चीन में साफ़ पानी की ख़ातिर...

ज़ियाओयुआन रैन(दाएँ) ने एक डेटा प्लेटफ़ॉर्म विकसित किया है, जो चीन के ग्रामीण क्षेत्रों में एक हज़ार गाँवों के भूजल की गुणवत्ता का परीक्षण करता है.
UNEP
ज़ियाओयुआन रैन(दाएँ) ने एक डेटा प्लेटफ़ॉर्म विकसित किया है, जो चीन के ग्रामीण क्षेत्रों में एक हज़ार गाँवों के भूजल की गुणवत्ता का परीक्षण करता है.

चीन में साफ़ पानी की ख़ातिर...

जलवायु और पर्यावरण

चीन में, बीजिंग की एक युवती ने एक ऐसा मोबाइल ऐप बनाया है जिससे ग्रामीणों को यह पता चलता है कि उनके स्थानों पर उपलब्ध पानी पीने के लिये सुरक्षित है या नहीं. इसके लिये उन्हें संयुक्त राष्ट्र के पर्यावरण पुरस्कार - 'यंग चैम्पयिन ऑफ़ द अर्थ' से नवाज़ा गया है... (वीडियो)

ज़ियाओयुआन रैन ने MyH2O नामक एक डेटा प्लेटफ़ॉर्म विकसित किया है जो देश भर के गाँवों में भूजल की गुणवत्ता के बारे में जानकारी उपलब्ध कराता है. इसके ऐप के ज़रिये गाँव के लोगों को यह जानकारी हासिल करने में आसानी होती है कि स्वस्थ रहने के लिये स्वच्छ पानी कहाँ मिलेगा.

उनके शोध से पता चलता है कि लगभग 40 प्रतिशत लोग अपने पीने के पानी को लेकर चिन्तित थे लेकिन उनमें इसका परीक्षण करने की क्षमता व सुविधा नहीं थी.

स्वेच्छा कर्मियों के एक दल ने पानी की गुणवत्ता का परीक्षण करने और फिर ऐप में नतीजे दर्ज करने के लिये 26 चीनी प्राँतों के लगभग एक हज़ार गाँवों की यात्रा की. MyH2O ऐप के ज़रिये, दूषित पेयजल को शुद्ध करने के तरीक़े भी सुझाए जाते हैं.

ज़ियाओयुआन रैन, 2020 के लिये पृथ्वी के संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (UNEP)के यंग चैम्पियन्स के रूप में मान्यता प्राप्त सात युवाओं में से एक हैं.