वैश्विक

कोविड-19: टीकाकरण प्रयासों को मज़बूती प्रदान करने के लिये युद्धविराम की पुकार 

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने शुक्रवार को सर्वमत से एक अहम प्रस्ताव पारित किया है, जिसमें मानवीय आधार पर सभी सदस्य देशों से हिंसक संघर्षों व टकरावों पर विराम लगाने के प्रयासों को समर्थन देने की पुकार लगाई गई है. इस आहवान का उद्देश्य वैश्विक महामारी कोविड-19 पर क़ाबू पाने के लिये टीकाकरण प्रयासों को तेज़ी से आगे बढ़ाना है.  

कोविड-19: 'ऐतिहासिक' चरण – कोवैक्स के तहत भारत से वैक्सीन ख़ुराकें रवाना 

संयुक्त राष्ट्र के नेतृत्व वाली ‘कोवैक्स पहल’ के तहत, भारत से कोरोनावायरस वैक्सीनों की खेप, घाना सहित अन्य ज़रूरतमन्द देशों के लिये, रवाना किये जाने का सिलसिला शुरू हो गया है. संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (UNICEF) की भारत में प्रतिनिधि डॉक्टर यासमीन अली हक़ ने कोवैक्स वैक्सीन वितरण की शुरुआत को ऐतिहासिक क़रार देते हुए इसे, कोविड-19 महामारी पर क़ाबू पाने की दिशा में लिया गया एक बड़ा क़दम बताया है. 

जलवायु रिपोर्ट, पृथ्वी ग्रह के लिये एक 'रैड ऐलर्ट', यूएन प्रमुख की चेतावनी

संयुक्त राष्ट्र की एक ताज़ा जलवायु कार्रवाई रिपोर्ट में कहा गया है कि वैश्विक तापमान वृद्धि का मुकाबला करने के प्रयासों में जितनी कार्रवाई करने की ज़रूरत है, दुनिया भर के देश उसके निकट कहीं भी नज़र नहीं आ रहे हैं. 

सुपरमॉडल नतालिया वोदियानोवा - महिला स्वास्थ्य व सशक्तिकरण के लिये नई पैरोकार

यौन एवँ प्रजनन स्वास्थ्य मामलों पर संयुक्त राष्ट्र की एजेंसी (UNFPA) ने सुपरमॉडल और सामाजिक सरोकारों से जुड़ीं, नतालिया वोदियानोवा को अपनी नई सदभावना दूत नियुक्त किया है. यूएन जनसंख्या कोष ने कहा है कि नतालिया की मदद से महिलाओं व लड़कियों को सशक्त बनाने और माहवारी से जुड़ी वर्जनाओं का मुक़ाबला करने का प्रयास किया जाएगा.  

भारत की लिजिया नोरोन्हा - यूएन पर्यावरण एजेंसी के न्यूयॉर्क कार्यालय की नई प्रमुख

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने भारत की लिजिया नोरोन्हा की नियुक्ति, सहायक महासचिव और यूएन पर्यावरण एजेंसी के न्यूयॉर्क कार्यालय की प्रमुख के तौर पर किये जाने की घोषणा की है. लिजिया नोरोन्हा, यूएन एजेंसी के न्यूयॉर्क कार्यालय में मौजूदा प्रमुख, सत्य त्रिपाठी का स्थान लेंगी.  

टैक्नॉलॉजी क्रान्ति के अनेक लाभ, मगर विषमताओं की रोकथाम ज़रूरी

संयुक्त राष्ट्र विशेषज्ञों ने कहा है कि विकासशील देशों को, कोविड-19 महामारी का मुक़ाबला करने में अहम औज़ार साबित होने वाली अभूतपूर्व टैक्नॉलॉजी को अपनाना होगा, लेकिन इसके अभाव में, डिजिटलीकरण के दौर में उन्हें पहले से कहीं व्यापक स्तर पर विषमताओं का सामना करना पड़ेगा. व्यापार एवँ विकास पर संयुक्त राष्ट्र सम्मलेन (UNCTAD) द्वारा गुरुवार को जारी एक नई रिपोर्ट में डिजिटल समाधानों के बढ़ते इस्तेमाल और उनके प्रभाव की पड़ताल की गई है.  

ब्रिटिश अभिनेत्री गूगू म्बाथा-रॉ, नई यूएन शरणार्थी सदभावना दूत

ब्रिटिश अभिनेत्री गूगू म्बाथा-रॉ को यूएन शरणार्थी एजेंसी – UNHCR की सदभावना दूत नियुक्त किया गया है. गूगू म्बाथा-रॉ ने कोविड-19 महामारी के दौरान शरणार्थियों को समर्थन की ज़रूरत रेखांकित की है.

कोविड-19: स्कूली आहार कार्यक्रमों में 'ऐतिहासिक प्रगति' पर मंडराता संकट

संयुक्त राष्ट्र के विश्व खाद्य कार्यक्रम (WFP) ने आगाह किया है कि स्कूलों में बच्चों को मिलने वाले सेहतमन्द आहार सम्बन्धी कार्यक्रमों पर, कोरोनावायरस संकट और उसके प्रभावों की वजह से जोखिम मँडरा रहा है.  यूएन एजेंसी ने बुधवार को एक रिपोर्ट जारी की है जिसमें बच्चों का बेहतर भविष्य सुनिश्चित करने के लिये ऐसे कार्यक्रमों में निवेश किये जाने की पुकार लगाई है.     

कोविड-19: पुनर्बहाली सर्वजन के लिये मानवाधिकार सुनिश्चित करने का ‘ऐतिहासिक अवसर’

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने सचेत किया है कि कोविड-19 महामारी के दौरान दुनिया भर में मानवाधिकारों को नुक़सान पहुँचा है, लेकिन महामारी से पुनर्बहाली की प्रक्रिया, यथास्थितिवाद को पीछे छोड़ने और सर्वजन के लिये गरिमा सुनिश्चित करने का एक अवसर है. यूएन प्रमुख ने वर्ष 2020 में मानवाधिकारों को बढ़ावा देने के लिये कार्रवाई किये जाने की पुकार लगाई, जिसके एक वर्ष बाद महासभा में, उन्होंने देशों के प्रतिनिधियों को सम्बोधित किया है.

मज़बूत जलवायु कार्रवाई के बिना, दुनिया के बिखर जाने का डर 

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने सुरक्षा परिषद की एक उच्चस्तरीय परिचर्चा में कहा है कि जलवायु परिवर्तन ने, वैश्विक शान्ति और सुरक्षा के लिये जो ख़तरा उत्पन्न कर दिया है, उसका सामना करने के लिये, और अधिक एकजुट कार्रवाई की दरकार है. इसी परिचर्चा में, प्रख्यात प्रकृति इतिहासकार सर डेविड ऐटेनबरॉ ने भी देशों को आगाह करते हुए कहा कि पृथ्वी ग्रह पूर्ण बिखराव के निकट पहुँच जाने के जोखिम का सामना कर रहा है.