वायु गुणवत्ता

बिजली संयंत्रों से होने वाला वायु प्रदूषण वैश्विक तापमान में वृद्धि करता है.
Unsplash/Maxim Tolchinskiy

'नीले आकाश के लिये स्वच्छ वायु का अन्तरराष्ट्रीय दिवस’, यूएन प्रमुख का सन्देश

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने बुधवार, 7 सितम्बर, को ‘नीले आकाश के लिये स्वच्छ वायु का अन्तरराष्ट्रीय दिवस’ के अवसर पर स्वच्छ वायु व स्वस्थ प्रकृति को एक मानवाधिकार के रूप में रेखांकित किया है. उन्होंने सभी देशों से एक साथ मिलकर वायु प्रदूषण से निपटने और विश्व स्वास्थ्य संगठन की वायु गुणवत्ता दिशानिर्देशों को अमल में लाने की पुकार लगाई है. 

मंगोलिया के उलानबाटर में कोयला-चालित बिजली संयंत्रों में उत्सर्जन से वायु प्रदूषण
ADB/Ariel Javellana

प्रदूषण और जलवायु परिवर्तन की दोहरी चुनौती, ‘जलवायु दण्ड’ के जोखिम में वृद्धि

विश्व मौसम विज्ञान संगठन (WMO) ने अपनी एक नई रिपोर्ट में आगाह किया है कि ताप लहरों की आवृत्ति, गहनता और अवधि बढ़ने से ना केवल इस सदी में जंगलों में आग लगने की घटनाएँ बढ़ेंगी, बल्कि वायु गुणवत्ता भी बद से बदतर हो जाने की आशंका है. यूएन एजेंसी बुधवार, 7 सितम्बर, को ‘नीले आकाश के लिये स्वच्छ वायु का अन्तरराष्ट्रीय दिवस’ के अवसर पर मानव स्वास्थ्य और पारिस्थितिकी तंत्रों के लिये बढ़ते जोखिम के प्रति ध्यान आकृष्ट किया है. 

कोविड-19 के दौरान लागू हुई तालाबन्दियों से सियोल सहित अनेक शहरों में वातावरण में स्वच्छ हवा देखी गई.
Unsplash/Geonhui Lee

कोविड-19 के दौरान तालाबन्दियों से वायु गुणवत्ता में अल्पकालीन सुधार

कोविड-19 महामारी के दौरान लागू की गई तालाबन्दियों से, दुनिया के कुछ हिस्सों में वायु गुणवत्ता में तेज़ी से अभूतपूर्व सुधार दर्ज किया गया, मगर वैश्विक तापमान में बढ़ोत्तरी की वजह से होने वाले जलवायु परिवर्तन को थामने के लिये ये पर्याप्त नहीं हैं. 

शाम के धुँधलके और प्रदूषण की चादर में चीन के शन्घाई शहर की एक तस्वीर.
© UNICEF/Roger LeMoyne

वैश्विक पर्यावरणीय संकटों से निपटने के लिये वायु गुणवत्ता में सुधार ज़रूरी

संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (UNEP) की एक नई रिपोर्ट में वायु की गुणवत्ता को बेहतर बनाये जाने पर बल दिया गया है ताकि पृथ्वी पर मंडराते तीन बड़े संकटों – जलवायु परिवर्तन, जैवविविधता को नुक़सान और प्रदूषण व कचरे – से निपटने में मदद मिल सके.