व्यापार

कोविड-19: वैश्विक आर्थिक पुनर्बहाली की सुस्त होती रफ़्तार, यूएन की चेतावनी

संयुक्त राष्ट्र की एक नई रिपोर्ट दर्शाती है कि, वर्ष 2021 में सुधार के बावजूद, कोविड-19 संक्रमण मामलों की नई लहरों, श्रम बाज़ार व आपूर्ति श्रृंखला (सप्लाई चेन) में दर्ज व्यवधानों, और मुद्रास्फीति के बढ़ते दबावों के कारण, वैश्विक आर्थिक पुनर्बहाली के मार्ग में विशाल अवरोध पैदा हो गए हैं. 

कपास है 10 करोड़ से भी ज़्यादा परिवारों की आय का सहारा

कपास (कॉटन) की एक मीट्रिक टन मात्रा, औसतन पाँच लोगों को रोज़गार मुहैया कराती है, अक्सर दुनिया के सबसे ज़्यादा हाशिये वाले क्षेत्रों में; इस तरह कपास से, दुनिया भर में, कुल मिलाकर, लगभग 10 करोड़ परिवारों की आजीविका चलती है.

व्यापार एवँ विकास पर यूएन सम्मेलन – निर्बल देशों के लिये समर्थन बढ़ाने का आहवान

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने व्यापार एवँ विकास पर यूएन के एक सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए, कोविड-19 से पुनर्बहाली को टिकाऊ व समावेशी बनाने पर बल दिया है. बारबेडॉस की राजधानी ब्रिजटाउन में सोमवार को 'UNCTAD15' सम्मेलन की शुरुआत हुई है जिसमें यूएन प्रमुख ने कर्ज संकट पर पार पाने के लिये चार-सूत्री कार्रवाई योजना को पेश किया है. 

यूएन प्रमुख की बारबेडॉस यात्रा - चुनौतियों से निपटने में युवजन की भागीदारी पर बल

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने कहा है कि वो ये सुनिश्चित करने के लिये प्रतिबद्ध हैं कि संगठन में युवाओं की आवाज़ सुनी जाए और उनके सुझाव अपनाया जाएँ.  यूएन प्रमुख कैरीबियाई देश बारबेडॉस के दौरे पर हैं, जहाँ व्यापार एवँ विकास के मुद्दे पर संयुक्त राष्ट्र की एक अहम बैठक हो रही है. 

वैश्विक अर्थव्यवस्था में खासी तेज़ वृद्धि का अनुमान

संयुक्त राष्ट्र के व्यापार और विकास सम्मेलन (UNCTAD) ने कहा है कि इस वर्ष वैश्विक अर्थव्यवस्था में फिर से अच्छी बेहतरी के साथ, लगभग 5.3 प्रतिशत की वृद्धि की उम्मीद है, जोकि पिछले लगभग 50 वर्षों में सबसे तेज़ वृद्धि होगी.  

कोविड-19: वैश्विक अर्थव्यवस्था को भारी क्षति, मगर अपेक्षा से कम असर

संयुक्त राष्ट्र के व्यापार और विकास संगठन – UNCTAD ने कहा है कि कोविड-19 महामारी ने वर्ष 2020 के दौरान, दुनिया भर में तमाम देशों की अर्थव्यवस्थाओं को बुरी तरह प्रभावित किया है, जिसमें ट्रिलियनों डॉलर के बराबर आय का नुक़सान हुआ. संगठन ने गुरूवार को हालाँकि ये भी बताया है कि कुछ देशों ने, किस तरह अनपेक्षित सहनक्षमता दिखाई है.

पूर्व एशियाई अर्थव्यवस्थाओं ने वैश्विक व्यापार को दिया सहारा 

संयुक्त राष्ट्र के विश्लेषकों का कहना है कि पूर्व एशिया और प्रशान्त क्षेत्र में स्थित देशों की अर्थव्यवस्थाओं की सुदृढ़ता और मज़बूती के बिना, वर्ष 2020 के अन्तिम महीनों में वैश्विक व्यापार में बेहतरी सम्भव नहीं थी.  

एशिया-प्रशान्त में भी व्यापार पर कोविड का असर, मगर बाक़ी दुनिया से कम

संयुक्त राष्ट्र के एक विकास संगठन (ESCAP) ने कहा है कि कोविड-19 महामारी और लम्बे समय से चले आ रहे व्यापार तनावों के कारण, वर्ष 2020 के दौरान, वैश्विक व्यापार में आई भारी गिरावट के बावजूद, एशिया और प्रशान्त में, बाक़ी दुनिया की तुलना में, कुछ कम असर हुआ है. 

नए एशियाई व्यापार समूह की निवेश बढ़ाने में हो सकती है अहम भूमिका

एशिया-प्रशान्त क्षेत्र के एक व्यापक हिस्से में फैला हुआ नया व्यापार समूह (Trade bloc) निर्धन अर्थव्यवस्थाओं में विकास सम्भव बनाने और कोविड-19 महामारी के गुज़रने के बाद अर्थव्यवस्थाओं में स्फूर्ति भरने में अहम भूमिका निभा सकता है. व्यापार एवँ विकास पर संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन (UNCTAD) द्वारा सोमवार को प्रकाशित एक नई रिपोर्ट में यह बात कही गई है. 

कोविड-19 ने बदली ऑनलाइन शॉपिंग की तस्वीर, नया सर्वेक्षण

उभरती हुई और विकसित अर्थव्यवस्थाओं वाले देशों में हुआ एक नया सर्वेक्षण दर्शाता है कि विश्वव्यापी महामारी कोविड-19 ने ऑनलाइन ख़रीदारी के रूप को हमेशा के लिये बदल दिया है और यह रुझान बरक़रार रहने की सम्भावना है. व्यापार एवँ विकास पर संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन (UNCTAD) और साझीदार संगठनों द्वारा नौ देशों में साढ़े तीन हज़ार से ज़्यादा उपभोक्ताओं पर आधारित इस सर्वेक्षण में यह तस्वीर उभरी है.