यमन

यमन में सात साल के युद्ध के दौरान, बच्चों को भारी तकलीफ़ें उठानी पड़ी हैं.
©UNICEF/Owis Alhamdan

यमन: ‘ युद्ध के प्रबन्धन की नहीं, उसे ख़त्म करने की ज़रूरत’

यमन के लिये संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत हैंस ग्रण्डबर्ग ने सोमवार को कहा है कि शान्ति की दिशा में आवश्यक व निर्णायक क़दम उठाने में यमन की मदद करना, सुरक्षा परिषद की संयुक्त ज़िम्मेदारी है.

यमन के ताइज़ियाह इलाक़े में स्थित एक विस्थापन केन्द्र पर एक कथा पाठन सत्र में बच्चे.
IOM/Olivia Headon

यमन: युद्ध विराम समझौता 2 अक्टूबर तक और बढ़ा

यमन के लिये संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत हैंस ग्रण्डबर्ग ने मंगलवार को कहा है कि देश में गत अप्रैल से लागू ऐतिहासिक युद्धविराम समझौता अब, दो महीने के लिये और बढ़ा दिया गया है जो, अब 2 अक्टूबर तक लागू रहेगा. 

यमन के लिये संयुक्त राष्ट्र के विशेष प्रतिनिधि हैं ग्रूण्डबर्ग, देश में ताज़ा स्थिति के बारे में, सुरक्षा परिषद को अवगत कराते हुए.
UN Photo/Eskinder Debebe

यमन: ऐतिहासिक युद्ध विराम समझौते को आगे बढ़ाने का आग्रह

यमन में संयुक्त राष्ट्र के समर्थन से हासिल किये गए ऐतिहासिक युद्ध विराम समझौते को लागू हुए लगभग चार महीने पूरे हो गए हैं, और विशेष दूत हैंस ग्रूण्डबर्ग ने गुरूवार को यमन सरकार और हूथी विद्रोहियों से, इस “परिवर्तनकारी” समझौते को आगे बढाने की दिशा में काम करने का आग्रह किया है, जो 2 अगस्त को ख़त्म हो रहा है.

यमन की राजधानी सना में एक व्यक्ति अपनी तीन वर्षीय बेटी के साथ.
© UNOCHA/Giles Clarke

यमन: युद्धविराम समझौते में उपलब्धियों और चुनौतियों का विवरण सुरक्षा परिषद को

सुरक्षा परिषद को सोमवार को बताया गया है कि यमनी सरकार और हूथी विद्रोहियों के दरम्यान, संयुक्त राष्ट्र के समर्थन से हासिल किया गया युद्धविराम समझौता क़ायम तो है, मगर सड़कें खोले जाने का अहम मुद्दा अब भी अनसुलझा है, जबकि देश की मानवीय संकट की स्थिति और भी बदतर हो रही है.

यमन के अदन में ध्वस्त हो चुके शहर के मुख्य इलाक़े से गुज़रते बच्चे.
OCHA/Giles Clarke

यमन: अन्तरिम युद्धविराम की अवधि दो महीने के लिये बढ़ने का स्वागत

यमन में सरकार और हूथी विद्रोहियों के बीच अन्तरिम युद्धविराम समझौते की अवधि और दो महीनों के लिये बढ़ा दी गई है. यमन के लिये संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत हैन्स ग्रुण्डबर्ग ने गुरुवार को इस घोषणा का स्वागत किया है.

यमन के अदन में प्रवासियों ने एक इमारत में अस्थाई तौर पर शरण ली हुई है.
IOM/Rami Ibrahim

यमन में फँसे प्रवासियों से मुँह नहीं फेरना होगा – IOM

प्रवासन मामलों के लिये संयुक्त राष्ट्र एजेंसी ने इस वर्ष अब तक, हॉर्न ऑफ़ अफ़्रीका क्षेत्र की सीमा पार करके 27 हज़ार से अधिक लोगों के युद्धग्रस्त यमन पहुँचने पर, उनके सुरक्षा व कल्याण के प्रति चिन्ता व्यक्त की है. 

एफ़एसओ सेफ़र
Holm Akhdar

यमन: जर्जर तेल टैंकर के जोखिम से निपटने के लिये, 3.3 करोड़ डॉलर रक़म के संकल्प

अनेक देशों ने यमन के पश्चिमी तट के नज़दीक स्थित एक उम्र दराज़ और ख़स्ता हाल तेल टैंकर जहाज़ से पर्यावरणीय और मानवीय आपदा उत्पन्न होने से रोकने की ख़ातिर, संयुक्त राष्ट्र द्वारा संयोजित एक कार्यक्रम के लिये, बुधवार को क़रीब तीन करोड़ 30 लाख डॉलर की रक़म एकत्र करने के संकल्प व्यक्त किये हैं.

यमन के ख़ानफ़ार ज़िले में एक महिला रोटी बना रही है.
© WFP/ Saleh Hayyan

यमन: मानवीय संकट की रोकथाम के लिये 4.3 अरब डॉलर की दरकार 

यमन में संयुक्त राष्ट्र की मानवीय राहत टीम ने वर्ष 2022 के लिये अपनी ‘सहायता कार्रवाई योजना’ में क़रीब चार अरब 30 करोड़ डॉलर धनराशि की पुकार लगाई है. यूएन का कहना है कि लड़ाई में फ़िलहाल ठहराव के बावजूद, बद से बदतर होते हालात को रोकने के लिये मानवीय राहत प्रयास ज़रूरी हैं. 

यमन के मारिब शहर के पास विस्थापितों के लिये बनाए गए एक शिविर में कुछ बच्चियाँ.
© WFP/Annabel Symington

यमन: बच्चों की सुरक्षा के लिये हूथियों के नए संकल्प का स्वागत

संयुक्त राष्ट्र ने यमन में सशस्त्र संघर्ष से प्रभावित बच्चों की सुरक्षा के लिये एक कार्रवाई योजना पर दस्तख़त किये जाने की सराहना की है.

यमन के अल धलए में विस्थापितों के लिये बनाए गए शिविर में एक परिवार.
YPN for UNOCHA

यमन: 'युद्ध विराम समझौते की कामयाबी,पक्षों की प्रतिबद्धता पर निर्भर'

यमन के लिये संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत हैन्स ग्रुण्डबर्ग ने कहा है कि देश में रमदान महीने के साथ ही शनिवार, 2 अप्रैल को शुरू हुए दो महीने के युद्धविराम समझौते की कामयाबी के लिये, संकल्प व प्रतिबद्धता बहुत महत्वपूर्ण कारक साबित होंगे.