के द्वारा छनित:

विकास

संयुक्त राष्ट्र महासचिव के लीबिया विशेष प्रतिनिधि अब्दुलाए बथिली, देश की स्थिति के बारे में सुरक्षा परिषद को सम्बोधित करते हुए (24 अक्टूबर 2022).
UN Photo/Loey Felipe

लीबिया: राजनैतिक गतिरोध जारी, समाधान की निकट सम्भावना नहीं

लीबिया के लिये यूएन महासचिव के विशेष दूत और देश में संयुक्त राष्ट्र समर्थन मिशन (UNSMIL) के मुखिया अब्दुलाए बथिली ने सोमवार को सुरक्षा परिषद को बताया है कि देश में अब भी राजनैतिक गतिरोध बरक़रार है और चुनाव कराए जाने की सम्भावना बहुत कम नज़र आती है.

केनया की राजधानी नैरोौबी में नवनिर्मित आवासी इकाइयों का एक दृश्य.
© UN-Habitat /Julius Mwelu

नगरों में चुनौतियों पर पार पाने के लिये, ज़्यादा कार्रवाई व संसाधनों की आवश्यकता

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने सोमवार को विश्व पर्यावास दिवस पर कहा है कि मौजूदा चुनौतियों की लहर पर पार पाने में मदद के लिये, “ज़्यादा तत्काल कार्रवाई और कहीं ज़्यादा संसाधन निवेश” किया जाना अहम कुंजी है.

संयुक्त राष्ट्र महिला संस्था (UNWOMEN) की कार्यकारी निदेश व संयुक्त राष्ट्र की सहायक महासचिव, अनिता भाटिया ने 'महिला, तकनीक और एसडीजी: परिवर्तन के रास्ते को दोबारा आकार देना' शीर्षक पर आयोजित एक चर्चा में हिस्सा लिया.
UN News

एसडीजी पर चर्चा: महिलाओं, डिजिटल कौशल और समावेशी, हरित विकास को गति

भारत में संयुक्त राष्ट्र कार्यालय, रिलायंस फाउण्डेशन व ऑब्ज़र्वर रिसर्च फाउण्डेशन ने, न्यूयॉर्क स्थित यूएन मुख्यालय में, महासभा की उच्चस्तरीय जनरल डिबेट सप्ताह के दौरान शुक्रवार को, मिलकर दो कार्यक्रम आयोजित किये, जिसमें एसडीजी प्राव्ति में भारत के अनुभवों पर विस्तार से चर्चा हुई और हरित विकास के लिये बेहतर वित्तपोषण का आहवान किया गया.

यूएन महासभा के 77वें सत्र के दौरान, भारत - यूएन साझेदारी दिखाने के लिये, एक कार्यक्रम न्यूयॉर्क में 24 सितम्बर को आयोजित किया गया.
UN News

भारत-यूएन साझेदारी, सहयोग की मज़बूत मिसाल, यूएन प्रमुख

भारत ने संयुक्त राष्ट्र के साथ अपनी विकास साझेदारी को रेखांकित करने के लिये, देश की स्वतंत्रत्रता की 75वीं वर्षगाँठ के समारोहों के तहत, शनिवार 24 सितम्बर को, न्यूयॉर्क में एक कार्यक्रम आयोजित किया जिसमें संयुक्त राष्ट्र के शीर्ष अधिकारियों के साथ-साथ, विभिन्न देशों की अहम हस्तियों ने शिरकत की. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने इस कार्यक्रम को भेजे अपने सन्देश में कहा कि भारत – यूएन साझेदारी, सहयोग का एक मज़बूत उदाहरण है, जिसे आगे बढ़ाया जा सकता है. इस कार्यक्रम की वीडियो रिकॉर्डिंग यहाँ देखी जा सकती है. 

टिकाऊ विकास लक्ष्यों के लिये वर्ष 2022 के 17 विश्व पैरोकारों की तस्वीरों का संकलन.
Office of the Secretary-General's Envoy on Youth

संयुक्त राष्ट्र के 17 नए एसडीजी चैम्पियन

संयुक्त राष्ट्र ने बुधवार को, टिकाऊ विकास लक्ष्यों के लिये वर्ष 2022 के युवा नेताओं के समूह की घोषणा की है. इन युवाओं को, पृथ्वी और लोगों के बेहतर भविष्य की ख़ातिर विशेष प्रयास करने के लिये सम्मानित किया गया है.

यूएन महासचिव एंतोनियो गुटेरेश, 16 सितम्बर को अन्तरराष्ट्रीय शान्ति दिवस के अवसर पर, यूएन मुख्यालय में एक समारोह के दौरान, शान्ति घंटी को बजाते हुए.
UN Photo/Mark Garten

अन्तरराष्ट्रीय शान्ति दिवस: ‘युद्ध विष’ से बचने और ‘शान्ति पुकार’ बुलन्द करने का आग्रह

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने अन्तरराष्ट्रीय शान्ति दिवस के अवसर पर, शुक्रवार को यूएन मुख्यालय में स्थित शान्ति घंटी को बजाते हुए, “युद्ध विष” से बचने और शान्ति की पुकार बुलन्द करने का आहवान किया है.

कुछ बच्चे अपने स्कूल में, खिड़की से झाँकते हुए.
© UNESCO/Yayoi Segi-Vltchek

शिक्षा संरक्षण दिवस: स्कूलों को ‘शान्ति व शिक्षा’ के स्थल बने रहने देने की पुकार

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने शुक्रवार को अन्तरराष्ट्रीय शिक्षा संरक्षण दिवस पर ज़ोर देते हुए कहा है कि शिक्षा एक मूलभूत मानवाधिकार है और “शान्ति व टिकाऊ विकास की प्राप्ति के लिये एक अनिवार्य उत्प्रेरक भी है.”

संयुक्त राष्ट्र की उप महासचिव आमिना जे मोहम्मद टिकाऊ विकास पर ज़िम्बाब्वे में छठे अफ्रीकी क्षेत्रीय फ़ोरम में उदघाटन सम्बोधन करते हुए.
ECA

यूएन उप प्रमुख की ट्यूनीशिया यात्रा के दौरान, एसडीजी और शिक्षा की महत्ता रेखांकित

संयुक्त राष्ट्र की उप प्रमुख आमिना जे मोहम्मद ने रविवार को ट्यूनीशिया के राष्ट्रपति काइस सईद के साथ मुलाक़ात के दौरान, टिकाऊ विकास लक्ष्यों की निरन्तर प्रासंगिकता को रेखांकित किया है.

स्पेन के बार्सिलोना में एक तूफ़ान उठता हुआ.
© WMO/Carlos Castillejo Balsera

जलवायु कार्रवाई को शक्ति देने के लिये, नई यूएन वित्तीय पहल

मौसम और जलवायु पूर्वानुमान को मज़बूत करने, जीवनरक्षक पूर्व चेतावनी प्रणालियों को बेहतर बनाने, कामकाज व रोज़गार की हिफ़ाज़त करने, और दीर्घकालीन निगरानी के लिये जलवायु अनुकूलन को रेखांकित करने के लिये, संयुक्त राष्ट्र के नेतृत्व में एक नई वित्तीय पहल, गुरूवार को आधिकारिक रूप में सक्रिय हो गई है.

अफ़ग़ानिस्तान के एक क्लीनिक में बैठी कुछ महिलाएँ.
© UNICEF/Alessio Romenzi

अफ़ग़ानिस्तान: महिलाओं के भविष्य के लिये मज़बूत समर्थन की आवश्यकता

संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी - UNHCR की उप उच्चायुक्त, कैली टी क्लैमेण्ट्स ने अफ़ग़ानिस्तान संकट, महिलाओं के अधिकारों और सभी बच्चों की शिक्षा तक पहुँच पर अधिक ध्यान आकर्षित करने के लिये, अफ़ग़ानिस्तान का दौरा किया.