सुरक्षा परिषद

दशकों की हिंसा से पीड़ित सीरिया संकटों की 'धीमी सूनामी' की जकड़ में

सीरिया के लिये संयुक्त राष्ट्र के विशेष यूएन दूत गेयर पैडरसन ने कहा है कि एक दशक से चले आ रहे हिंसक संघर्ष और कोविड-19, भ्रष्टाचार व कुप्रबन्धन के कारण देश आर्थिक बदहाली का शिकार है. उन्होंने बुधवार को सुरक्षा परिषद को हालात से अवगत कराते हुए कहा कि एक धीमी सूनामी पूरे देश को अपनी चपेट में ले रही है. 

यमन: अंसार अल्लाह गुट पर अमेरिकी कार्रवाई से अकाल की आशंका

संयुक्त राष्ट्र के वरिष्ठ अधिकारियों ने अमेरिका द्वारा, यमन में हूथी विद्रोहियों के अंसार अल्लाह गुट को एक आतंकवादी संगठन के रूप में चिन्हित किये जाने के निर्णय से मौजूदा मानवीय संकट के और ज़्यादा गहराने की आशंका जताई है. यूएन के विशेष दूत मार्टिन ग्रिफ़िथ्स ने गुरुवार को सुरक्षा परिषद की एक वर्चुअल बैठक के दौरान आगाह किया है कि यमन एक स्याह दौर से गुज़र रहा है.  

आतंकवाद का ख़तरा वास्तविक, निरन्तर सतर्कता बरते जाने पर बल

आतंकवाद के ख़िलाफ़ लड़ाई में पिछले दो दशकों में अहम प्रगति हुई है, इसके बावजूद आतंकवाद निरोधक प्रयासों में ज़रा भी ढिलाई बरते जाने का ख़तरा मोल नहीं लिया जा सकता. संयुक्त राष्ट्र में आतंकवाद निरोधक विभाग के प्रमुख व्लादीमीर वोरोन्कोफ़ ने मंगलवार को सुरक्षा परिषद की एक वर्चुअल बैठक को सम्बोधित करते हुए आतंकवाद से मुक़ाबले में अन्तरराष्ट्रीय सहयोग को बढ़ावा देने की अहमियत पर बल दिया है.  

एंतोनियो गुटेरेश, महासचिव के दूसरे कार्यकाल के लिये उम्मीदवार

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने सोमवार को पुष्टि की है कि यूएन प्रमुख के तौर पर अपने दूसरे कार्यकाल के लिये वह उम्मीदवारी पेश करेंगे. महासचिव के पद पर अगला पाँच-वर्षीय कार्यकाल जनवरी 2022 में शुरू होना है. 

यूएन सुरक्षा परिषद के नए अस्थाई सदस्य

वर्ष 2021-2022 के लिये सुरक्षा परिषद में नव-निर्वाचित अस्थाई सदस्यों का ध्वज स्थापना समारोह, संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में,  4 जनवरी को सम्पन्न हुआ. नए सदस्यों में मैक्सिको, भारत, आयरलैंड, केनया और नॉर्वे शामिल हैं. एक वीडियो रिपोर्ट...

हिंसक संघर्ष और नाज़ुक हालात से निपटने में सुरक्षा परिषद की 'अहम भूमिका'

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने हिंसक संघर्ष और नाज़ुक हालात के बीच नज़दीकी सम्बन्ध और उनकी बुनियादी वजहों को दूर करने में सुरक्षा परिषद की महत्वपूर्ण भूमिका को रेखांकित किया है. महासचिव गुटेरेश ने बुधवार को सुरक्षा परिषद की एक उच्चस्तरीय वर्चुअल चर्चा को सम्बोधित करते हुए कहा कि दुनिया भर में टिकाऊ विकास को हासिल करने में ये दो बड़े अवरोध हैं.

ईरान परमाणु समझौता: भड़काऊ बयानबाज़ी से मतभेद बढ़ने का जोखिम

संयुक्त राष्ट्र के राजनैतिक और शान्तिरक्षा मामलों की प्रमुख रोज़मैरी डीकार्लो ने सुरक्षा परिषद को बताया है कि ईरान के परमाणु कार्यक्रम समझौते को अगर पूरी तरह से लागू किया जाए तो, क्षेत्रीय स्थिरता बेहतर हो सकती है, मगर बढ़ते तनावों ने अनेक तरह के नए जोखिम पैदा कर दिये हैं. 

सुरक्षा परिषद: 'साझा दुश्मन' से लड़ाई के लिये वैश्विक युद्धविराम पर ज़ोर

संयुक्त राष्ट्र की उपमहासचिव आमिना मोहम्मद ने मंगलवार को सुरक्षा परिषद से आग्रह किया है कि दुनिया भर में हिंसा में शामिल लड़ाकों को हथियार डालने और कोरोनावायरस रूपी साझा दुश्मन से लड़ाई पर ध्यान केन्द्रित करने के लिये प्रोत्साहित करना होगा जिसके लिये और ज़्यादा प्रयास किये जाने की ज़रूरत है.    

यमन में क़ैदियों की रिहाई से शान्ति स्थापना की उम्मीदों को मिली मज़बूती

यमन में संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत मार्टिन ग्रिफ़िथ्स ने युद्धरत पक्षों के बीच एक हज़ार से ज़्यादा बन्दियों को रिहा किये जाने पर हुई सहमति का स्वागत किया है. उन्होंने गुरुवार को सुरक्षा परिषद को मौजूदा हालात की जानकारी देते हुए बताया कि शान्ति निर्माण प्रक्रिया को आगे बढ़ाने के लिये अन्य क़दम भी उठाने होंगे.

महिलाएँ, शान्ति व सुरक्षा एजेण्डा को आगे बढ़ाने के लिये यूएन के अथक प्रयास

सशस्त्र हिंसक संघर्ष का महिलाओं व लड़कियों पर अनुपात से ज़्यादा असर होता है और इसके मद्देनज़र संयुक्त राष्ट्र शान्तिरक्षा अभियानों में महिलाओं की पूर्ण, समान व अर्थपूर्ण भागीदारी को प्राथमिकता दी जा रही है. यूएन प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने शान्तिरक्षा अभियानों में महिलाएँ, शान्ति व सुरक्षा के मुद्दे पर आयोजित एक गोलमेज़ चर्चा में यह बात कही है.