शांति

सीरिया में सैन्य तनाव बढ़ने पर आम लोगों की सुरक्षा की चिंता

संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी (यूएनएचसीआर) ने गुरूवार को कहा है कि सीरिया के पूर्वोत्तर इलाक़े में हाल के दिनों में बढ़े सैन्य तनाव के कारण लाखों लोगों को सुरक्षा की ख़ातिर वो इलाक़ा छोड़ना पड़ा है. इससे एक दिन पहले यानी बुधवार को ही तुर्की ने सीरिया में कुछ हवाई औरर ज़मीनी हमले किए थे.

अहिंसा दिवस पर महात्मा गाँधी के शांति संदेश की गूंज

यूएन महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने बुधवार को 'अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस' के अवसर पर अपने संदेश में कहा है कि महात्मा गांधी का जीवन दर्शन आज भी विश्व में प्रासंगिक बना हुआ है और यह संयुक्त राष्ट्र के कामकाज में भी परिलक्षित होता है – आपसी समझ, टिकाऊ विकास, युवाओं के सशक्तिकरण और विवादों के शांतिपूर्ण ढंग से निपटारे के लिए किए जाने वाले प्रयासों में.

लैफ़्टिनेंट जनरल अभिजीत गुहा हुदायदाह समझौते के मिशन प्रमुख नियुक्त

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने भारतीय मूल के सैन्य अधिकारी लैफ़्टिनेंट जनरल (रिटायर्ड) अभिजीत गुहा को यमन में हुदायदाह समझौते को सहायता देने वाले संयुक्त राष्ट्र के मिशन के प्रमुख नियुक्त किया है. उनकी नियुक्ति संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्ताव संख्या 2452 (2019) और 2481 (2019) के तहत की गई है. लैफ़्टिनेंट जनरल अभिजीत गुहा को री-डेप्लॉयमेंट कॉर्डिनेशन कमेटी (आरसीसी) का अध्यक्ष भी बनाया गया है.

 

महात्मा गांधी का पथप्रदर्शक संदेश आज भी प्रकाशमान है - उपमहासचिव

"एक शांतिपूर्ण और टिकाऊ विश्व के लिए महात्मा गाँधी का चिरमय व पथप्रदर्शक संदेश आज भी प्रकाशमान है. उनका जीवन अहिंसक और सामाजिक सौहार्द्र के समय में नैतिक साहस की प्रेरणा देता है और हमें याद दिलाता है कि प्रभावशाली लोगों की गतिविधियाँ और आंदोलन किस तरह सामाजिक बदलावों के लिए प्रेरणास्रोत हो सकते हैं."

'दुनिया भर में संकटों के बावजूद मानवाधिकार मुद्दे सबकी ज़िम्मेदारी'

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बाशेलेट ने दुनिया के विभिन्न हिस्सों में अशांति व हिंसा के मद्देनज़र वैश्विक पुकार लगाते हुए कहा है कि सभी संबद्ध पक्ष हिंसा को छोड़कर संयम से काम लें और मुक्त व समावेशी संवाद को प्राथमिकता दें. मानवाधिकार उच्चायुक्त के पद पर एक वर्ष पूरा करने के मौक़े पर बुधवार को जिनीवा में प्रेस से बातचीत में उन्होंने ये आहवान किया.

शांति निर्माण में 'बराबर के साझेदार' हैं युवा

संयुक्त राष्ट्र महासचिव की विशेष दूत जयाथमा विक्रमानायके ने सुरक्षा परिषद को अपने संबोधन में कहा है कि उनका अनुभव बताता है कि युवा शांति की परवाह करते हैं. उन्होंने जॉर्डन में शरणार्थी शिविरों से लेकर ग़ाज़ा में यूएन राहत एवं कार्य एजेंसी के स्कूलों तक, कोसोवो में म्यूनिसपैलिटी से लेकर डेनमार्क में युवा परिषदों तक जारी प्रयासों को नज़दीक से देखने के बाद ये बात कही.

सामाजिक और सांस्कृतिक विविधता 'ख़ूबी है ख़तरा नहीं'

एक अच्छा संगीत देने वाले ऑर्केस्ट्रा की तरह, सफल और आधुनिक समाजों को भी विविधता और संस्कृति का संतुलन बनाए रखना ज़रूरी है. ऑस्ट्रिया की राजधानी विएना में यूएन की ओर से शांति के संदेशवाहक और मशहूर चेलो वादक यो-यो मा के साथ मिलकर महासचिव अंतोनियो गुटेरेश ने विविधतापूर्ण समाज को सुनिश्चित करने के प्रयासों पर ज़ोर देने की अपील की है. 

टिकाऊ विकास लक्ष्य-16: शांति, न्याय और सशक्त संस्थाएं

विकास, आर्थिक वृद्धि, ख़ुशहाली और अस्तित्व के लिए हिंसा सबसे बड़ी और विनाशकारी चुनौती है.  टिकाऊ विकास एजेंडा के किसी भी पहलू को साकार करना तभी संभव होगा जब आम लोगों को सुरक्षा मिले और उनके मानवाधिकारों को सुनिश्चित किया जाए.  2030 एजेंडा का 16वां लक्ष्य शांतिपूर्ण और समावेशी समाजों के निर्माण और सभी स्तरों पर जवाबदेह संस्थाओं की स्थापना को समर्पित है.

'यमन शांति प्रक्रिया में ढिलाई नहीं बरत सकते'

संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत मार्टिन ग्रिफ़िथ्स ने सुरक्षा परिषद को यमन में हालात की जानकारी देते हुए बताया कि शांति स्थापना के प्रयासों के तहत स्थायी राजनीतिक सहमति बनाने  का मुश्किल काम अभी अधूरा है. उन्होंने सुरक्षा परिषद से मुख्य बंदरगाह शहर हुदायदाह में  संघर्षविराम को बनाए रखने के लिए पूरा समर्थन देने का आग्रह किया. 

सोमालिया के लिए नाज़ुक रहेगा ये साल: सुरक्षा परिषद

सोमालिया सरकार से संयुक्त राष्ट्र सहायता मिशन के प्रमुख निकोलस हेसम को देश छोड़कर जाने का आदेश से मिलने के बाद सुरक्षा परिषद ने आगाह किया है कि दशकों से चले आ रहे संघर्ष से उबरने की कोशिश कर रहे इस पूर्वी अफ़्रीकी देश के लिए साल 2019 एक नाज़ुक समय रहेगा.