शान्तिरक्षा

माली: यूएन मिशन के शिविर पर हमला, 20 शान्तिरक्षक घायल

माली में, संयुक्त राष्ट्र मिशन (MINUSMA) के एक अस्थाई शिविर पर बुधवार को हुए हमले में, 20 शान्तिरक्षक घायल हो गए हैं. यह हमला देश के अशान्त केन्द्रीय इलाक़े में हुआ है. यूएन मिशन के प्रमुख महमत सालेह अनादिफ़ ने इस हमले की कड़ी निन्दा करते हुए इसे कायरतापूर्ण कृत्य क़रार दिया है.

सूडान: दारफ़ूर में हिंसा में तेज़ी, 250 लोगों की मौत, एक लाख विस्थापित

सूडान के दारफ़ूर प्रान्त में समुदायों के बीच हिंसा में तेज़ी आई है जिससे एक लाख से ज़्यादा लोगों को सुरक्षित स्थान की तलाश में घरों से पलायन के लिये मजबूर होना पड़ा है. संयुक्त राष्ट्र की शरणार्थी एजेंसी (UNHCR) ने शुक्रवार को बताया कि बहुत से लोगों ने पड़ोसी देश चाड में शरण ली है. हिंसा में अब तक 250 लोगों की मौत हो चुकी है, जिनमें तीन मानवीय राहतकर्मी भी हैं.
 

मध्य अफ़्रीका गणराज्य: 'जघन्य हमलों' में शान्तिरक्षक की मौत, जवाबदेही तय किये जाने की माँग

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने बुधवार को मध्य अफ़्रीकी गणराज्य (Central African Republic) की राजधानी बाँगी के पास समन्वित ढँग से किये गये जघन्य हमलों की कड़ी निन्दा करते हुए जवाबदेही तय किये जाने का आग्रह किया है. इन हमलों में रवाण्डा के एक शान्तिरक्षक की मौत हो गई है और एक अन्य घायल हुआ है. 

सर ब्रायन अर्कहार्ट: पुरोधा राजनयिक

संयुक्त राष्ट्र के एक पूर्व वरिष्ठ राजनयिक सर ब्रायन अर्कहार्ट का 2 जनवरी को 101 वर्ष की आयु में निधन हो गया है. ब्रितानी मूल के राजनयिक सर ब्रायन अर्कहार्ट, संयुक्त राष्ट्र के लिये नियुक्त होने वाले दूसरे कर्मचारी थे. उन्होंने 41 वर्षों तक, विभिन्न पदों पर संयुक्त राष्ट्र की सेवा की. वो यूएन के 5 महासचिवों के शीर्ष सलाहकार भी रहे. उनके बारे में संक्षिप्त विवरण... (वीडियो)

दारफ़ूर में शान्तिरक्षा मिशन बन्द होने की पुष्टि

सूडान के दारफ़ूर क्षेत्र में, संयुक्त राष्ट्र और अफ्रीकी संघ का संयुक्त मिशन (UNAMID) गुरूवार, 31 दिसम्बर को आधिकारिक रूप से पूरा हो रहा है, जब सूडान की सरकार, इस इलाक़े में आम आबादी की सुरक्षा की ज़िम्मेदारी संभालेगी.

दक्षिण सूडान में सेवा के लिये भारतीय शान्तिरक्षक पुरस्कृत

भारत में महिलाओं के लिये सेना का हिस्सा होना आम बात नहीं है. यही बात मालाकाल में तैनात शान्तिरक्षकों की टुकड़ी पर भी खरी उतरती है, जहाँ हाल ही में आठ सौ से अधिक शान्तिरक्षकों को दक्षिण सूडान में संयुक्त राष्ट्र मिशन में सेवा के लिये पदक से सम्मानित किया गया.

बदलाव की साक्षी - अनु मेल्को

फिनलैण्ड की नागरिक, अनु मेल्को दक्षिण सूडान में संयुक्त राष्ट्र मिशन के साथ सुधार इकाई की प्रमुख के रूप में कार्यरत हैं. उनका मानना है कि संघर्ष भरे इलाक़ों में महिला शान्तिरक्षक एक प्रेरणास्रोत के रूप में कार्य करते हैं. इसके अलावा, उन्हें शान्तिरक्षा के कार्य से बहुत सन्तुष्टि मिलती है, और इस ऐहसास से बहुत गर्व महसूस होता है कि वह संयुक्त राष्ट्र के लिये योगदान दे रही हैं. (वीडियो)...

छोटे पैकेट की बड़ी शक्ति: ऐनी की कहानी

माली में  संयुक्त राष्ट्र सहायता मिशन - MINUSMA की सूचना संचालन उप प्रमुख, ऐनी फैम क़द में छोटी हैं, लेकिन उनके इरादे बहुत ऊँचे हैं. उनका मानना है कि संयुक्त राष्ट्र में एकदम अन्तरराष्ट्रीय और विविधतापूर्ण माहौल है, और सभी महिलाओं को इसमें शामिल होना चाहिये, क्योंकि यह एक बहुत ही समावेशी और ज्ञानवर्धक अनुभव है. (वीडियो)...

एक सपने की शुरूआत: ज़ोहरा की कहानी

इराक़ में UNAMI के एक क्षेत्रीय कार्यालय की प्रमुख और सुरक्षा समन्वयक, ज़ोहरा तबौरी ने विभिन्न देशों की नौ अन्य महिलाओं सहित उस वीडियों श्रृंखला में जगह बनाई है, जो संयुक्त राष्ट्र द्वारा ‘शान्ति ही मेरा मिशन है’ ’नामक अभियान के तहत जारी की गई है. 31 अक्टूबर को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्ताव 1325 की 20वीं वर्षगाँठ के उपलक्ष्य में यह अभियान शुरू किया गया. देखिये, ज़ोहरा की शान्तिरक्षक बनने की कहानी, इस वीडियो में...

चुनौतियों के पार: फ़ियोना की कहानी

फ़ियोना बेने, युगाण्डा की नागरिक हैं और इराक़ में UNAMI में सुरक्षा विभाग में कार्यरत हैं. उनका मानना है कि संयुक्त राष्ट्र शान्तिरक्षक के रूप में कार्य करना बेहद सन्तुष्टिपूर्ण  व चुनौतीपूर्ण अनुभव है, जो करियर के लिये महान अवसर प्रदान करता है. (वीडियो)...