के द्वारा छनित:

UNESCO

कुछ बच्चे अपने स्कूल में, खिड़की से झाँकते हुए.
© UNESCO/Yayoi Segi-Vltchek

शिक्षा संरक्षण दिवस: स्कूलों को ‘शान्ति व शिक्षा’ के स्थल बने रहने देने की पुकार

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने शुक्रवार को अन्तरराष्ट्रीय शिक्षा संरक्षण दिवस पर ज़ोर देते हुए कहा है कि शिक्षा एक मूलभूत मानवाधिकार है और “शान्ति व टिकाऊ विकास की प्राप्ति के लिये एक अनिवार्य उत्प्रेरक भी है.”

एक 12 वर्षीय लड़का अफ़ग़ानिस्तान के एक पश्चिमी प्रान्त - उरुज़गान में केले बेचते हुए.
© UNICEF

UNESCO: 24.4 करोड़ बच्चे स्कूली शिक्षा से वंचित, शिक्षा में बदलाव की पुकार

संयुक्त राष्ट्र के शैक्षिक, वैज्ञानिक और सांस्कृति संगठन – UNESCO ने गुरूवार को कहा है कि अनेक देशों में स्कूली शिक्षा का नया वर्ष शुरू हो रहा है, मगर शिक्षा की उपलब्धता में मौजूद विषमताएँ, लगभग 24 करोड़ 40 लाख बच्चों को, स्कूली शिक्षा से वंचित रख रही हैं.

कंप्यूटर साक्षरता और नैतिकता वर्ग के दौरान एक लड़की अपनी नोटबुक से पढ़ती है
यूनेस्को/जोशुआ एस्टे

समावेश को बढ़ावा देने पर केन्द्रित, साक्षरता कार्यक्रमों को यूनेस्को सम्मान

संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक एवं सांस्कृतिक संगठन - UNESCO ने 8 सितम्बर को मनाए जाने वाले ‘अन्तरराष्ट्रीय साक्षरता दिवस’ के अवसर पर, अन्तरराष्ट्रीय साक्षरता पुरस्कारों के विजेताओं के रूप में ब्राज़ील, भारत, मलेशिया, दक्षिण अफ्रीका, संयुक्त अरब अमीरात और ब्रिटेन के छह उत्कृष्ट साक्षरता कार्यक्रमों का चयन किया है.

यूनेस्को, पत्रकारों और पत्रकारिता से सम्बन्धित काम करने वाले कर्मियों की सुरक्षा को सक्रियता के साथ बढ़ावा देता है.
Unsplash/Engin Akyurt

मीडिया: पाकिस्तान में पत्रकार इश्तियाक़ सोधरो की हत्या की जाँच की मांग

संयुक्त राष्ट्र के शैक्षिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन - UNESCO की महानिदेशक ऑड्री अज़ूले ने पाकिस्तान के सिन्ध प्रान्त के ख़ैरपुर में, 1 जुलाई को स्थानीय पत्रकार इश्तियाक़ सोधरो की हत्या की जाँच की मांग की है.

भारत के गुजरात में एक 13 वर्षीय लड़की, गणित का एक सवाल हल करते हुए.
© UNICEF/Mithila Jariwala

गणित में लड़कों के बराबर पहुँच रही हैं लड़कियाँ, मगर बाधाएँ बरक़रार, यूनेस्को

संयुक्त राष्ट्र ने लैंगिक समानता और अवसरों के लिये वैश्विक जद्दोजेहद में बुधवार को एक सकारात्मक ख़बर प्रकाशित की है जिसमें पता चलता है कि गणित के मामले में लड़कियाँ भी अब कक्षाओं में लड़कों की ही तरह अच्छा प्रदर्शन कर रही हैं, अलबत्ता अब भी बहुत से कारक लड़कियों के रास्ते में बाधाएँ खड़ी कर रहे हैं.

विश्व हिन्दी दिवस हर वर्ष, 10 जनवरी को मनाया जाता है.
World Hindi Secretariat (screenshot)

विश्व हिन्दी दिवस: बहुभाषावाद में हिन्दी का व्यापक योगदान रेखांकित

विश्व भर में हिन्दी के प्रयोग को बढ़ावा देने के उद्देश्य से, हर वर्ष 10 जनवरी को, विश्व हिन्दी दिवस मनाया जाता है. संयुक्त राष्ट्र के शैक्षिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन – यूनेस्को ने भी हिन्दी को अपनी एक आधिकारिक भाषा बनाया हुआ है. यूनेस्को ने इस वर्ष के विश्व हिन्दी दिवस पर, हिन्दी को, विभिन्न देशों के लोगों को आपस में जोड़ने में एक सूत्रधार का काम करने वाली भाषा क़रार दिया है और आशा व्यक्त की है कि हिन्दी जल्द ही, यूनेस्को की एक कामकाजी भाषा भी बन सकेगी.

बांग्लादेश में, एक यूनीसेफ़ समर्थित स्कूल में, एक विकलांग बच्ची अपनी शिक्षा प्रगति दर्शाते हुए.
UNICEF/Tapash Paul

यूनेस्को की नई शिक्षा रिपोर्ट में, एक 'नए सामाजिक अनुबन्ध' की पुकार

संयुक्त राष्ट्र के शैक्षिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन – यूनेस्को ने 2050 तक शिक्षा के एक नए भविष्य की कल्पना करते हुए तीन प्रश्न उठाए हैं: क्या जारी रहे? क्या छोड़ दिया जाए? और किस क्षेत्र में, नए सिरे से रचनात्मक अन्वेषण की आवश्यकता है?

आईसीटी साक्षरता, शिक्षकों के लिये प्रमुख दक्षताओं में से एक के रूप में उभरी है, विशेष रूप से कोविड-19 महामारी के मद्देनज़र.
Vaibhav Gadekar

सतत विकास की कुंजी है शिक्षा

संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन (UNESCO) ने भारत में, वर्तमान स्थिति में, शिक्षा प्रणाली में शिक्षकों की महत्वपूर्ण भूमिका के मद्दनेज़र, देश की शिक्षा की स्थिति पर 2021 की रिपोर्ट ‘स्टेट ऑफ द एजुकेशन रिपोर्ट’ (SOER) जारी की है. “शिक्षकों के बिना, कक्षा सम्भव नहीं" नामक यह रिपोर्ट, शिक्षकों, शिक्षण और शिक्षा पर विशेष ध्यान केन्द्रित करती है. एक वीडियो रिपोर्ट...

रंजीतसिंह डिसले के प्रयासों के फलस्वरूप परीतेवाड़ी में बाल-विवाह पर रोक लगाने में मदद मिली है और विद्यालय में छात्र-छात्राओं की 100 फ़ीसदी उपस्थिति है.
Vaibhav Gadekar

रंजीतसिंह डिसले  - शिक्षा बाँटने वाले अदभुत अध्यापक

ब्रिटेन के वर्के फ़ाउण्डेशन और संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक एवँ सांस्कृतिक संगठन (यूनेस्को) ने हाल ही में, भारत में महाराष्ट्र प्रदेश के एक सरकारी स्कूल में अध्यापक, रंजीतसिंह डिसले  को, ‘वैश्विक शिक्षक पुरस्कार’ (Global Teacher Prize) से सम्मानित किया है. यह सम्मान उन अध्यापकों को दिया जाता है जो शिक्षा प्रदान करने के दायित्व को पूरा करते हुए, सामान्य चलन से आगे बढ़कर कुछ अलग कर दिखाते हैं.

ऑडियो
14'17"
भारत के मुम्बई में एक लड़की सामुदायिक स्नानघर में हाथ धो रही है.
© UNICEF/Dhiraj Singh

माहवारी स्वच्छता को बढ़ावा - लड़कियों की शिक्षा जारी रखने की मुहिम

संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक एवँ सांस्कृतिक संस्था (UNESCO) ने, भारत में स्त्री देखभाल उत्पाद बनाने वाली कम्पनी, 'व्हिस्पर' (Whisper) के साथ मिलकर #KeepGirlsInSchool अभियान शुरू किया है, जिसका उद्देश्य, किशोरियों में, माहवारी सम्बन्धित पूर्वाग्रहों और स्वच्छता जानकारी के अभाव में, उनके स्कूल छोड़ने की बढ़ती दर पर रोक लगाना है. इस मुहिम के तहत, स्कूली पाठ्यक्रम में माहवारी स्वच्छता व जागरूकता पर पाठन सामग्री विकसित करने की भी योजना है.