वैश्विक परिप्रेक्ष्य मानव कहानियां

वीडियो - हब (Video-Hub)

वीडियो हब (VIDEO HUB)
यूएन हिन्दी न्यूज़ की मल्टीमीडिया सामग्री...
भारत के पूर्वोत्तर मेघालय राज्य के खासी समुदाय में प्रचलित, जीवित जड़ों के पुल.
UNDP India

मेघालय: 'जीवित जड़ों के पुल' वास्तुकला के संरक्षण की मुहिम

भारत के पूर्वोत्तर मेघालय राज्य के खासी समुदाय में प्रचलित, जीवित जड़ों के पुल, एक प्रकृति आधारित वास्तुकला का अद्वितीय नमूना है. ये पुल, खड़े व फिसलन भरे पहाड़ी इलाक़ों में, दूर-दराज़ के गाँवों को जोड़ने का महत्वपूर्ण ज़रिया हैं. मेघालय, भारत-बर्मा क्षेत्र में स्थित हैऔर जैव विविधता का एक वैश्विक केन्द्र है. ‘लिविंग रूट्स ब्रिज फाउंडेशन’ नामक एक स्थानीय सामुदायिक संगठनइस स्थानीय प्रथा को संरक्षित करने के प्रयासों में लगा है, जिसे भारत में संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (यूएनडीपी) व जर्मन सरकार समर्थन दे रही है. जैव-विविधता की महत्ता पर एक वीडियो...

भूटान की रैज़िडेन्ट कोऑर्डिनेटर, कार्ला रॉबिन हर्शी.
UN India/Rohit Karan

भूटान: अल्प विकसित (LDC) से विकासशील देश बनने तक का सफ़र

भूटान हाल ही में, अल्पतम विकसित देशों (एलडीसी) की श्रेणी से बाहर आकर, विकासशील देशों की सूची में शामिल हुआ, जो देश के इतिहास में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है. यह उपलब्धि भूटान के दृढ़ संकल्पसहनसक्षमता व कठिन परिश्रम का प्रमाण हैजो पारम्परिक एवं स्थानीय ज्ञान में गहराई से निहित है. इस सफ़र में संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों ने सरकार और लोगों का हर पल साथ निभाया है, और भूटान के विकास प्रयासों में यूएन की महत्वपूर्ण भूमिका रही है.

इन्हीं विकास प्रयासों और भूटान की इस उपलब्धि से दुनिया क्या सीख सकती है, इस बारे में जानकारी के लिए, यूएन न्यूज़ की अंशु शर्मा ने भूटान की रैज़िडेंट कोऑर्डिनेटर कार्ला रॉबिन हर्शी के साथ ख़ास बातचीत की, जो हाल ही में भारत के दौरे पर आईं... (वीडियो) 

दक्षिण सूडान में यूएन मिशन (UNMISS) में सेवारत मेजर शिक्षा गुरुंग.
UNMISS

दक्षिण सूडान में यूएन मिशन: शान्तिरक्षक मेजर शिक्षा गुरुंग के साथ एक बातचीत

दक्षिण सूडान के यूएन शान्तिरक्षा मिशन (UNMISS) में सेवारत भारतीय शान्तिरक्षक, मेजर शिक्षा गुरुंग सैन्य इंजीनियरिंग कम्पनी (HMEC) का हिस्सा हैं और फ़िलहाल अपनी यूनिट के साथ मालाकल में तैनात हैं. उनका मुख्य दायित्व सड़क मार्ग का निर्माण और बुनियादी ढाँचे की मरम्मत व देखरेख करना है ताकि स्थानीय लोगों के जीवन में बेहतरी लाई जा सके. उन्होंने यूएन न्यूज़ के साथ एक बातचीत में बताया कि स्थानीय समुदायों तक मदद पहुँचाना और अन्य देशों से आए शान्तिरक्षकों के साथ यूएन के झंडे तले काम करना एक शानदार अनुभव है. वीडियो...

आन्ध्र प्रदेश से महिला सरपंच, कुनुकु हेमा कुमारी.
UN News/Sachin Gaur

कुनुकु हेमा कुमारी: महिला मज़बूती का बीड़ा

भारत में पिछले कई दशकों से मज़बूत हुए स्थानीय प्रशासन यानि पंचायत राज ने, समुदायों की भागेदारी और निर्णय निर्माण प्रक्रिया में महिलाओं की हिस्सेदारी बढ़ाई है. पंचायत और ज़िला शासन के स्तर पर रूपान्तरकारी बदलाव कर रही कुछ महिलाओं की कहानी, हाल ही में न्यूयॉर्क स्थित यूएन मुख्यालय में पेश की गई. उन्हीं में से एक महिला – आन्ध्र प्रदेश की कुनुकू हेमा कुमारी की दास्तान... 

पूर्वोत्तर अफ़ग़ानिस्तान में आई औचक बाढ़ से ध्वस्त हुई एक इमारत.
© IOM

अफ़ग़ानिस्तान: भीषण बाढ़ से तबाही, यूएन एजेंसियों के सहायता प्रयासों में तेज़ी

पूर्वोत्तर अफ़ग़ानिस्तान में स्थित बाग़लान प्रान्त में मूसलाधार बारिश के कारण भीषण बाढ़ से जान-माल की तबाही हुई है और कम से कम 180 लोगों के मारे जाने की ख़बर है. दो हज़ार से अधिक घर प्रभावित हुए हैं, कृषि योग्य भूमि बर्बाद हो गई है, मवेशी बह गए हैं, स्कूल बन्द हैं. अफ़ग़ानिस्तान में यूएन विकास कार्यक्रम के स्थानीय प्रतिनिधि, स्टीफ़न रॉड्रिक्स ने यूएन न्यूज़ से एक बातचीत में बताया कि स्वास्थ्य, प्रवासन, बाल कल्याण, यौन एवं प्रजनन स्वास्थ्य एजेंसियों का एक संयुक्त यूएन समन्वय तंत्र राहत एवं बचाव कार्यों में जुटा है. एक वीडियो...

त्रिपुरा की महिला नेत्री, सुप्रिया दास दत्ता.
UN News

भारत: पंचायत स्तर पर रूपान्तरकारी बदलाव लाने की मुहिम

भारत में पिछले कई दशकों से मज़बूत हुए स्थानीय प्रशासन यानि पंचायत राज ने, समुदायों की भागेदारी और निर्णय निर्माण प्रक्रिया में महिलाओं की हिस्सेदारी बढ़ाई है. पंचायत और ज़िला शासन के स्तर पर रूपान्तरकारी बदलाव कर रही कुछ महिलाओं की कहानी, यूएन मुख्यालय में पेश की गई. उन्हीं में से एक महिला – त्रिपुरा की सुप्रिया दास दत्ता की दास्तान...

SE4ALL की सीईओ व यूएन महासचिव की विशेष प्रतिनिधि.
UN India/Rohit Karan

स्वच्छ ऊर्जा की ओर बदलाव में तेज़ी लानी ज़रूरी

ऊर्जा, आर्थिक विकाससामाजिक समता एवं स्वस्थ पर्यावरण को परस्पर जोड़ने वाला एक अमूल्य स्रोत है. संयुक्त राष्ट्र टिकाऊ विकास एजेंडा का सातवाँ लक्ष्य, किफ़ायती एवं स्वच्छ ऊर्जा तक पहुँच पर केन्द्रित है, जिसे हासिल करने के लिए प्रयासों में ‘सर्वजन के लिए सतत ऊर्जा’, 'SE4ALL' नामक संगठन का अहम दायित्व है. यूएन न्यूज़ ने हाल ही में, SE4ALL की सीईओ व यूएन महासचिव की विशेष प्रतिनिधिडामिलोला ओगुनबी की भारत यात्रा के दौरान, उनके साथ सतत ऊर्जा की दिशा में हो रही प्रगति पर बात की. एक वीडियो...

राजस्थान के झुंझनू ज़िले में एक सरपंच नीरू यादव ने, युवजन को मज़बूत करने के साथ-साथ, अनेक पर्यावरण अनुकूल क़दम भी उठाए हैं.
UN News/Sachin Gaur

भारत: चुनौतियों और बाधाओं से नहीं डरने वाली सरपंच नीरू यादव

राजस्थान के झुंझनू ज़िले में एक सरपंच नीरू यादव ने, युवजन को मज़बूत करने के साथ-साथ, अनेक पर्यावरण अनुकूल क़दम भी उठाए हैं. नीरू यादव के साथ यूएन मुख्यालय में एक बातचीत...

अन्तरराष्ट्रीय यूएन स्वयंसेवक, डेबरा होप, भारत के अहमदाबाद के मिडवाइफ़री छात्रों को सुरक्षित प्रसव करवाने की बारिकियाँ समझाते हुए.
UNV India

भारत: दाइयों व नर्सों की मज़बूती में, अन्तरराष्ट्रीय माहिरों का अहम योगदान

संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों का कहना है कि भारत में जच्चा-बच्चा स्वास्थ्य में सुधार की दिशा में महत्वपूर्ण प्रगति हुई है, मगर आज भीग्रामीण क्षेत्रों की लाखों महिलाओं को, कुशल मातृत्व देखभाल उपलब्ध नहीं है. यूनीसेफ़ और यूएनएफ़पीए के अन्तरराष्ट्रीय मिडवाइफ़री माहिर शिक्षकों की एक टीम, नए दौर में अधिक कुशल मिडवाइफ़ तैयार करने में भारत सरकार की मदद कर रही है. माना जा रहा है कि ये अन्तरराष्ट्रीय माहिर, भारत की पेशेवर दाइयों व नर्सों की अगली पीढ़ी को, जच्चा-बच्चा के लिए एक स्वस्थ भविष्य को आगार देने में मदद करेंगे. दाइयों एवं नर्सों के अन्तरराष्ट्रीय दिवस पर एक विशेष वीडियो....  

यूएन प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश, मीडिया को सम्बोधित करते हुए.
UN/Mohammad Abu Ghoush

प्रैस स्वतंत्रता दिवस: पत्रकारों की सुरक्षा की पुकार

यूएन प्रमुख ने कहा है कि वर्तमान में विश्व में व्याप्त अभूतपूर्व पर्यावरणीय आपातस्थिति के बारे में लोगों को “सूचित व शिक्षित करने में” पत्रकारों एवं मीडिया कर्मियों की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण है, ख़ासतौर पर इसलिए क्योंकि इस संकट ने वर्तमान व आने वाली पीढ़ियों के अस्तित्व के लिए ख़तरा पैदा कर दिया है. तीन मई को विश्व प्रैस स्वतंत्रता दिवस पर, यूएन प्रमुख का वीडियो सन्देश...