Skip to main content

राजनैतिक दमन

गुमशुदा और लापता लोगों के सम्बन्धी कोसोवो के प्रिस्टीना स्थित यूएन मुख्यालय के बाहर मूक प्रदर्शन करते हुए, (2002). फ़ाइल फ़ोटो.
UN Photo

जबरन गुमशुदगी पर रोक लगाने के प्रयासों को मज़बूती देने का आहवान

विश्व के अनेक देशों में लोगों को जबरन ग़ायब कराए जाने की घटनाएँ व्यक्तियों के मानवाधिकार उल्लंघन के मामलों के साथ-साथ समाजों में आतंक फैलाने की रणनीति को भी दर्शाती हैं. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने रविवार, 30 अगस्त, को 'जबरन गुमशुदगी के पीड़ितों के अन्तरराष्ट्रीय दिवस' पर सदस्य देशों से इस समस्या पर विराम लगाने का आहवान किया है.