कोविड-19 पर जवाबी कार्रवाई में देशों के लिये एक ‘बेहद अहम लम्हा’

2 अक्टूबर 2020

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के महानिदेशक टैड्रॉस एडहेनॉम घेबरेयेसस ने दुनिया भर में कोरोनावायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों और मृतकों की संख्या दस लाख से ज़्यादा होने पर अफ़सोस जाहिर करते हुए कहा है कि प्रभावित देश अब भी मज़बूत नेतृत्व और व्यापक रणनीतियों के सहारे, और ज़्यादा देरी किये बिना, कोविड-19 पर क़ाबू पा सकते हैं. 

यूएन स्वास्थ्य एजेंसी के प्रमुख ने शुक्रवार को जिनीवा में एक प्रैस वार्ता को सम्बोधित करते हुए बताया कि हर सप्ताह कोरोनावायरस के संक्रमण  के 20 लाख से ज़्यादा मामले आ रहे हैं. 

विश्व भर में कोविड-19 के संक्रमण के अब तक तीन करोड़ 40 लाख से ज़्यादा मामलों की पुष्टि हो चुकी है और मृतकों की संख्या दस लाख से ज़्यादा हो गई है.

महानिदेशक घेबरेयेसस के मुताबिक देशों में राष्ट्रीय स्तर पर चार अलग-अलग प्रकार की परिस्थितियाँ दिखाई दे रही हैं. 

उन्होंने कहा कि जिन देशों ने वायरस पर क़ाबू पाने के प्रयास जल्द किये वहाँ बड़ी संख्या में फैलाव को टालने में सफलता मिली है. 

कुछ देशों में संक्रमण व्यापक स्तर पर फैला लेकिन फिर वे देश वायरस पर क़ाबू पाने में सफल रहे. 

अनेक देश ऐसे हैं जहाँ शुरुआती फैलाव पर क़ाबू पा लिया गया था लेकिन उसके बाद पाबन्दियों में छूट देने से संक्रमितों की संख्या फिर बढ़ रही है. 

कुछ देश ऐसे हैं जहाँ कोरोनावायरस का फैलाव अभी तेज़ गति से हो रहा है. 

यूएन एजेंसी प्रमुख ने कहा है कि अब भी हालात को बदलने के लिये देर नहीं हुई है – हर क्षेत्र में देशों ने वायरस को दबाने के लिये एक सामूहिक ब्लूप्रिण्ट तैयार किया है जिससे लोगों की ज़िन्दगियाँ व आजीविकाएँ बचाने में मदद मिली है. 

इस क्रम में विश्व स्वास्थ्य संगठन निरन्तर राष्ट्रीय कार्रवाई योजनाओं को क्षेत्रीय व राष्ट्रीय कार्यालयों के ज़रिये अपना समर्थन मुहैया करा रहा है.

उन्होंने कहा कि महामारी के फैलाव को रोकने के लिये की जा रही जवाबी कार्रवाई में यह एक अहम लम्हा है.

ये भी पढ़ें - कोविड-19: भारत के समक्ष एक 'अभूतपूर्व चुनौती' - जवाबी कार्रवाई में यूएन एजेंसियों का सहयोग

उन्होंने इस कार्रवाई को मज़बूत बनाने के लिये सभी देशों से लक्षित उपाय करने का आग्रह किया है ताकि संक्रमण फैलाव की रोकथाम हो सके और स्वास्थ्य प्रणालियों व स्वास्थ्यकर्मियों का संक्रमण से बचाव हो सके.  

महानिदेशक घेबरेयेसस ने ‘Access to COVID-19 Tools (ACT) Accelerator’ नामक पहल के लिये एक अरब डॉलर की धनराशि की घोषणा का स्वागत किया है. 

इस पहल के ज़रिये वैक्सीन, उपचार और निदान तेज़ी से विकसित करने और उनके न्यायसंगत वितरण के प्रयास आगे बढ़ाए जा रहे हैं. COVAX Facility इसकी वैक्सीन इकाई है. 

विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रमुख ने अपनी प्रैस वार्ता का आरम्भ अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प और अमेरिका की प्रथम महिला मेलानिया ट्रम्प के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना से किया.

अमेरिकी राष्ट्रपति और उनकी पत्नी के कोरोनावायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है.

महानिदेशक घेबरेयेसस ने कहा कि वह उनके जल्द स्वस्थ होने की प्रार्थना करते हैं.  

हमारे '2021 यूएन न्यूज़ हिन्दी' सर्वेक्षण में हिस्सा लीजिये!

'यूएन न्यूज़ हिन्दी'  के बारे में अपनी राय से हमें अवगत कराने के लिये यहाँ क्लिक कीजिये: इस सर्वे को पूरा करने में लगभग 4 मिनट का समय लगेगा

---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------

समाचार अपडेट रोज़ाना सीधे अपने इनबॉक्स में पाने के लिये यहाँ किसी विषय को सब्सक्राइब करें

अपनी मोबाइल डिवाइस में यूएन समाचार का ऐप डाउनलोड करें – आईफ़ोन iOS या एण्ड्रॉयड