सुरक्षा

यमन में राजनैतिक समाधान के लिए उम्मीदें नज़र आईं

यमन में जारी संकट का राजनैतिक समाधान निकालने के लिए प्रयासों ने गति पकड़ी है और संघर्षरत पक्षों के बीच अनेक मुद्दों पर समझौते होने के आसार नज़र आ रहे हैं. यमन के लिए संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत मार्टिन ग्रिफ़िथ्स ने शुक्रवार को सुरक्षा परिषद को ताज़ा हालात की जानकारी देते हुए ये बात कही है. 

लीबिया में अब भी मानवाधिकार उल्लंघन, हिंसा और अत्याचारों का सिलसिला जारी

अंतरराष्ट्रीय आपराधिक न्यायालय ने सुरक्षा परिषद को बताया है कि लीबिया में क़रीब एक दशक पहले जब से न्यायालय ने काम शुरू किया है तब से अभी तक हिंसा के दौर, अत्याचार और क़ानून की बेपरवाही का माहौल ज्यों का त्यों बना हुआ है. अंतरराष्ट्रीय आपराधिक न्यायालय की मुख्य अभियोजक फ़तू बेनसूदा ने बुधवार को अपनी वार्षिक रिपोर्ट सुरक्षा परिषद में पेश करते हुए कहा कि “लीबिया में हिंसा में बढ़ोत्तरी हुई है.”

लड़ाई-झगड़ों में पर्यावरण को नुक़सान पहुँचाने के चलन को रोकना होगा

अगर दुनिया को इस पृथ्वी और इस पर बसने वाले सभी इंसानों और जीव-जंतुओं के लिए एक टिकाऊ भविष्य का लक्ष्य हासिल करना है तो युद्धों और संघर्ष के हालात में पर्यावरण को महफ़ूज़ रखने के लिए ज़्यादा कार्रवाई करनी होगी. ये चेतावनी भरे शब्द संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम की मुखिया इन्गा एंडरसन ने बुधवार को युद्ध व सशस्त्र संघर्ष में पर्यावरण को नुक़सान पहुँचाने से रोकने के लिए मनाए जाने वाले अंतरराष्ट्रीय दिवस के मौक़े पर कहे.

कमज़ोर महिलाओं की आवाज़ में दम भरने वाली महिला पुलिस अधिकारी को सम्मान

शांतिरक्षा की ज़िम्मेदारी निभाने की बुनियाद में निहित होता है मिलजुलकर काम करने का असीम जज़्बा. ये कहना है कि संयुक्त राष्ट्र के शांतिरक्षा अभियानों के प्रमुख ज्याँ पियर लाकोआ का जिन्होंने मंगलवार को संयुक्त राष्ट्र वर्ष 2019 का सर्वश्रेष्ठ महिला पुलिस अधिकारी का सम्मान सेनेगल मूल की पुलिस अधिकारी मेजर सिनाबिओ डिऔफ़ को प्रदान करते हुए ये शब्द कहे.

यूएन वार्षिक सर्वश्रेष्ठ महिला पुलिस अधिकारी सम्मान - सेनेगल अधिकारी को

महिलाओं के ख़िलाफ़ हिंसा को रोकने के प्रयासों के लिए 2019 की संयुक्त राष्ट्र सर्वश्रेष्ठ महिला पुलिस अधिकारी का पुरस्कार मेजर सेयनाबोऊ डीयूफ़ को मिलने पर शीर्ष पुलिस सलाहकार लुइ कार्रिल्हो का कहना था – वो हम सभी के लिए एक प्रेरणा हैं. इस पुरस्कार के विजेताओं की घोषणा शुक्रवार, 1 नवंबर को की गई जिसमें मेजर सेयनाबोऊ डीयूफ़ विजेता रहीं.