येरुशलम

येरुशलम के पुराने इलाक़े में स्थित एक घर से अल-अक़्सा मस्जिद का दृश्य.
Mya Guarnieri/IRIN

पूर्वी येरूशलम में हिंसा – अधिकतम संयम बरते जाने का आग्रह

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने क़ाबिज़ पूर्वी येरूशलम में जारी हिंसा और शेख़ जर्राह व सिलवान इलाक़ों में रह रहे फ़लस्तीनी परिवारों की उनके घरों से बेदख़ली की आशंका पर गहरी चिन्ता जताई है. ख़बरों के अनुसार बीती कुछ रातों से जारी हिंसक झड़पों में 200 से ज़्यादा फ़लस्तीनी और 17 इसराइली सुरक्षाकर्मी घायल हुए हैं.   

 

मध्य पूर्व मसले पर सुरक्षा परिषद की बैठक
यूएन फोटो/रिक बायोर्नस

‘शांति बहाली की उम्मीद क़ायम रखना साझा ज़िम्मेदारी’

इसराइल द्वारा क़ब्ज़ा किए हुए फ़लस्तीनी इलाक़ों पूर्वी येरुशलम और पश्चिमी तट में हिंसा बढ़ रही है और इसराइली अधिकारी अन्तरराष्ट्रीय क़ानून का उल्लंघन करते हुए लगातार फ़लस्तीनी घरों और संपत्ति को ध्वस्त करने के साथ-साथ ज़ब्त भी कर रहे हैं, और ऐसा इसराइली अधिकारी अन्तरराष्ट्रीय क़ानूनों का उल्लंघन करते हुए कर रहे हैं. मध्य पूर्व शांति प्रक्रिया के लिए संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत निकोलय म्लादेनॉफ़ ने बृहस्पतिवार को सुरक्षा परिषद को ये जानकारी दी.

फ़लस्तीनी राष्ट्रपति महमूद अब्बास संयुक्त राष्ट्र महासभा के 73वें सत्र को सम्बोधित करते हुए.
UN Photo/Cia Pak

‘येरूशलम नहीं है बिकाऊ…’

फ़लस्तीनी राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने कहा है कि एक स्वतंत्र और सम्प्रभु फ़लस्तीनी राष्ट्र के बिना मध्य पूर्व क्षेत्र में शान्ति स्थापित नहीं हो सकती.