यूएन महासभा: 'अभूतपूर्व हालात' में लोगों की सेवा के लिये निरन्तर प्रयासरत

8 सितम्बर 2020

कोविड-19 महामारी के दौरान संयुक्त राष्ट्र महासभा ने अभूतपूर्व परिस्थितियों में अपने दायित्वों का निर्वहन और ज़रूरी सेवाएँ सुनिश्चित करने के लिये अपने प्रयास निरन्तर जारी रखे हैं. यूएन महासभा अध्यक्ष तिजानी मोहम्मद-बाँडे ने 74वें सत्र के समापन पर मंगलवार को मौजूदा सत्र के अहम कार्यक्रमों का उल्लेख किया और आगामी कार्यक्रमों के बारे में जानकारी दी है. 

संयुक्त राष्ट्र महासभा का 75वाँ सत्र मंगलवार, 15 सितम्बर को शुरू हो रहा है जिसकी बागडोर तुर्की के राजनयिक वोल्कान बोज़किर के हाथों में होगी. 

महासभा अध्यक्ष ने 74वें सत्र के समापन पर न्यूयॉर्क में प्रैस वार्ता को सम्बोधित करते हुए बताया कि वह अगले महासभा प्रमुख वोल्कान बोज़किर के साथ मिलकर 75वें सत्र में उच्चस्तरीय आयोजनों की तैयारियों में जुटे हैं. 

अगले सत्र में 30 सितम्बर को जैवविविधता पर एक शिखर वार्ता और 1 अक्टूबर को महिलाओं पर चौथे विश्व सम्मेलन और बीजिंग घोषणापत्र व प्लैटफ़ॉर्म फ़ॉर एक्शन की 25वीं वर्षगाँठ पर एक उच्चस्तरीय बैठक का आयोजन किया जाएगा.  

इसके बाद 2 अक्टूबर को परमाणु हथियारों के पूर्ण उन्मूलन का अन्तरराष्ट्रीय दिवस मनाया जाएगा जो शान्ति व सुरक्षा पर यूएन के कामकाज का अहम हिस्सा है.

महासभा अध्यक्ष तिजानी मोहम्मद-बाँडे ने बताया कि कोरोनावायरस संकट के दौरान आर्थिक एवँ सामाजिक परिषद (ECOSOC) और महासभा के नए अध्यक्षों और सुरक्षा परिषद के नए सदस्यों के लिये मतदान भी शारीरिक दूरी बरते जाने के उपायों के साथ सम्पन्न हुए थे. 

साथ ही यूएन चार्टर दिवस पर दुनिया भर से प्रतिनिधियों को एकत्र करने और महिलाओं पर चौथे विश्व सम्मेलन की 25वीं वर्षगाँठ पर बहुपक्षीय सुनवाई के लिये वर्चुअल माध्यमों का सहारा लिया गया.

कोविड-19 के दौरान कामकाज

इससे पहले पिछले गुरुवार को लगभग छह महीने बाद पहली बार संयुक्त राष्ट्र महासभा हॉल में सदस्य देशों के प्रतिनिधियों की बैठक हुई थी जिसमें शारीरिक दूरी बरते जाने के दिशा-निर्देशों का पूरा ध्यान रखा गया.

यूएन महासभा प्रमुख ने कोविड-19 महामारी से निपटने की कार्रवाई में अग्रणी भूमिका निभाने के लिये विश्व स्वास्थ्य संगठन की सराहना की .

उन्होंने उन मानवीय राहतकर्मियों और शान्तिरक्षकों का ख़ासतौर पर आभार जताया जो विश्व के अनेक देशों में जटिल माहौल में निर्बल समुदायों की रक्षा करने में जुटे हुए हैं. 

साथ ही उन्होंने महासचिव और आर्थिक एवँ सामाजिक परिषद के अध्यक्ष के नेतृत्व की प्रशंसा की.

महासभा अध्यक्ष तिजानी मोहम्मद-बाँडे ने टिकाऊ विकास के 2030 एजेण्डा के तहत कार्रवाई के दशक में मौजूदा प्रयासों की अहमियत को रेखांकित किया.

उन्होंने स्पष्ट किया कि कार्रवाई का दशक अब कोविड-19 महामारी से उबरने के दशक के रूप में तब्दील हो सकता है. 

महासभा अध्यक्ष ने सभी देशों से बहुपक्षीय कार्रवाई को स्फूर्ति देने का आहवान किया ताकि विकास के लिये वित्तीय संसाधन प्रदान करने के संकल्प पूरे किये जा सकें.

 

♦ समाचार अपडेट रोज़ाना सीधे अपने इनबॉक्स में पाने के लिये यहाँ किसी विषय को सब्सक्राइब करें
♦ अपनी मोबाइल डिवाइस में यूएन समाचार का ऐप डाउनलोड करें – आईफ़ोन iOS या एण्ड्रॉयड