पत्रकार

ख़शोग्जी हत्या मामले की स्वतंत्र और निष्पक्ष जांच की मांग

सऊदी अरब मूल के पत्रकार जमाल ख़शोग्जी की हत्या के मामले में रियाद की एक अदालत ने पांच अभियुक्तों को मौत की सज़ा और तीन को जेल भेजे जाने का फ़ैसला सुनाया है. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने कोर्ट के निर्णय के बाद मामले की स्वतंत्र और निष्पक्ष जांच कराए जाने की आवश्यकता दोहराई है.  

'पूरे समाज को चुकानी पड़ती है पत्रकारों को निशाना बनाए जाने की क़ीमत'

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने कहा है कि अभिव्यक्ति की आज़ादी और स्वतंत्र मीडिया की मौजूदगी टिकाऊ विकास के 2030 एजेंडा को हासिल करने के लिए बेहद आवश्यक है. पत्रकारों के विरुद्ध अपराधों के लिए दंडमुक्ति समाप्त करने के अंतरराष्ट्रीय दिवस पर उन्होंने कहा कि पत्रकारों को जब निशाना बनाया जाता है तो उसका ख़ामियाज़ा पूरे समाज को भुगतना पड़ता है.