उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश के फतेहपुर ज़िले में गौसपुर गाँव की महिलाएँ, जो ‘टेक-होम’ पौष्टिक राशन के उत्पादन में लगी हैं.
WFP India/Parvinder Singh

भारत: पोषण के साथ महिला सशक्तिकरण

भारत में विश्व खाद्य कार्यक्रम (WFP) ने महिला सशक्तिकरण के लिये एक अनूठी परिवर्तनकारी पहल शुरू की है, जिसके तहत ‘टेक-होम’ राशन उत्पादन इकाइयों के संचालन में स्थानीय समुदाय की महिलाओं को शामिल किया जा रहा है. इसी पर पहल पर, भारत में विश्व खाद्य कार्यक्रम के संचार प्रमुख, परविन्दर सिंह का ब्लॉग.

कृष्णादत्तपुर गाँव में महिलाओं के नेतृत्व वाला किसान उत्पादक समूह.
UNDP India

भारत: खेत से बाज़ार तक, महिला किसानों का नेतृत्व

संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (UNDP) ने वर्ष 2020 में, उत्तर प्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन (UPSRLM) के साथ साझेदारी में, कृषक परिवारों की महिलाओं को अपनी फ़सलें, खेत से बाज़ार तक पहुँचाने में अग्रणी भूमिका निभाने के लिये, एक परियोजना शुरू की थी. परिणामस्वरूप, ये ग्रामीण महिलाएँ, आज न केवल रूढ़ियाँ तोड़कर कृषि आपूर्ति श्रृँखला में बढ़-चढ़कर आगे आई हैं, बल्कि इससे उनकी आमदनी भी बढ़ी है.

WFP India

गर्भवती महिलाओं और बच्चों के लिये पोषक पदार्थ

Take home rations ऐसे ऊर्जावान खाद्य पदार्थ होते हैं, जो पोषण सुनिश्चित करने के मक़सद से बच्चों और गर्भवती महिलाओं को खिलाए जाते हैं.

संयुक्त राष्ट्र विश्व खाद्य कार्यक्रम और भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के ग्रामीण आजीविका मिशन के बीच हाल ही में एक समझौते पर हस्ताक्षर हुए, जिसके तहत बच्चों और गर्भवती महिलाओं को स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से take home rations उपलब्ध कराए जाएँगे.

इसके बारे में विस्तृत जानकारी के लिये यूएन न्यूज़ की अंशु शर्मा ने बातचीत की, भारत में विश्व खाद्य कार्यक्रम में पोषण विशेषज्ञ, डॉक्टर शरीक़ा यूनुस के साथ. 

ऑडियो
8'49"