पोलियो

कोविड-19 से लड़ने की धुन में टीकाकरण ना छूट जाए

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (UNICEF) ने कहा है कि साल 2019 में दुनिया भर में लगभग एक करोड़ 30 लाख बच्चों को अनेक तरह की बीमारियों से बचाने वाले टीके नहीं लगवाए गए थे. इसलिए संगठन ने तमाम देशों की सरकारों से टीकाकरण सुनिश्चित करने का आग्रह करते हुए कहा है कि ख़ासतौर से कोविड-19 महामारी के माहौल में टीकाकरण में किसी भी तरह की बाधा बहुत से बच्चों के लिए बेहद ख़तरनाक साबित हो सकती है.

'पोलियो उन्मूलन यूएन की प्राथमिकता'

इंसानों को विकलांग बनाने वाली और संभवतः घातक बीमारी से बचाने के लिए पाकिस्तान में लाखों बच्चों को वैक्सीन पिलाने का अभियान ज़ोर-शोर से चलाया गया है. विश्व भर में पोलियो के प्रकोप के कुछ आख़िरी ठिकानों में पाकिस्तान भी शामिल है.

पोलियो संक्रमण का फैलना जारी, वैश्विक स्तर पर चिंता

स्विट्ज़रलैंड के जिनीवा शहर में स्वास्थ्य विशेषज्ञों की एक बैठक में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पोलियो संक्रमण का फैलना जारी रहने पर गहरी चिंता जताई गई है. पाकिस्तान और अफ़ग़ानिस्तान सहित कई देशों में पोलियो वायरस के मामले सामने आने पर सार्वजनिक स्वास्थ्य से जुड़ी चिंता बरक़रार है.  

बेहतर टीकाकरण और निगरानी से पोलियो पर कसी लगाम

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कहा है कि पिछले दो वर्षों के दौरान तीन अफ़्रीकी देशों में पोलियो के नए मामले सामने आने के बाद वहां स्थिति पर क़ाबू पा लिया गया है जिससे इन देशों को फिर पोलियो मुक्त होने का दर्जा प्राप्त हो गया है. यूएन एजेंसी ने उम्मीद जताई है कि अब अफ़्रीका के अन्य क्षेत्रों में पोलियो की रोकथाम की जा सकेगी.

पोलियो को जड़ से मिटाने के बेहद क़रीब पहुंची दुनिया

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने घातक पोलियो बीमारी के तीन में दो प्रकार के वायरस के उन्मूलन को मानवता के लिए एक ऐतिहासिक उपलब्धि क़रार दिया है. गुरुवार, 24 अक्टूबर, को विश्व पोलियो दिवस पर स्वास्थ्य विशेषज्ञों के एक समूह ने बीमारी के टाइप-3 वायरस (WPV3) के पूर्ण उन्मूलन की पुष्टि की है.