प्रजनन अधिकार

कोविड-19: यौन व प्रजनन स्वास्थ्य अधिकारों की पुनर्बहाली का आग्रह

स्वास्थ्य के अधिकार पर संयुक्त राष्ट्र की स्वतंत्र मानवाधिकार विशेषज्ञ ने बुधवार को यूएन महासभा में सदस्य देशों को ध्यान दिलाते हुए कहा है कि यौन एवं प्रजनन स्वास्थ्य अधिकार, मानवाधिकार हैं और कोरोनावायरस संकट से उबरते हुए इन अधिकारों की पुनर्बहाली भी की जानी होगी.

स्वास्थ्य संबंधी बुनियादी समस्याओं से जूझती महिलाएं

दुनिया के 51 देशों में हर दस में से चार महिलाओं को अपने संगी की शारीरिक संबंधों की मांग को मानने के लिए मजबूर होना पड़ता है. संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या कोष (UNFPA) की ओर से बुधवार को जारी एक नई रिपोर्ट के अनुसार महिलाएं गर्भ धारण करने और स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ उठाने जैसे बुनियादी निर्णय भी नहीं ले पातीं.