शांतिरक्षा अभियान

दक्षिण सूडान में शांतिरक्षक दिवस पर समारोह का आयोजन.
UNMISS\Nektarios Markogiannis

शांति और सुरक्षा कायम रखने में अहम भूमिका निभाते शांतिरक्षक

हिंसा से आम नागरिकों को बचाने के लिए यूएन शांतिरक्षक हर दिन अपनी जान को जोखिम में डालते हैं. 29 मई को अंतरराष्ट्रीय संयुक्त राष्ट्र शांतिरक्षक दिवस पर दुनिया में शांति और सुरक्षा बनाए रखने में शांतिरक्षकों की अहम भूमिका को याद किया जा रहा है.

जान बलिदान करने वाले यूएन कर्मचारियों के सम्मान में मोमबत्ती जलाते यूएन महासचिव एंतोनियो गुटेरेश.
UN Photo/Mark Garten

प्राण न्यौछावर करने वाले संयुक्त राष्ट्र कर्मचारियों को सम्मान

न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में सोमवार को एक स्मारक समारोह का आयोजन हुआ जिसमें यूएन की सेवा करते हुए और शांति स्थापना प्रयासों के दौरान जान गंवाने वाले साथियों को सम्मान दिया गया. पिछले साल की शुरुआत से इस साल मार्च महीने तक 115 यूएन कर्मचारियों ने अपनी जान की कुर्बानी दी है. 

दक्षिण लेबनान में गश्त लगाती मलेशियाई शांतिरक्षक.
UNIFIL/Pasqual Gorriz

'शांतिरक्षा अभियानों के केंद्र' में महिलाओं को रखना है लक्ष्य

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने कहा है कि शांतिरक्षा अभियानों के केंद्र में महिला अधिकारों, आवाज़ों और भागीदारी को सुनिश्चित करने के लिए और प्रयास किए जाने होंगे. सुरक्षा परिषद में इस विषय पर चर्चा में उन्होंने स्पष्ट किया कि महिला शांतिरक्षकों के होने से दायित्वों को प्रभावी ढंग से पूरा करने में मदद मिलती है. 

माली में यूएन शांतिरक्षकों का निरीक्षण करते महासचिव एंतोनियो गुटेरेश.
MINUSMA

संयुक्त राष्ट्र शांतिरक्षकों को और मज़बूती प्रदान करने की अपील

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने यूएन शांतिरक्षा मिशनों की सराहना करते हुए उन्हें और मज़बूत और सुरक्षित बनाए जाने की बात कही है. न्यूयॉर्क में मंत्रिस्तरीय बैठक को संबोधित करते हुए उन्होंने रेखांकित किया कि यूएन शांति मिशन जिन कमियों का सामना कर रहे हैं उन्हें पूरा किया जाना चाहिए ताकि उन लोगों की सेवा में अच्छे परिणाम दिए जा सकें जिनके लिए वे काम कर रहे हैं.

मध्य अफ़्रीकी गणराज्य के बांगुई में छात्र जागरूकता अभियान.
UN Photo/Herve Serefio

2018 में यूएन को यौन शोषण की 259 शिकायतें मिली

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश द्वारा महासभा को सौंपी गई एक नई रिपोर्ट के अनुसार यूएन ने पिछले साल यौन शोषण और दुर्व्यवहार से संबंधित कुल 259 मामले दर्ज किए. पिछले दो सालों के मुक़ाबले ऐसे मामलों में बढ़ोत्तरी देखने को मिली है लेकिन इस विषय में जागरूकता भी बढ़ रही है.

दुनिया के कई ख़तरनाक इलाक़ों में स्वीडन अपने सैनिकों और पुलिसकर्मियों को भेजता है.
UN Photo/Harandane Dicko

शांतिरक्षा अभियानों को मज़बूती देती महिलाएं

शांतिरक्षा के प्रयासों में जिस तरह व्‍यापक मानवीय दृष्टिकोण का समावेश बढ़ रहा है, उसमें शांतिरक्षा परिवार में महिलाओं की संख्‍या बढ़ती जा रही है. महिलाओं को पुलिस, सैन्‍य और असैन्‍य सभी क्षेत्रों में तैनात किया जा रहा है जिससे शांति स्‍थापना में महिलाओं की भूमिका को समर्थन देने तथा महिलाओं के अधिकारों के संरक्षण, दोनों पर अनुकूल असर पड़ा है.