संक्रमण

दक्षिण सूडान में एक नर्स, अस्पताल में एचआईवी टेस्ट कर रही है.
© UNICEF/Albert Gonzalez Farran

बच्चों व किशोरों में एचआईवी की रोकथाम व उपचार प्रयासों की सुस्त हुई रफ़्तार

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (UNICEF) के एक नए अध्ययन के अनुसार पिछले तीन वर्षों में बच्चों, किशोरों और गर्भवती महिलाओं में एचआईवी की रोकथाम और उपचार के लिये प्रयासों में प्रगति लगभग थम सी गई है. यूएन एजेंसी की नवीनतम रिपोर्ट में एचआईवी संक्रमण और एड्स के उपचार में बच्चों और वयस्कों के बीच सेवा कवरेज की बढ़ती खाई पर भी चिन्ता जताई गई है.

कोविड-19 महामारी के प्रभावों से, तपैदिक (TB) का मुक़ाबला करने के प्रयासों पर भी प्रतिकूल असर पड़ा और उनकी रफ़्तार धीमी हुई है.
© WHO/Hamad Darwish

कोविड महामारी के कारण, टीबी मौतों में भी बढ़ोत्तरी, WHO

संयुक्त राष्ट्र के विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने गुरूवार को कहा है कि तपेदिक (Tuberculosis) से होने वाली मौतों की संख्या और संक्रमण के मामलों में कोविड-19 महामारी के दौरान बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है, क्योंकि महामारी के कारण उपचार और सहायक सेवाओं तक पहुँच बाधित हुई.

ब्राज़ील में एक स्वास्थ्यकर्मी कोविड-19 से बचाव के लिये टीका लगाने की तैयारी कर रही है.
PAHO/Karina Zambrana

कोविड-19 महामारी का अन्त अब नज़र आने लगा है: WHO

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के महानिदेशक टैड्रॉस एडहेनॉम घेबरेयेसस ने बुधवार को कहा कि कोविड-19 संक्रमण के कारण किसी एक सप्ताह में मृतकों की संख्या, मार्च 2020 के बाद से अब तक अपने निम्नतम स्तर तक पहुँच गई है, जिससे वैश्विक महामारी का अन्त अब नज़र आने लगा है.
 

एचआईवी संक्रमण के साथ ज़िन्दगी जीने वाले लोगों के समर्थन के लिये, अक्टूबर 2021 में लन्दन में एक सामुदायिक मार्च निकाला गया था.
© Unsplash/Ehimetalor Akhere Unuabona

एचआईवी के ख़िलाफ़ लड़ाई में धीमेपन के बीच, तत्काल वैश्विक कार्रवाई की पुकार

संयुक्त राष्ट्र के बुधवार को जारी किये गए ताज़ा आँकड़ों में दिखाया गया है कि एड्स की पूर्ण बीमारी का कारण बन सकने वाले एचआईवी संक्रमण मामलों में आ रही गिरावट धीमी पड़ गई है.

काँगो लोकतांत्रिक गणराज्य में मंकीपॉक्स के प्रकोप के दौरान अपने हाथ दिखाता एक युवक. (फ़ाइल)
CDC

अफ़्रीका में पशु से मानव को लगने वाली बीमारियों में उछाल

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) द्वारा गुरूवार को जारी विश्लेषण के अनुसार, अफ़्रीका में पिछले एक दशक के दौरान, उससे पिछले दशक की तुलना में, पशुओं से मानव में फैलने वाली बीमारियों के मामलों में 63 प्रतिशत का उछाल आया है.

मंकीपॉक्स का संक्रमण कभी-कभार ही सामने आता है, मगर यह ख़तरनाक साबित हो सकता है.
© Maurizio de Angelis/Science photo library

मंकीपॉक्स के फैलाव और ख़तरे की गम्भीरता पर स्वास्थ्य विशेषज्ञों की बैठक

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के प्रमुख टैड्रॉस एडहेनॉम घेबरेयेसस ने मंकीपॉक्स वायरस के फैलाव से उपजी स्थिति पर विचार-विमर्श के लिये अन्तरराष्ट्रीय स्वास्थ्य नियामक आपात समिति की बैठक बुलाए जाने की घोषणा की है. मंकीपॉक्स के मामलों की उन 32 देशों में भी पुष्टि हुई है, जहाँ आमतौर पर इसके संक्रमण के मामले सामने नहीं आते हैं.    

बांग्लादेश के ढाका शहर में मलिन बस्तियों में रहने वाले परिवारों को कोविड-19 महामारी के दौरान आपातकालीन सहायता प्रदान की जा रही है.
UNDP/Fahad Kaizer

महामारी 'अभी ख़त्म नहीं हुई', स्वास्थ्य चुनौतियों से निपटने में सहयोग पर बल

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के महानिदेशक टैड्रॉस एडहेनॉम घेबरेयेसस ने जिनीवा में 'विश्व स्वास्थ्य ऐसेम्बली' के 75वें वार्षिक सत्र को सम्बोधित करते हुए चेतावनी जारी की है कि कोविड-19 संक्रमण मामलों और मृतक संख्या में गिरावट के बावजूद अभी वैश्विक महामारी का अन्त नहीं हुआ है. उन्होंने वैश्विक स्वास्थ्य चुनौतियों से निपटने के लिये देशों के बीच पारस्परिक सहयोग को अहम बताया है.

मंकीपॉक्स कभी-कभार ही सामने आने वाला, मगर एक ख़तरनाक संक्रमण है.
© CDC/Cynthia S. Goldsmith

योरोप: मंकीपॉक्स के फैलाव पर नियंत्रण पाने के लिये प्रयास, WHO का समर्थन

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कहा है कि अनेक योरोपीय देशों में वायरल बीमारी, मंकीपॉक्स के मामले सामने आने के बाद, रोग की निगरानी, रोकथाम व नियंत्रण के लिये एक साथ मिलकर प्रयास किये जा रहे हैं.

काँगो लोकतांत्रिक गणराज्य में मंकीपॉक्स के प्रकोप के दौरान अपने हाथ दिखाता एक युवक. (फ़ाइल)
CDC

ब्रिटेन में मंकीपॉक्स के मामले की पुष्टि, लेकिन रोग फैलने का ख़तरा नहीं

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कहा है कि कभी-कभार ही सामने आने वाले व घातक सिद्ध होने वाले पशु-जनित रोग - मंकीपॉक्स (monkeypox) के एक मामले की पुष्टि के बावजूद, ब्रिटेन में बीमारी का संक्रमण फैलने का जोखिम नहीं के बराबर है.

कोरिया लोकतांत्रिक जन गणराज्य की राजधानी प्योंगयांग.
© Unsplash

डीपीआर कोरिया में कोविड-19 का प्रकोप चिन्ताजनक, हरसम्भव समर्थन का आश्वासन

दक्षिण पूर्व एशिया क्षेत्र के लिये विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO SEARO) ने कोरिया लोकतांत्रिक जनगणराज्य (डीपीआरके) में कोविड-19 महामारी के प्रकोप पर चिन्ता व्यक्त करते हुए, महामारी से निपटने में हर सम्भव सहायता प्रदान करने का संकल्प जताया है.