युद्ध

सीरिया में बच्चे और महिलाएँ अमानवीय हालात में बंदी

संयुक्त राष्ट्र नियुक्त स्वतंत्र जाँचकर्ताओं ने कहा है कि सीरिया के पश्चिमोत्तर इलाक़े में लोग तेज़ हुई हिंसा में फँस गए हैं और देश में दूसरी तरफ़ हज़ारों महिलाओं व बच्चों को अमानवीय हालात मे बंदी बनाकर रखा गया है. 

युद्धों में मारे गए बच्चों की याद में यूनीसेफ़ की संवेदनशील पहल

ऐसे में जबकि दुनिया भर के कई हिस्सों में बच्चों ने वार्षिक छुट्टियों के बाद फिर से स्कूल जाना शुरू कर दिया है तो संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (यूनीसेफ़) ने संघर्षरत इलाक़ों में रहने वाले बच्चों की दयनीय स्थिति को दर्शाने और बेहतर सुरक्षा की पुकार लगाते हुए एक अनोखा अभियान शुरू किया.

जिनीवा संधि: इंसानी बर्ताव के लिए नायाब मानक

संघर्ष और युद्ध वाले क्षेत्रों में घायल लोगों के अधिकारों की हिफ़ाज़त सुनिश्चित करने वाले जिनीवा कन्वेंशन के 70 वर्ष पूरे होने के अवसर पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के अध्यक्ष ने कहा है कि इस संधि ने सशस्त्र संघर्षों की क्रूरता को सीमित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है.

सीरिया: हवाई हमले में 7 बच्चों सहित 20 की मौत

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (यूनिसेफ) के अनुसार, पश्चिमोत्तर सीरिया में शनिवार को विस्थापितों के ख़िलाफ हवाई हमले में कम से कम सात बच्चे मारे गए हैं.

वेनेज़ुएला सरकार से बंदियों को रिहा करने की अपील

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बेशेलेट ने वेनेज़ुएला का दौरा करने के बाद सरकार का आहवान किया है कि उन सभी लोगों को रिहा कर दिया जाए जिन्हें शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने के लिए गिरफ़्तार किया गया था. संयुक्त राष्ट्र के किसी मानवाधिकार विशेषज्ञ की ये पहली वेनेज़ुएला यात्रा थी. साथ ही उन्होंने कहा है कि देश में मानवाधिकारों की स्थिति पर निगरानी रखने के लिए उनके कार्यालय की एक टीम कराकस में मौजूद रहेगी.

गुमशुदाओं के परिजनों को सही सूचना और जवाब मिलना ज़रूरी

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने सशस्त्र संघर्षों और लड़ाई-झगड़ों में लापता हुए लोगों के मुद्दे पर पहली बार कोई महत्वपूर्ण प्रस्ताव पारित किया है. मंगलवार को पारित हुए इस प्रस्ताव को सभी 15 सदस्यों ने एकमत से मंज़ूरी दी. इस प्रस्ताव का उद्देश्य तमाम देशों को अपनी मानवीय और क़ानूनी जिम्मेदारियाँ पूरी करने के लिए प्रोत्साहित करना है.

यमन में दुर्गम इलाक़ों में खाद्य सामग्री पहुँचाने में कामयाबी

यमन में लगातार गहराते जा रहे मानवीय संकट के हालात में संयुक्त राष्ट्र के विश्व खाद्य कार्यक्रम विद्रोहियों के क़ब्ज़े वाले उत्तरी इलाक़े निह्म तक पहुँचने में कामयाबी हासिल की है. यमन में 2015 में हूती विद्रोहियों और सऊदी अरब द्वारा समर्थित सरकारी गठबंधन के बीच गृह युद्ध शुरू होने के बाद से ऐसा पहली बार संभव हो सका है.

मानव तस्करी के पीड़ितों में एक तिहाई बच्चे

संयुक्त राष्ट्र की एक नई रिपोर्ट के मुताबिक़ दुनिया में मानव तस्करी के मामले भयावह रूप से बढ़ते जा रहे हैं जिसके पीछे पीड़ितों का शारीरिक शोषण होना एक बड़ा कारण है. तस्करी का शिकार होने वालों में एक तिहाई से ज़्यादा बच्चे हैं और लड़कों की तुलना में लड़कियां ज़्यादा पीड़ित हैं. 

मुश्किल समय में आशा की उजली किरण:यूएन महासचिव

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने नववर्ष की पूर्व संध्या पर अपने संदेश में कहा है कि दुनिया कई खतरों से जूझते हुए एक मुश्किल दौर से गुजर रही है .  पिछले साल 2018 के आगमन पर दिए अपने संदेश में जारी एक रेड अलर्ट की याद दिलाते हुए उन्होंने कहा कि उस समय की कई चुनौतियां आज भी बनी हुई हैं लेकिन आशा का दामन थामे रखने के भी कई कारण हैं. 

बच्चे भुगत रहे हैं युद्ध के दुष्परिणाम

  • लाखों बच्चे झेल रहे हैं युद्धों और लड़ाई-झगड़ों का दंश, विश्व समुदाय रहा नाकाम
  • अफ़ग़ानिस्तान में भीषण आत्मघाती हमले की तीखी निंदा, शांति स्थापित करने की पुकार
  • फ़लस्तीनी इलाक़ों में 2018 के दौरान क़रीब 300 फ़लस्तीनियों की मौत, 29 हज़ार ज़ख़्मी 
ऑडियो -
9'19"