लीबिया में चुनाव स्थगित, जनता की आकाँक्षाओं का सम्मान किये जाने की पुकार

23 दिसम्बर 2021

लीबिया में राष्ट्रीय चुनाव आयोग ने क़ानूनी मुश्किलों और उम्मीदवारों की योग्यताओं के सम्बन्ध में दर्ज की गई अपीलों को ध्यान में रखते हुए, राष्ट्रीय व संसदीय चुनाव टालने की घोषणा की है. यूएन महासचिव ने मतदान के लिये पंजीकरण कराने वाले लाखों लीबियाई नागरिकों की सराहना करते हुए, उनकी इच्छाओं का आदर किये जाने का आग्रह किया है. 

लीबिया के राष्ट्रीय चुनाव आयोग ने 22 दिसम्बर को बताया कि तकनीकी तैयारियों के बावजूद,राजनैतिक रोडमैप के तहत, 24 दिसम्बर को राष्ट्रीय चुनाव करा पाना सम्भव नहीं है. 
 
आयोग के मुताबिक़, निर्वाचन विधान और उम्मीदवारों की अहर्ताओं के सम्बन्ध में दर्ज अपीलों के कारण कुछ मुश्किलें पेश आई हैं. 

इसके मद्देनज़र, आयोग ने लीबिया में प्रतिनिधि सभा से पहले दौर के राष्ट्रपति चुनाव को 30 दिनों के भीतर कराये जाने के लिये, नई तारीख़ की घोषणा करने का आग्रह किया है. 

यूएन प्रमुख ने लीबियाई राष्ट्रीय चुनाव आयोग द्वारा प्रतिनिधि सभा को भेजी गई सिफ़ारिश को अपने संज्ञान में लिया है.

साथ ही, देश में राष्ट्रपति व संसदीय चुनाव से जुड़ी प्रक्रियाओं के लिये चुनाव आयोग की प्रतिबद्धता का स्वागत किया है.    

यूएन महासचिव ने लीबिया के उन 28 लाख नागरिकों की सराहना की है, जिन्होंने मतदान के लिये अपना पंजीकरण कराया है. 

उन्होंने ज़ोर देकर कहा कि लीबिया में आमजन की आकाँक्षाओं का सम्मान किया जाना अनिवार्य है. 

“लीबिया में राजनैतिक संक्रमणकालीन प्रक्रिया के शान्तिपूर्ण अन्त और लोकतांत्रिक रूप से निर्वाचित संस्थाओं तक सत्ता के हस्तांतरण के लिये, राष्ट्रपति पद व संसदीय चुनावों को उपयुक्त परिस्थितियों में सम्पन्न कराया जाना होगा.” 

राजनैतिक रोडमैप

अक्टूबर 2020 में लीबिया की सत्ता के लिये संघर्षरत, परस्पर विरोधी धड़ों में एक ऐतिहासिक समझौते पर सहमति हुई थी. 

इसके तहत एक राजनैतिक रोडमैप और अन्तरिम सरकार के साथ-साथ, देश में राष्ट्रपति व संसदीय चुनाव के लिये रास्ता तैयार किया गया. 

यूएन प्रमुख के उप प्रवक्ता फ़रहान हक़ ने बताया कि लीबिया पर यूएन महासचिव की विशेष सलाहकार, स्टैफ़नी विलियम्स, और संयुक्त राष्ट्र समर्थन मिशन, लीबिया के नेतृत्व व स्वामित्व में प्रक्रिया आगे बढ़ाने के लिये हरसम्भव सहायता प्रदान करता रहेगा. 

उन्होंने कहा कि इससे मौजूदा चुनौतियों से निपटे जाने के साथ-साथ, राष्ट्रपति व संसदीय चुनाव जल्द से जल्द कराया जाना सम्भव होगा. 

साथ ही निर्वाचन प्रक्रिया को पूरा किये जाने में आने दिक़्कतों से निपटने के लिये आवश्यक उपाय अमल मे लाये जाएंगे.

यूएन महासचिव की विशेष सलाहकार स्टैफ़नी विलियम्स ने अपने वक्तव्य में, सम्बद्ध लीबियाई संस्थाओं के साथ मिलकर काम करने का संकल्प जताया है.

उन्होंने कहा कि लीबिया में राजनैतिक संकट का समाधन ढूँढने और सतत स्थिरता के नज़रिये से, राष्ट्रपति व संसदीय चुनाव उपयुक्त माहौल में कराये जाने होंगे. 

उन्होंने कहा कि लीबिया में बड़ी संख्या में नागरिक, अपने भविष्य को दिशा देने के लिये, मतदान में हिस्सा लेने के इच्छुक हैं.

समावेशी, स्वतंत्र, निष्पक्ष और विश्वसनीय चुनाव के ज़रिये, वे लम्बी राजनैतिक संक्रमणकालीन प्रक्रिया का अन्त होते देखना चाहते हैं. 

विशेष सलाहकार ने कहा कि लीबिया में चुनावों को, समस्या के बजाय, समाधान का हिस्सा बनाया जाना होगा. 

 

♦ समाचार अपडेट रोज़ाना सीधे अपने इनबॉक्स में पाने के लिये यहाँ किसी विषय को सब्सक्राइब करें
♦ अपनी मोबाइल डिवाइस में यूएन समाचार का ऐप डाउनलोड करें – आईफ़ोन iOS या एण्ड्रॉयड