चाड: अभूतपूर्व वर्षा से 3.4 लाख लोग प्रभावित

26 अगस्त 2022

संयुक्त राष्ट्र के मानवीय सहायता कार्यों की समन्वय एजेंसी – OCHA ने शुक्रवार को जारी एक रिपोर्ट में कहा है कि चाड में भारी बारिश ने अभूतपूर्ण बाढ़ उत्पन्न कर दी है, जिससे 55 हज़ार परिवारों में रहने वाले लगभग 3 लाख 40 हज़ार लोग प्रभावित हुए हैं. इस संख्या ने वर्ष 2021 के दौरान भी इसी तरह की बाढ़ से प्रभावित लोगों की ढाई लाख की संख्या को पीछे छोड़ दिया है.

एजेंसी के अनुसार उफनती नदियों ने लगभग 2,700 हैक्टेयर भूमि में फैली फ़सलों व खेतीबाड़ी की ज़मीन को नष्ट कर दिया है, साथ ही सैकड़ों आवासीय स्थल भी ध्वस्त हुए हैं. पिछले लगभग एक महीने से जारी इस बारिश ने खाद्य सुरक्षा और आजीविकाओं को भी ख़तरे में डाल दिया है.

डेटा एकत्रीकरण

अन्तरराष्ट्रीय प्रवासन संगठन (IOM), इस आपदा का सामना करने और सर्वाधिक प्रभावित लोगों तक तत्काल सहायता पहुँचाने के लिये, चाड के राष्ट्रीय और मानवीय प्रयासों में सहयोग कर रहा है.

यूएन प्रवासन एजेंसी देश के अधिकारियों व स्थानीय कार्यकर्ताओँ के साथ मिलकर, इस बाढ़ के व्यापक प्रभाव के बारे में सटीक जानकारी व डेटा एकत्र कर रही है, जिनमें पीड़ितों व विस्थापितों की संख्या भी शामिल है.

अभूतपूर्व वर्षा

वैसे तो चाड के अनेक हिस्से हर वर्ष भारी बारिश का सामना करते हैं, मगर वर्ष 2022 के दौरान बारिश का स्तर अभूतपूर्व रहा है.

अत्यन्त चरम मौसम के ये चलन व रुझान, इस क्षेत्र में जलवायु परिवर्तन के विपरीत प्रभावों की झलक पेश करते हैं.

इनमें तूफ़ानों की बढ़ी हुई संख्या और बारम्बारता शामिल है जिनके कारण भारी व तेज़ बाढ़ें आती हैं जो विशेष रूप से, ग्रामीण इलाक़ों में व्यापक विनाश करती हैं.

चाड में भारी बारिश ने अनेक स्थानों में पानी भर दिया.
IOM
चाड में भारी बारिश ने अनेक स्थानों में पानी भर दिया.

सीमित धनराशि

आपात स्थिति के बावजूद, सर्वाधिक प्रभावित लोगों के लिये, आश्रय, खाद्य सामग्री और खाद्य इतर वस्तुओं के रूप में सहायता पहुँचाने के प्रयास, धन की कमी के कारण बाधित हो रहे हैं.

अन्तरराष्ट्रीय प्रवासन एजेंसी - IOM के चाड मिशन की मुखिया ऐनी कैथरीन शाएफ़र का कहना है कि बारिश का मौसम अक्टूबर तक चलता है मगर इसी समय जो मानवीय स्थिति देखी जा रही है, वो पहले ही गम्भीर हो चुकी है.

बारिश जारी रहने से और भी ज़्यादा लोगों के विस्थापित होने की अरपेक्षा है मगर तमाम मानवीय सहायता एजेंसियाँ लोगों की मदद करने के लिये, पहले ही, आपात स्थिति के लिये रखी गई सहायता सामग्री ख़त्म हो जाने की स्थिति का सामना कर रहे हैं.

चाड में वर्ष 2022 के दौरान मानवीय सहायता मुहैया कराने के लिये जितनी धनराशि जुटाने की अपील जारी की गई थी, उसमें से इस महीने तक 33 प्रतिशत राशि प्राप्त हुई है.

चाड सरकार और मानवीय सहायता समुदाय ने एक संयुक्त औचक अपील में, बाढ़ से प्रभावित लोगों को आश्रय, बुनियादी वस्तुओं और संरक्षण मुहैया कराने के कार्यों की ख़ातिर, 52 लाख डॉलर की रक़म जुटाने की अली जारी की है.

 

♦ समाचार अपडेट रोज़ाना सीधे अपने इनबॉक्स में पाने के लिये यहाँ किसी विषय को सब्सक्राइब करें
♦ अपनी मोबाइल डिवाइस में यूएन समाचार का ऐप डाउनलोड करें – आईफ़ोन iOS या एण्ड्रॉयड