प्रवासी एवं शरणार्थी

भूमध्यसागर में एक और हादसा, बचाव अभियान फिर शुरू किये जाने की पुकार

लीबियाई तट के पास एक नाव हादसे में 43 लोगों की मौत के बाद संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों ने भूमध्यसागर में तलाश एवँ बचाव अभियान फिर शुरू किये जाने की पुकार लगाई है. अन्तरराष्ट्रीय प्रवासन संगठन (IOM) और संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी (UNHCR) ने बुधवार को एक बयान जारी करके इस त्रासदीपूर्ण हादसे पर खेद व्यक्त किया है. 

लीबिया: हिरासत केंद्र पर हवाई बमबारी की जांच की मांग

संयुक्त राष्ट्र ने लीबिया में जारी हिंसा में शामिल सभी पक्षों और उन्हें समर्थन दे रही विदेशी सरकारों से जुलाई 2019 में हवाई बमबारी की घटना की जांच कराने का आग्रह किया है. जुलाई 2020 में देश के पश्चिमोत्तर क्षेत्र में स्थित एक हिरासत केंद्र पर हवाई बमबारी में 53 शरणार्थियों व प्रवासियों की मौत हो गई थी. लीबिया में यूएन मिशन के प्रमुख ने इस घटना को हवाई ताक़त के इस्तेमाल का एक त्रासदीपूर्ण उदाहरण क़रार दिया.

बहुपक्षवाद को 'मौजूदा व भविष्य की चुनौतियों' से लड़ना होगा

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने कहा है दुनिया में चुनौतियों का स्वरूप बदल रहा है और नए संकट उभर रहे हैं. ऐसी स्थिति में बहुपक्षवादी व्यवस्था की सफलता के लिए यह ज़रूरी है कि उसमें मौजूदा चुनौतियों के अनुरूप बदलाव किए जाएं. 1918 में पहले विश्व युद्ध की समाप्ति की स्मृति में विश्व भर में समारोह आयोजित हो रहे हैं और इसी सिलसिले में महासचिव ने सोमवार को ‘पेरिस पीस फ़ोरम’ को संबोधित किया. 

तुर्की ने पेश की शरणार्थियों की वापसी योजना, यूएन एजेंसी करेगी आकलन

तुर्की के राष्ट्रपति रिसेप तैयप अर्दोगान ने हज़ारों सीरियाई शरणार्थियों के पुनर्वास की एक योजना शुक्रवार को संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनिय गुटेरेश को पेश की. ये योजना तुर्की द्वारा सीरिया के पूर्वोत्तर इलाक़े में कथित कुर्द लड़ाकों के ख़िलाफ़ अक्तूबर में किए गए हमलों के माहौल में पेश की गई है. 

आधे से ज़्यादा शरणार्थी बच्चे स्कूली शिक्षा से वंचित

संयुक्त राष्ट्र ने चेतावनी जारी की है कि लाखों की संख्या में शरणार्थी बच्चों को शिक्षा नहीं मिल पा रही हैं जिससे बेहतर भविष्य की उनकी आशाएं धूमिल हो रही हैं. संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी (UNHCR) ने शरणार्थियों को शरण देने वाले देशों से समावेशी नीतियां लागू की जाने की अपील की है ताकि शरणार्थी शिविरों में बदहाल हालात में जीवन गुज़ारने के बजाए बच्चे अपने भविष्य को संवार सकें.

'परोक्ष युद्ध' का दंश झेल रहा है लीबिया

लीबिया में संयुक्त राष्ट्र मिशन (UNSMIL) के प्रमुख ग़ासन सलामे ने कहा है कि देश में लड़ाई रुकने के आसार नहीं दिख रहे हैं और मानवीय हालात बदतर होते जा रहे हैं. सोमवार को सुरक्षा परिषद को जानकारी देते हुए उन्होंने स्पष्ट किया कि अस्थिरता और विदेशी हथियारों के पहुंचने से इस उत्तर अफ़्रीकी देश में ‘परोक्ष युद्ध’ को भी हवा मिल रही है.

लीबिया: हिरासत में रखे गए शरणार्थियों और प्रवासियों को रिहा करने की अपील

संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी और यूएन प्रवासन एजेंसी के प्रमुखों ने लीबिया में हिरासत में रखे गए साढ़े पांच हज़ार से ज़्यादा शरणार्थियों और प्रवासियों को रिहा करने की अपील की है. यूएन अधिकारियों ने एक साझा बयान में हिरासत केंद्रों से लोगों को व्यवस्थित ढंग से रिहा करने की और उनके मानवाधिकारों की रक्षा करने की आवश्यकता पर ज़ोर दिया है.

लीबिया में हिरासत केंद्र पर मिसाइल का गिरना हो सकता है 'युद्धापराध' - यूएन

 लीबिया की राजधानी त्रिपोली में एक हिरासत केंद्र के युद्धक गतिविधियों की चपेट में आने से अनेक लोग हताहत हुए हैं जिनमें अनेक प्रवासी और शरणार्थी भी थे. संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों ने कहा है कि इस युद्धक गतिविधि को युद्धापराध माना जा सकता है और इसके लिए निंदा से आगे बढ़कर क़दम उठाए जाने का आहवान किया है.