फ़लस्तीन

पूर्वी येरूशेलम में इसराइली बलों द्वारा फ़लस्तीनियों के घर ध्वस्त किये जाने की निन्दा

फ़लस्तीनी शरणार्थियों की सहायता करने वाली संयुक्त राष्ट्र एजेंसी – UNRWA ने गुरूवार को इसराइल से, पूर्वी येरूशेलम सहित पश्चिमी तट में, फ़लस्तीनियों के घर ढहाए जाने और उन्हें बेदख़ल किये जाने की कार्रवाई तुरन्त रोकने का आग्रह किया है. एक दिन पहले ही एक पूरे फ़लस्तीनी परिवार को, उनके लम्बे समय के घर से जबरन निकाल दिया गया था.

इसराइल व फ़लस्तीन के बीच टकराव की बुनियादी वजहों से निपटने पर बल

मध्य पूर्व शान्ति प्रक्रिया के लिये संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत टॉर वैनेसलैण्ड ने कहा है कि इसराइल द्वारा क़ाबिज़ फ़लस्तीनी इलाक़े में, आर्थिक, सुरक्षा और राजनैतिक हालात को बदतर होने से रोकने के लिये, तत्काल क़दम उठाए जाने की आवश्यकता है. उन्होंने बुधवार को सुरक्षा परिषद को सम्बोधित करते हुए, फ़लस्तीनियों और इसराइलियों में सम्पर्क व बातचीत जारी रहने और प्रक्रिया में राजनैतिक मुद्दों को समाहित करने की अहमियत को रेखांकित किया है.  

UNRWA: फ़लस्तीनी शरणार्थियों की मदद के लिये, डेढ़ अरब डॉलर से ज़्यादा की अपील

फ़लस्तीनी शरणार्थियों की मदद करने वाली यूएन एजेंसी – UNRWA ने वर्ष 2022 के दौरान, क्षेत्रीय संकटों और लगातार धन की क़िल्लत की परिस्थितियों में अपना जीवन रक्षक सहायता कार्यक्रम जारी रखने के लिये, एक अरब 60 करोड़ डॉलर की रक़म इकट्ठा करने के लिये एक सहायता अपील मंगलवार को जारी की है.

फ़लस्तीनी लोगों के अधिकार हनन से, दो राष्ट्र समाधान पर जोखिम, यूएन प्रमुख

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने सोमवार को कहा है कि इसराइल द्वारा क़ाबिज़ फलस्तीनी इलाक़ों (येरूशेलम सहित) में जारी स्थिति से, अन्तरराष्ट्रीय शान्ति व सुरक्षा के लिये महत्वपूर्ण चुनौती जारी है.

मध्य पूर्व शान्ति प्रयासों पर मीडिया सेमिनार – ‘हम उम्मीद नहीं खो सकते हैं’

इसराइल व फ़लस्तीन के बीच दशकों से चले आ रहे टकराव के शान्तिपूर्ण निपटारे को बढ़ावा और फ़लस्तीन के प्रश्न पर सार्वजनिक जागरूकता का प्रसार, इस वर्ष संयुक्त राष्ट्र की एक अन्तरराष्ट्रीय मीडिया सेमिनार के दौरान चर्चा के केंद्र में है. 

मध्य पूर्व: शान्तिपूर्ण और टिकाऊ समाधान के लिये आशाएँ फिर जगाने की पुकार

मध्य पूर्व शान्ति प्रक्रिया के लिये संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत टॉर वैनेसलैण्ड ने आगाह किया है कि क्षेत्र में पसरे राजनैतिक गतिरोध के कारण तनाव और अस्थिरता को बल मिल रहा है और निराशा का माहौल गहरा रहा है. 

इसराइली और फ़लस्तीनी वरिष्ठ अधिकारियों के बीच बैठक पर उत्साह

मध्य पूर्व शान्ति प्रक्रिया के लिये संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत टॉर वैनेसलैण्ड ने बुधवार को सुरक्षा परिषद को बताया है कि वो ये देखकर “प्रोत्साहित” महसूस कर रहे हैं कि हाल ही में वरिष्ठ इसराइली और फ़लस्तीनी अधिकारियों के बीच सम्पर्क स्थापित हुआ है. 

'फ़लस्तीनी मानवाधिकार पैरोकारों की गिरफ़्तारियाँ, व्यापक दमन का हिस्सा'

मानवाधिकार कार्यकर्ताओं की स्थित पर, संयुक्त राष्ट्र की विशेष रैपोर्टेयर मैरी लॉलोर ने बुधवार को कहा है कि इसराइल को, अपने क़ब्ज़े वाले फ़लस्तीनी क्षेत्रों और अपनी सीमाओं के भीतर, मानवाधिकार पैरोकारों की सुरक्षा का पुख़्ता इन्तज़ाम करना होगा.

ग़ाज़ा: मानवीय राहत प्रयास जारी, मगर राजनैतिक समाधान की अब भी दरकार

मध्य पूर्व शान्ति प्रक्रिया के लिये संयुक्त राष्ट्र के विशेष उपसमन्वयक लिन हेस्टिन्ग्स ने कहा है कि अन्तरराष्ट्रीय समुदाय द्वारा ग़ाज़ा को तात्कालिक सहायता मुहैया कराए जाने के बावजूद, इसराइल और फ़लस्तीन के बीच टकराव का राजनैतिक समाधान ढूंढे जाने की आवश्यकता है.  

फ़लस्तीनी इलाक़ों में, यथाशीघ्र चुनाव कराने का आग्रह

संयुक्त राष्ट्र के तीन स्वतंत्र मानवाधिकार विशेषज्ञों ने कहा है कि इसराइल के क़ब्ज़े वाले फ़लस्तीनी इलाक़ों में प्रस्तावित चुनाव यथा शीघ्र फिर से निर्धारित किये जाएँ और पूर्वी येरूशेलम को भी उनमें शामिल किया जाए.