय न्यायालय (ICJ) ने  म्याँमार से देश में अल्पसंख्यक रोहिंज्या समुदाय की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए हरसंभव क़दम उठाने को कहा है.  कोर्ट ने गुरूवार को एक 'अस्थाई आदेश' जारी करके जनसंहार के अपराधों से संबंधित तथ्यों को नष्ट होने से बचाने की व्यवस्था करने का भी आग्रह किया. उन उपायों के बारे में पहली रिपोर्ट चार महीने के भीतर और फिर इस मामले में कोर्ट का अंतिम फ़ैसला आने तक हर छह महीने में रिपोर्ट जारी करके इन उपायों का ब्यौरा कोर्ट को देने का भी आदेश दिया गया है...

म्याँमार: रोहिंज्या व लोकतांत्रिक बदलावों के लिए उम्मीद बची है

संयुक्त राष्ट्र की एक स्वतंत्र मानवाधिकार विशेषज्ञ यैंगही ली ने कहा है कि म्याँमार को अलबत्ता संभवतः जनसंहार के अपराधों सहित अंतरराष्ट्रीय अपराधों के “गंभीर आरोपों” का समाधान निकालना है, फिर भी उन्होंने देश में लोकतांत्रिक परिवर्तन के लिए अभी उम्मीद नहीं छोड़ी है. इन आरोपों में संभावित जनसंहार के आरोप भी शामिल हैं.  

लीबिया: जनता की भलाई व स्थिरता की ख़ातिर, राजनैतिक हल ज़रूरी

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने कहा है कि लीबिया में अनेक वर्षों से जारी संघर्ष के कारण मानवीय स्थिति ख़तरनाक हो गई है, लाखों आम लोगों को भारी तकलीफ़ों का सामना करना पड़ रहा है और वहाँ संघर्ष और भीषण होने के साथ-साथ तबाही भी बढ़ती जा रही है. 

सीरिया: युद्ध ने बच्चों की दुनिया व सपने उजाड़ दिए हैं

सीरिया में नौ वर्ष से जारी भीषण लड़ाई और अशांति ने वहाँ के बच्चों का ना सिर्फ़ बचपन तबाह कर दिया है बल्कि उनके अधिकारों की तो धज्जियाँ उड़ा दी हैं. बड़े पैमाने पर लड़कों और लड़कियों की हत्याएँ हुई हैं, वो घायल हुए हैं, विस्थापित होने के साथ-साथ उन्हें उत्पीड़न, बलात्कार और यौन ग़ुलामी का भी शिकार होना पड़ा है.

'माली में शांति समझौता लागू करना ही स्थिरता का एक मात्र रास्ता'

संयुक्त राष्ट्र शांतिरक्षा विभाग के प्रमुख ज्याँ पियर लैक्रोइ ने बुधवार को सुरक्षा परिषद को बताया कि माली में 2015 के शांति समझौते को लागू करना ही देश में स्थिरता स्थापित करने का एक मात्र प्रशस्त करता है. ज्याँ पियर लैक्रोइ ने पश्चिम अफ्रीकी देश माली में ताज़ा स्थिति के बारे में सुरक्षा परिषद को अवगत कराया.

यूक्रेन विमान की दुर्घटना जाँच में यूएन के विशेषज्ञ भी करेंगे मदद

नागरिक विमानन क्षेत्र में संयुक्त राष्ट्र की निगरानी संस्था - (ICAO) के विशेषज्ञ भी ईरान की राजधानी तेहरान में 8 जनवरी को यूक्रेन के एक यात्री विमान की दुर्घटना की जाँच में मदद करेंगे. ईरान सरकार की तरफ़ से इसके लिए अनुरोध प्राप्त हुआ था जिसे संयुक्त राष्ट्र संस्था ने मंगलवार को स्वीकार कर लिया है. 

कोलंबिया: 2019 में बड़ी संख्या में मानवाधिकार कार्यकर्ताओं की मौतें

संयुक्त राष्ट्र के मानवाधिकार उच्चायुक्त कार्यालय (ओएचसीएचआर) ने कोलंबिया में वर्ष 2019 में बड़ी संख्या में मानवाधिकार कार्यकर्ताओं की मौतों पर गहरी चिंता जताई है. कार्यालय के प्रवक्ता ने मंगलवार को एक वक्तव्य जारी करके ये जानकारी दी है. "सबसे ज़्यादा ऐसे समूहों के लोगों को निशाना बनाया गया जो अपने समुदायों के लोगों के लिए मानवाधिकारों की हिमायत कर रहे थे और उनमें आदिवासी और अफ्रो-कोलंबियन जैसे जातीय समुदाय प्रमुख हैं."

कोलंबिया में शांति बहाली की दिशा में अहम प्रगति

कोलंबिया में संयुक्त राष्ट्र महासचिव के विशेष दूत कार्लोस रुइथ मैसियू  ने कहा है कि गंभीर चुनौतियों के बावजूद देश में शांति प्रक्रिया को आगे बढ़ाने की दिशा में ठोस प्रगति हुई है. विशेष प्रतिनिधि ने सोमवार को कोलंबिया पर यूएन महासचिव की ताज़ा रिपोर्ट पेश करते हुए सुरक्षा परिषद को यह जानकारी दी है.

हेती: विनाशकारी भूकंप के दस वर्ष, यूएन मदद जारी रखने का वादा

12 जनवरी 2010 को हेती में 7.0 की तीव्रता वाला भूकंप आया जिसने राजधानी पोर्ट ओ प्रिंस को दहलाकर रख दिया. हेती सरकार के आँकड़ों के अनुसार उस भूकंप में लगभग दो लाख 20 हज़ार लोगों की जान चली गई थी. इनमें संयुक्त राष्ट्र के 102 कर्मचारी भी थे. हेती में संयुक्त राष्ट्र मिशन के मुख्यालय वाली इमारत भी ढह जाने से इन कर्मचारियों की मौत हुई. 

सीरिया को मदद मुहैया कराने की समय सीमा अंतिम क्षणों में बढ़ी

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने सीरिया के सीमावर्ती इलाक़ों में रहने वाले लाखों आम नागरिकों को मानवीय सहायता पहुँचाने के संयुक्त राष्ट्र के अभियानों को जारी रखने के लिए शुक्रवार देर शाम मंज़ूरी दे दी. लेकिन सुरक्षा परिषद के कुछ सदस्यों ने ये मानवीय सहायता पहुँचाने के लिए सीमा चौकियों की संख्या और समय दायरा कम किए जाने पर निराशा भी व्यक्त की.