पाकिस्तान

पाकिस्तान-अफ़ग़ानिस्तान सीमा पर आवाजाही आसान बनाये जाने का स्वागत

संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी मामलों की एजेंसी (UNHCR) ने पाकिस्तान प्रशासन द्वारा अफ़ग़ानिस्तान से लगी सीमा पर लोगों और सामान की आवाजाही को सरल बनाने के लिये क़दम उठाये जाने का स्वागत किया है. हाल के दिनों में सीमा चौकी पर आवाजाही में आए व्यवधान से बड़ी संख्या में अफ़ग़ान नागरिक प्रभावित हुए हैं और व्यापार पर भी असर पड़ा है. 

पाकिस्तान: बलूचिस्तान में भूकम्प से अनेक लोग हताहत

पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रान्त में आए एक शक्तिशाली भूकम्प में, कम से कम 41 लोगों की मौत होने और 300 से अधिक लोगों के घायल होने की ख़बरें हैं. मानवीय राहत मामलों में समन्वय के लिये यूएन कार्यालय (UNOCHA), राहत एवं बचाव कार्य में सम्भावित मदद के लिये स्थानीय प्रशासन के साथ सम्पर्क में है. 

पाकिस्तान का सुझाव, मौजूदा अफ़ग़ान सरकार को स्थिर बनाने में सभी का हित

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने यूएन महासभा की जनरल डिबेट को सम्बोधित करते हुए, अन्तरराष्ट्रीय समुदाय से, अफ़ग़ानिस्तान में “मौजूदा सरकार को मज़बूत करने” और “देश के लोगों की बेहतरी की ख़ातिर, उसे स्थिर किये जाने का आहवान किया है.”

मानवीय सहायता उड़ानों का काबुल पहुँचना, संकट में एक अहम मोड़: WFP 

संयुक्त राष्ट्र के विश्व खाद्य कार्यक्रम (WFP) ने मंगलवार को कहा है कि अफ़ग़ानिस्तान में, 15 अगस्त को, सत्ता पर तालेबान का नियंत्रण स्थापित हो जाने के बाद, काबुल के लिये मानवीय सहायता सामग्री ले जाने वाली विमान उड़ानें शुरू होना, संकट काल में एक महत्वपूर्ण मोड़ है.

अफ़ग़ानिस्तान: विस्थापितों के सामने हैं बहुत कठिन चुनौतियाँ

संयुक्त राष्ट्र के अन्तरराष्ट्रीय प्रवासन संगठन (IOM) का कहना है कि अफ़ग़ानिस्तान में, तालेबान की बढ़ती गतिविधियों के परिणामस्वरूप, लड़ाई में वृद्धि हुई है जिसके कारण विस्थापितों की की सहायता के लिये ज़्यादा प्रयास नहीं किये गए तो, उनकी स्थिति और भी ज़्यादा बदतर होने की आशंका है. 

सुरक्षा परिषद: भारत ने क्षेत्रीय व समुद्री सुरक्षा पर दिया ज़ोर

भारत ने, अगस्त महीने के लिये सुरक्षा परिषद की अध्यक्षता सम्भालते हुए कहा है कि जम्मू कश्मीर से सम्बन्धित तमाम मुद्दों का समाधान ऐसे माहौल में तलाश किया जाना चाहिये जो आतंक, शत्रुता और हिंसा से मुक्त हो. 

कोविड-19: 'कोवैक्स' के तहत पाकिस्तान भेजी गईं 12 लाख ख़ुराकें 

कोरोनावायरस वैक्सीन के न्यायसंगत वितरण के लिये संयुक्त राष्ट्र के ‘कोवैक्स’ कार्यक्रम के ज़रिये 12 लाख से ज़्यादा ख़ुराकों की खेप पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद पहुँची हैं. कोवैक्स कार्यक्रम की मदद से अब तक पाकिस्तान में कोविड-19 की 50 लाख ख़ुराकें वितरित की जा चुकी हैं.

अफ़ग़ानिस्तान: हालात गम्भीर, इस वर्ष दो लाख 70 हज़ार नए लोग विस्थापित

संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी – UNHCR ने कहा है कि अफ़ग़ानिस्तान में विदेशी सेनाओं की वापसी और तालेबान की बढ़त के बीच, देश में, जनवरी (2021) से अब तक लगभग दो लाख 70 हज़ार लोगों को अपने घर छोड़कर विस्थापित होने के लिये मजबूर होना पड़ा है.

दक्षिण एशिया में नाइट्रोजन प्रदूषण की रोकथाम ज़रूरी

नाइट्रोजन एक दोधारी तलवार है. यह उर्वरकों का एक प्रमुख तत्व है और गेहूँ व मक्का जैसी आवश्यक फ़सलों के विकास में मदद देता है. मगर, बहुत अधिक नाइट्रोजन से वायु प्रदूषित हो सकती है, मिट्टी नष्ट हो सकती है और समुद्र में बेजान "मृत क्षेत्र" पैदा हो सकता है. पाकिस्तान के फ़ैसलाबाद शहर के कृषि विश्वविद्यालय में खेती में नाइट्रोजन उपयोग के प्रमुख विशेषज्ञ तारिक़ अज़ीज, 'दक्षिण एशिया नाइट्रोजन हब' के मुख्य भागीदार भी हैं, जो आठ देशों में नाइट्रोजन के टिकाऊ उपयोग का समर्थन करता है. यूएन पर्यावरण कार्यक्रम (UNEP) ने तारिक़ अज़ीज से इस दिशा में उनके प्रयासों और पारिस्थितिकी तंत्र की बहाली के विषय में विस्तार से बातचीत की.