सुरक्षा

‘महामारी’ के रूप में उभरती मुस्लिम-विरोधी नफ़रत, कार्रवाई का आग्रह 

संयुक्त राष्ट्र के एक स्वतन्त्र मानवाधिकार विशेषज्ञ ने कहा है कि इस्लाम के नाम पर किये गए  11 सितम्बर, 2001 के हमलों और अन्य भयावह आतंकवादी कृत्यों को अंजाम दिये जाने के बाद से, मुसलमानों को संदिग्ध नज़र से देखे जाने की समस्या महामारी का आकार ले रही है. धर्म या आस्था की आज़ादी पर यूएन के विशेष रैपोर्टेयर अहमद शहीद ने, गुरुवार को, मानवाधिकार परिषद को सम्बोधित करते हुए, देशों का आहवान किया है कि मुसलमानों के साथ भेदभाव पर अंकुश लगाने के लिये उपाय सुनिश्चित किये जाने होंगे. 

अफ़ग़ानिस्तान में, शान्ति वार्ता शुरू होने के बाद से, हताहतों की संख्या बढ़ी

संयुक्त राष्ट्र की मंगलवार को जारी एक मानवाधिकार रिपोर्ट में कहा गया है कि अफ़ग़ानिस्तान में, सितम्बर 2020 में, शान्ति वार्ता शुरू होने के बाद से, देश में हताहत हुए आम लोगों की संख्या में तीव्र बढ़ोत्तरी हुई है. अलबत्ता, पूरे वर्ष 2020 के दौरान, हताहतों की संख्या में, उससे पहले के वर्ष की तुलना में, कुछ कमी दर्ज की गई है.

काँगो: 30 लाख बच्चों का जीवन और भविष्य जोखिम में, यूनीसेफ़ की चेतावनी

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष – यूनीसेफ़ ने काँगो लोकतान्त्रिक गणराज्य (डीआरसी) में, विस्थापित लगभग 30 लाख बच्चों की गम्भीर स्थिति की तरफ़ ध्यान आकर्षित किया है जिन्हें लड़ाकों की क्रूर हिंसा और अत्यन्त गम्भीर भुखमरी का सामना करना पड़ रहा है.

कोविड से उत्पन्न हालात में, दाएश फिर सक्रिय, अन्तरराष्ट्रीय शान्ति व सुरक्षा के लिये ख़तरा

संयुक्त राष्ट्र के आतंकवाद निरोधक मामलों के प्रमुख व्लादिमीर वोरोन्कॉफ़ ने बुधवार को सुरक्षा परिषद को बताया है कि दाएश यानि आइसिल आतंकवादी लड़ाकों द्वारा, अन्तरराष्ट्रीय शान्ति व सुरक्षा के लिये पेश ख़तरा, फिर से बढ़ रहा है.

अफ़ग़ानिस्तान: एक बिटिया को जन्म देने वाली माँ की उम्मीदें और डर...

अफ़ग़ानिस्तान में, एक माँ, कुछ ही दिनों में, इस दुनिया में आने वाली अपनी बेटी के लिये, एक ऐसे देश में, अपनी उम्मीदों और डर के बारे में बात कर रही हैं जहाँ एक लड़की को जन्म देना, आशीर्वाद समझने के बजाय, एक अभिशाप भी समझा जा सकता है. देश के, पुरुष प्रधान समाज में, अक्सर महिलाएँ और लड़कियाँ, पुरुषों के हाथों, बुरे बर्ताव और प्रताड़ना का सामना करती हैं, लड़कियों की तुलना में, लड़के ज़्यादा पसन्द किये जाते हैं और उन्हें ज़्यादा अहमियत दी जाती है.

टिगरे में संकट दूर करने के लिये तत्काल प्रयासों की ज़रूरत, यूएन प्रमुख

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने इथियोपिया के टिगरे क्षेत्र में जारी संकट पर गम्भीर चिन्ताएँ व्यक्त की हैं और जोखिम का सामना कर रही आबादी की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिये तत्काल प्रयासों की आवश्यकता पर बल दिया है. 

'यूएन और अरब लीग के बीच सहयोग अति महत्वपूर्ण'

संयुक्त राष्ट्र के राजनैतिक मामलों की प्रमुख रोज़मैरी डी कार्लो ने कहा है कि सीरिया में जारी युद्ध का हल निकालने, इसराइल और फ़लस्तीनियों के बीच दो राष्ट्रों की स्थापना का समाधान निकालने और अन्य चुनौतियों का सामना करने के मुद्दों पर, संयुक्त राष्ट्र और अरब लीग के बीच सहयोग, बहुत महत्वपूर्ण रहा है.

निजेर में, दो गाँवों पर हुए जानलेवा हमलों की तीखी भर्त्सना

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने शनिवार को, निजेर के पश्चिमी क्षेत्र के दो गाँवों में, कुछ अज्ञात बन्दूकधारियों द्वारा किये गए हमलों की तीखी भर्त्सना की है. इन हमलों में लगभग 100 लोगों के मारे जाने और सैकड़ों अन्य लोगों को अपनी जान बचाने के लिये पैदल ही, वहाँ से भागना पड़ा है.

सूडान: दारफ़ूर मिशन समाप्ति के बाद भी सहायता का संकल्प

संयुक्त राष्ट्र महासचिव और अफ्रीकी संघ आयोग के अध्यक्ष ने सूडान के दारफ़ूर क्षेत्र में, इन दोनों संगठनों का संयुक्त सहायता मिशन गुरूवार, 31 दिसम्बर को ख़त्म हो जाने के बाद भी, वहाँ शान्ति और सामान्य स्थिति को मज़बूत करने में अपना योगदान जारी रखने का आश्वासन दोहराया है.

यमन: अदन हवाई अड्डे पर हुए हमले की तीखी भर्त्सना

यमन के लिये संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत मार्टिन ग्रिफ़िथ्स ने बुधवार को अदन हवाई अड्डे पर हुए घातक हमले की तीखी भर्त्सना की है. इस हमले में कम से कम 26 लोगों के मारे जाने, और 50 से ज़्यादा के घायल होने की ख़बरें हैं.