यूगोस्लाविया

बोसनिया हरज़ेगोविना के सरायेवो शहर के एक स्ट्रीट बाज़ार का नज़ारा.
UNDP/Mackenzie Knowles-Coursin

सरायेवो घेराबन्दी के 30 वर्ष बाद भी, न्याय और मुआवज़ा अहम

बोसनिया हरज़ेगोविना की राजधानी सरायेवो की घेराबन्दी के 30 वर्ष बाद, देश में यूएन टीम ने पीड़ितों, जीवित बचे लोगों और उनके परिवारों के लिये न्याय और मुआवज़ा सुनिश्चित करने की महत्ता को दोहराया है.

ज़. ब. नामक ये व्यक्ति बोसनियो हरज़ेगोविना में युद्ध के दौरान खोए हुए अपने सम्बन्धियों को अभी तक तलाश कर रहा है
UNDP Eurasia

बोसनिया हरज़ेगोविना: कुछ राजनेता अब भी 'मूल योरोपीय मूल्यों' की अनदेखी कर रहे हैं

बोसनिया हरज़ेगोविना के लिये अन्तरराष्ट्रीय समुदाय के एक उच्च प्रतिनिधि ने सुरक्षा परिषद को बताया है कि 25 वर्ष पहले इसी महीने एक शान्ति समझौते पर हस्ताक्षर किये जाने के बाद वहाँ ख़ासी प्रगति दर्ज की गई है, लेकिन अब भी कुछ राजनेता मूल योरोपीय मूल्यों की अनदेखी करते हैं, और यहाँ तक कि युद्धापराधियों का महिमामण्डन भी करते हैं.

1995 में सेरेब्रेनीत्सा शहर के पतन के बाद जीवित बचे या बचकर भागे सैनिकों के नाम पढ़ता एक सरकारी सैनिक.
UNICEF/NYHQ1995-0553/LeMoyne

स्रेब्रेनीत्सा जनसंहार के 25 वर्ष

यूएन महासचिव ने कहा है कि 25 वर्ष पहले बोसनिया हरज़गोविना के स्रेब्रेनीत्सा में नफ़रत के कारण हज़ारों मुसलमानों का जनसंहार कर दिया गया था. पूर्व महासचिव कोफ़ी अन्नान के कहा था कि अन्तरराष्ट्रीय समुदाय की वो नाकामी इतिहास का कभी पीछा नहीं छोड़ेगी. यूएन महासचिव एंतोनियो गुटेरेश का कहना है कि पूरे अन्तरराष्ट्रीय समुदाय की ये ज़िम्मेदारी है कि उस जनसंहार के पीड़ितों को तकलीफ़ों से उबारकर सुलह-सफ़ाई व स्थिरता का माहौल बनाया जाए. वीडियो सन्देश...