परमाणु ऊर्जा

चेरनॉबिल हादसे के 35 वर्ष, 'त्रासदियाँ सीमाएँ नहीं जानतीं'

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने सोमवार को "चेरनॉबिल अन्तरराष्ट्रीय स्मरण दिवस" पर अपने सन्देश में आगाह किया है कि त्रासदियाँ सीमाओं की परवाह नहीं करती हैं. यूएन प्रमुख ने चेरनॉबिल दुर्घटना की 35वीं वर्षगाँठ के अवसर पर ध्यान दिलाते हुए कहा कि एक साथ मिलकर त्रासदियों की रोकथाम की जा सकती है, सभी ज़रूरतमन्दों को सम्बल दिया जा सकता है और एक मज़बूत पुनर्बहाली सुनिश्चित की जा सकती है.

फ़ुकुशिमा संयंत्र: दूषित जल के निस्तारण में, यूएन एजेंसी देगी जापान को मदद

जापान में वर्ष 2011 में आए भूकम्प व सूनामी से प्रभावित फ़ुकुशिमा परमाणु ऊर्जा संयंत्र को ठण्डा करने के लिये इस्तेमाल किये गए दूषित समुद्री जल के विसर्जन की तैयारियाँ की जा रही है. अन्तरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी (IAEA) के महानिदेशक रफ़ाएल मारिआनो ग्रोसी ने जापान के समाधान को, तकनीकी रूप से सम्भव और अन्तरराष्ट्रीय परिपाटी के अनुरूप बताते हुए इस योजना में हरसम्भव सहयोग देने की बात कही है. 

कोविड-19 जैसी महामारियों से निपटने की तैयारियों के तहत IAEA की नई पहल

भविष्य में कोविड-19 जैसी विश्वव्यापी महामारियों से असरदार ढँग से निपटने के लिए अन्तरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी (IAEA) ने सोमवार को एक नई पहल शुरू की है. ‘Zoonotic Disease Integrated Action’ (ZODIAC) नामक इस परियोजना के ज़रिये एक वैश्विक नैटवर्क स्थापित किया जाएगा ताकि पशुओं से व्यक्तियों में फैलने वाली संक्रामक बीमारियों के लिए ज़िम्मेदार वायरसों का समय रहते पता लगाने में मदद मिल सके.  

जलवायु सम्मेलन में सार्थक नतीजे हासिल करने की पुकार

संयुक्त राष्ट्र महासभा के अध्यक्ष तिजानी मोहम्मद-बांडे ने कहा है कि स्पेन में हो रहे जलवायु सम्मेलन से जलवायु संकट से निपटने के लिए ठोस नतीजों का सामने आना अनिवार्य है. स्पेन की राजधानी मैड्रिड में जारी कॉप-25 सम्मेलन के दौरान विज्ञान की स्पष्टता के बारे में बताते हुए कहा गया है वैश्विक और राष्ट्रीय स्तरों पर तत्काल असरदार जलवायु कार्रवाई किए जाने की आवश्यकता है.

आईएईए के महानिदेशक यूकिया अमानो को श्रद्धांजलि

विश्व भर में परमाणु गतिविधियों पर नज़र रखने वाली संयुक्त राष्ट्र संस्था - अंतरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी (IAEA), के महानिदेशक यूकिया अमानो का 72 साल की आयु में निधन हो गया है. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने उन्हें श्रृद्धांजलि देते हुए कहा है कि परमाणु तकनीक के शांतिपूर्ण इस्तेमाल को सुनिश्चित करने में उनका असाधारण योगदान रहा है.