समाज

तंज़ानिया के दार ए सलाम में ज़नाकी इलाक़े में एक प्राईमरी स्कूल के छात्र
World Bank/Sarah Farhat

दो तिहाई आबादी है 'असमान', व्यापक सुधार की ज़रूरत

संयुक्त राष्ट्र की एक ताज़ा रिपोर्ट में कहा गया है कि दुनिया भर की लगभग 70 प्रतिशत जनसंख्या के लिए विषमता बढ़ रही है जिससे समाजों में दरारें पड़ने और आर्थिक व सामाजिक विकास के बाधित होने का जोखिम बढ़ रहा है. मंगलवार को जारी विश्व सामाजिक रिपोर्ट 2020 संयुक्त राष्ट्र के आर्थिक व सामाजिक मामलों के विभाग (डेसा) ने प्रकाशित की है.

म्याँमार के यांगून में धातु के एक ढाँचा निर्माण में काम करते हुए एक तकनीकी कामगार.
ILO/Marcel Crozet

50 करोड़ लोगों को नहीं मिल पाता समुचित मेहनताना

दुनिया भर में 50 करोड़ से भी ज़्यादा ऐसे लोग हैं जिन्हें कामकाज करने के बदले धन मिलने वाली स्थिति में उतना काम नहीं मिल पाता जितना वो करना चाहते हैं या फिर उन्हें ऐसा समुचित कामकाज ही नहीं मिल पाता है जिसमें उन्हें काम के बदले धन मिल सके.