यूएन स्वास्थ्य एजेंसी

रवाण्डा में एक युवा लड़की को एचपीवी की वैक्सीन दी जा रहीहै और अन्य स्कूली छात्राएँ भी अपनी बारी का उत्सुकता और घबराहट में इन्तज़ार कर रही हैं.
© UNICEF/Laurent Rusanganwa

एचआईवी पीड़ित महिलाओं में सर्वाइकल कैंसर के उन्मूलन की दिशा में प्रगति

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कहा है कि सर्वाइकल कैंसर के उन्मूलन में तेज़ी लाने पर केन्द्रित वैश्विक रणनीति लागू किए जाने और एचआईवी पीड़ित होने के कारण, ज़्यादा जोखिम झेल रही महिलाओं के बारे में पुख़्ता जानकारी जुटाए जाने के दो साल बाद, इस बीमारी के विरुद्ध सभी मोर्चों पर प्रगति दर्ज की गई है.

विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस पर दुनिया भर में आत्महत्याओं के बारे में जागरूकता बढ़ाने पर ज़ोर दिया गया है, साथ ही इस पर भी कि हम सब आत्महत्याओं को रोकने के लिए क्या कर सकते हैं.
WHO

अफ़्रीका में मानसिक स्वास्थ्य संकट, रोकथाम उपायों के लिये मुहिम

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने अफ़्रीकी क्षेत्र में आत्महत्या की रोकथाम के लिये प्रयासों में स्फूर्ति लाने के इरादे से गुरूवार को एक जागरूकता मुहिम शुरू की है. इस क्षेत्र में हर वर्ष, प्रति एक लाख व्यक्तियों पर 11 लोग आत्महत्या करते हैं, जोकि विश्व में सबसे ऊँची दर है.

ब्राज़ील में एक स्वास्थ्यकर्मी कोविड-19 से बचाव के लिये टीका लगाने की तैयारी कर रही है.
PAHO/Karina Zambrana

कोविड-19 महामारी का अन्त अब नज़र आने लगा है: WHO

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के महानिदेशक टैड्रॉस एडहेनॉम घेबरेयेसस ने बुधवार को कहा कि कोविड-19 संक्रमण के कारण किसी एक सप्ताह में मृतकों की संख्या, मार्च 2020 के बाद से अब तक अपने निम्नतम स्तर तक पहुँच गई है, जिससे वैश्विक महामारी का अन्त अब नज़र आने लगा है.
 

नेपाल की राजधानी काठमाण्डू में एक चार साल की बच्ची को MR वैक्सीन की ख़ुराक दी जा रही है.
© UNICEF/Laxmi Prasad Ngakhusi

तीन दशकों में बाल टीकाकरण की सर्वाधिक सुस्त रफ़्तार, लाखों ज़िन्दगियों पर जोखिम

संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों द्वारा शुक्रवार को जारी किये गए आधिकारिक आँकड़े दर्शाते हैं कि बाल टीकाकरण दरों में निरन्तर दर्ज की जा रही गिरावट, पिछले 30 वर्षों में सबसे अधिक है. रिपोर्ट के अनुसार ढाई करोड़ से अधिक नवजात शिशु इन जीवनरक्षक टीकों से वंचित हैं. 

युगाण्डा के कम्पाला शहर का एक दृश्य.
IMF/Esther Ruth Mbabazi

कोरोनावायरस के नए रूप व प्रकारों को नज़रअन्दाज़ नहीं करने की चेतावनी

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के महानिदेशक टैड्रॉस एडहेनॉम घेबरेयेसस ने आगाह किया है कि विश्व भर में कोविड-19 संक्रमण मामलों और मृतक संख्या में आई कमी का अर्थ यह नहीं है कि वैश्विक महामारी का जोखिम कम हो गया है. 

ब्राज़ील के साओ पॉलो में 19 वर्षीय मोएसेस मासियेल दा सिल्वा को 18 वर्ष की उम्र में पता चला कि उन्हें एचआईवी संक्रमण है.
© UNICEF/Danielle Pereira

एचआईवी रोकथाम के लिये इंजेक्शन, दक्षिण अफ़्रीका व ब्राज़ील में शुरुआत

वैश्विक महामारियों का समाधान ढूंढने पर केन्द्रित यूएन एजेंसी – UNITAID ने ब्राज़ील और दक्षिण अफ़्रीका में एचआईवी संक्रमण के जोखिम का सामना कर रहे लोगों के लिये, इंजेक्शन के रूप में एक कारगर रोकथाम उपाय मुहैया कराए जाने की घोषणा की है. इस इजेंक्शन को हर दो महीने बाद, रोज़ मौखिक दवा लेने के विकल्प के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकता है.

रेडिएशन थेरेपी के लिये एक मरीज़ को तैयार किया जा रहा है.
IAEA/Dean Calma

कैंसर दिवस: उपचार व देखभाल में व्याप्त विषमताओं से निपटने पर बल

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने शुक्रवार, 4 फ़रवरी, को ‘विश्व कैंसर दिवस’ पर कैंसर देखभाल व उपचार में, मौजूदा वैश्विक विषमताओं की तरफ़ ध्यान आकृष्ट करते हुए, उन लोगों तक स्वास्थ्य सेवाएँ पहुँचाने का संकल्प व्यक्त किया है, जिनके लिये ये अभी तक सपना ही रही हैं. यूएन स्वास्थ्य एजेंसी और अन्तरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी (IAEA) ने इस मौक़े पर कैंसर सम्बन्धी सेवाओं को मज़बूती देने के इरादे से एक फ़्रेमवर्क भी पेश किया है.

कोलम्बिया के एक इलाक़े में कोविड-19 से बचाव के लिये टीकाकरण टीम.
WHO/PAHO/Nadege Mazars

कोविड-19: एक सप्ताह में सर्वाधिक संक्रमण मामलों की पुष्टि, ओमिक्रॉन का जोखिम बरक़रार

पिछले सप्ताह कोविड-19 संक्रमण मामलों की संख्या अपने रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई और विश्व भर में, दो करोड़ 10 लाख से अधिक मामले दर्ज किये गए. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने अपने साप्ताहिक अपडेट में आगाह किया है कि कोरोनावायरस के ओमिक्रॉन वैरीएण्ट से उपजा जोखिम अभी भी ऊँचे स्तर पर है.

इण्डोनेशिया के जयापुरा में एक स्वास्थ्यकर्मी महिला के रक्त में शुगर की जाँच करते हुए.
UNICEF/Shehzad Noorani

ग़ैर-संचारी बीमारियों की रोकथाम के लिये सर्वोत्तम उपायों में निवेश पर बल

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की एक नई रिपोर्ट दर्शाती है कि निम्न- और निम्नतर से मध्य आय वाले देशों में प्रति वर्ष, प्रति व्यक्ति एक डॉलर से भी कम अतिरिक्त निवेश करके, वर्ष 2030 तक लगभग 70 लाख मौतों की रोकथाम की जा सकती है. यूएन स्वास्थ्य एजेंसी ने ग़ैर-संचारी बीमारियों की रोकथाम व उपचार के नज़रिये से, तत्काल उपाय किये जाने पर बल दिया है. 

फ़िलिपीन्स में कोविड-19 से बचाव के लिये टीका लगाया जा रहा है.
© WHO/Blink Media/Hannah Reyes

कोविड-19: ओमिक्रॉन वैरीएण्ट से बड़े असर की आशंका, स्पष्ट जानकारी की प्रतीक्षा 

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के महानिदेशक टैड्रॉस एडहेनॉम घेबरेयेसस ने बुधवार को कहा है कि कोरोनावायरस के ओमिक्रॉन वैरीएण्ट के मामलों की अब तक 57 देशों में पुष्टि हो चुकी है और यह आँकड़ा बढ़ने की सम्भावना है. उन्होंने सचेत किया कि वायरस के इस रूप व प्रकार का फैलाव और उसमें होने वाले बदलाव, वैश्विक महामारी की दिशा को व्यापक रूप से प्रभावित कर सकते हैं.