विश्व

दारफ़ूर में संयुक्त राष्ट्र सहायता मिशन के शान्तिरक्षक दक्षिणी इलाक़े में सुरक्षा चौकसी मुहैया कराते हुए.
UN Photo/Albert González Farran

2020 पर एक नज़र, तस्वीरों के ज़रिये...

वर्ष 2020, कोरोनावायरस महामारी के प्रकोप के कारण, बेशक, मानवता के इतिहास में, एक और असाधारण व ऐतिहासिक पड़ाव कहा जाएगा. कोविड-19 महामारी ने पूरी दुनिया में लोगों की ज़िन्दगियों में तूफ़ान खड़ा कर दिया, जिसने पूरी इनसानियत को जीवन व पृथ्वी के वजूद के बारे में, पुनर्विचार करने पर मजबूर कर दिया.

 

'यूएन फ़ोटो' ने वर्ष 2020 की यात्रा को कुछ तस्वीरों के ज़रिये दिखाने की कोशिश की है...

UN News/Ben Dotsei Malor

साक्षात्कार: समान और न्यायपूर्ण दुनिया ही वक़्त की ज़रूरत - यूएन प्रमुख

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने यूएन न्यूज़ के साथ एक ख़ास बातचीत में कोविड-19 के प्रसार पर चिन्ता जताई है और महामारी के बाद बेहतर पुनर्निर्माण, सतत पुनर्बहाली, समानता व बहुपक्षवाद बढ़ाने पर ज़ोर दिया है. संयुक्त राष्ट्र की 75वीं वर्षगाँठ और महासभा के 75वें सत्र के मौक़े पर दिये इस साक्षात्कार में महासचिव ने एक समान व न्यायपूर्ण व टिकाऊ दुनिया के निर्माण का आहवान किया है.

यूएन महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने अपनी और संगठन की वर्ष 2020 के लिए प्राथमिकताओं के बारे में मंगलवार, 4 फ़रवरी 2020 को प्रेस वार्ता में पत्रकारों को जानकारी दी.
UN Photo/Mark Garten

'पागलपन की आँधी से बढ़ती अस्थिरता के संकेत'

यूएन प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने कहा है कि पूरी दुनिया में बढ़ती अस्थिरता और अनपेक्षित भू-राजनैतिक तनावों ने पागलपन की एक आँधी को जन्म दिया है. उन्होंने न्यूयॉर्क स्थित यूएन मुख्यालय में मंगलवार को पत्रकारों के लिए अपनी मुख्य वार्षिक प्रेस वार्ता के दौरान ये बात कही.