सीरिया

75वाँ सत्र: कोविड-19 पर बहुपक्षीय कार्रवाई की ख़ातिर संकीर्ण हितों को छोड़ना होगा, सीरिया

सीरिया के उपप्रधानमन्त्री और विदेश मन्त्री वलीद अल-मुअलम ने शनिवार को यूएन महासभा की जनरल डिबेट में कहा कि कुछ देश अपने संकीर्ण एजेण्डा पर आगे बढ़े चले जा रहे हैं जिसके परिणामस्वरूप दुनिया उन सिद्धान्तों से दूर होती जा रही है जो अन्तरराष्ट्रीय मानकों और संयुक्त राष्ट्र के कामकाज को मज़बूती प्रदान करते हैं.  

75वाँ सत्र: तुर्की के राष्ट्रपति का आग्रह, आधे भरे गिलास के दोनों पहलुओं को देखना होगा

तुर्की के राष्ट्रपति रेचेप तैयप एरदोआन ने मंगलवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा के 75वें सत्र में उच्चस्तरीय जनरल डिबेट को सम्बोधित करते हुए विश्व में मौजूदा घटनाक्रम का सटीकता और निष्ठा से आकलन किये जाने की आवश्यकता पर बल दिया है. 

सीरिया: नए संविधान पर वार्ता से हिंसा पर विराम लगाने की उम्मीद

सीरिया में युद्धरत पक्षों में गहरा अविश्वास क़ायम है, इसके बावजूद हाल ही में जिनीवा में संवैधानिक समिति की बैठक में आशा की एक धूमिल लेकिन वास्तविक किरण उभरती दिखाई दी है. यह बैठक नौ महीने के अन्तराल के बाद आयोजित की गई थी. शुक्रवार को संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत गेयर पैडरसन ने सुरक्षा परिषद को एक दशक से जारी हिंसा से सीरिया को उबारने के लिये किये जा रहे प्रयासों के सम्बन्ध में अवगत कराया है. 

सीरिया: आमजन पर ज़ुल्म ढाने में सभी पक्ष हैं शामिल, जाँच आयोग की रिपोर्ट


सीरिया के लिये संयुक्त राष्ट्र के जाँच आयोग की रिपोर्ट में कहा गया है कि मार्च 2020 में युद्धविराम लागू होने के बाद से बड़े पैमाने वाली युद्धक गतिविधियों में तो कुछ कमी आई है, मगर अब भी सशस्त्र गुट आम लोगों पर बहुत ज़ुल्म ढा रहे हैं, और जानबूझकर व सोचसमझकर लोगों के मानवाधिकारों का उल्लंघन किया जा रहा है. 

सीरिया मुद्दे पर जिनीवा में बैठक - 'अनेक मुद्दों पर साझा रुख़' का स्वागत

सीरिया में लगभग एक दशक से चले आ रहे हिंसक संघर्ष का शान्तिपूर्ण समाधान सुनिश्चित करने के लिये जिनीवा में हो रही बैठक में आपसी सहमति की ज़मीन तलाश करने में मदद मिली है जिसके आधार पर चर्चा को आगे बढ़ाया जाएगा. सीरिया के लिए संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत गियर पैडरसन ने शनिवार को जिनीवा में पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए बताया कि बातचीत के दौरान विभिन्न पक्षों ने अनेक बिन्दुओं पर समान रुख़ दर्शाया है जिसका वह स्वागत करते हैं.

सीरिया में संवैधानिक सुधारों पर वार्ता - नई शुरुआत की उम्मीद

जिनीवा में अगले सप्ताह सीरियाई सरकार और विरोधी पक्ष के नेताओं में संवैधानिक सुधारों पर वार्ता आपसी मतभेदों को दूर करने और देश के नागरिकों के साथ सामाजिक अनुबंध स्थापित करने का एक अहम अवसर है. सीरिया के लिए संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत गेयर पैडरसन ने बुधवार को सुरक्षा परिषद को जानकारी देते हुए बताया कि नौ वर्ष के हिंसक संघर्ष के बाद देश के नागरिक मायूस हैं और बातचीत में प्रगति होते देखना चाहते हैं. 

लेबनान को तत्काल सहायता मुहैया कराने में लगीं यूएन एजेंसियाँ

लेबनान की राजधानी बेरूत में मंगलवार को हुए घातक बम विस्फोट हज़ारों लोग घायल हुए और लाखों लोगों को बेघर भी होना पड़ा, तबाही के स्तर को देखते हुए, संयुक्त राष्ट्र ने प्रभावितों के लिये राहत कार्य तत्काल और बहुत तेज़ी से शुरू किये. संयुक्त राष्ट्र की विशेषीकृत एजेंसियों का व्यापक नैटवर्क एक जुट होकर राजधानी बेरूत में प्रभावित लोगों की मदद करने में लग गया है ताकि लोगों को फिर से उनके पैरों पर खड़ा किया जा सके. अगर आप भी बेरूत के लोगों की मदद करने के बारे में सोच रहे हैं तो हमने यहाँ यूएन एजेंसियों द्वारा किये जा रहे सहायता व राहत कार्यों के बारे में कुछ विवरण प्रस्तुत किया है और आप चाहें तो किस तरह योगदान कर सकते हैं.

सीरिया में ग़रीबी और ज़रूरतों का बढ़ता दायरा

हिंसा प्रभावित सीरिया में मानवीय सहायता अभियान के ज़रिये एक महीने में 68 लाख लोगों तक राहत सामग्री पहुँचाई जा रही है लेकिन बदहाल आर्थिक हालात से ग़रीबी गहरी हो रही है जिससे देश में ज़रूरतमन्दों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. मानवीय राहत मामलों में समन्वय के लिये संयुक्त राष्ट्र कार्यालय (UNOCHA) के प्रमुख मार्क लोकॉक ने बुधवार को सुरक्षा परिषद को देश में हालात से अवगत कराते हुए यह जानकारी दी है.

सुरक्षा परिषद में प्रस्ताव पारित – सीरिया को मदद की अवधि बढ़ी

तुर्की से सीरिया के पश्चिमोत्तर इलाक़े में मानवीय राहत पहुँचाने की व्यवस्था जारी रखने के लिए एक अहम प्रस्ताव सुरक्षा परिषद में शनिवार को पारित किया गया है. प्रस्ताव 2533 के ज़रिये बाब अल-हावा सीमा चौकी से होकर अगले एक वर्ष तक भोजन, दवाएँ और अन्य जीवनरक्षक सामग्री  ज़रूरतमन्दों तक भेजी जानी सम्भव हो सकेगी. मानवीय राहत पहुँचाने के लिए बाब अल-हावा एक अहम पड़ाव है जहाँ से इदलिब तक सहायता सामग्री पहुँचाई जा सकती है. 

सीरिया: जीवनरक्षक मानवीय राहत जारी रखने के लिए अनुमति अधर में

तुर्की से पश्चिमोत्तर सीरिया में भोजन और जीवनदायी मानवीय राहत पहुँचाने के लिए समयसीमा शुक्रवार को समाप्त हो रही है लेकिन सुरक्षा परिषद में इस अवधि को बढ़ाने के लिए इस सप्ताह तीसरा प्रयास भी विफल हो गया.