नॉवल कोरोनावायरस

कोविड-19 से मृत्यु संख्या 20 लाख

संयुक्त राष्ट्र महासचिव ने कहा कि हमारी दुनिया एक हृदय विदारक पड़ाव पर पहुँच गई है: कोविड19 महामारी ने अब 20 लाख ज़िन्दगियाँ ख़त्म कर दी हैं.इस दहला देने वाली संख्या के पीछे नाम और चेहरे हैं: एक ऐसी मुस्कान, जो अब केवल यादें बनकर रह गई है, खाने की मेज़ पर अब कोई कुर्सी हमेशा के लिये ख़ाली हो गई है, एक ऐसी जगह जहाँ प्रियजनों की ख़ामोशियाँ गूँजती हैं...

मानवाधिकार दिवस: महामारी पर जवाबी कार्रवाई में मानवाधिकारों पर बल 

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने गुरुवार को 'मानवाधिकार दिवस' के अवसर पर अपने सन्देश में एक अपील जारी करते हुए कहा है कि कोविड-19 पर जवाबी कार्रवाई और महामारी से उबरने के प्रयासों के केन्द्र में मानवाधिकारों को रखना होगा. महासचिव गुटेरेश के मुताबिक हर जगह, हर एक व्यक्ति के लिये, एक बेहतर भविष्य हासिल करने के लिये यह बेहद अहम है. 

गुणवत्तापरक मानसिक स्वास्थ्य सेवाओं में निवेश बढ़ाने की पुकार

वैश्विक महामारी कोविड-19 से उपजे गहरे संकट से तेज़ी से उबरने के लिये यह ज़रूरी है कि सभी ज़रूरतमन्दों को गुणवत्तापूर्ण मानसिक स्वास्थ्य देखभाल उपलब्ध कराई जाए. संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने शनिवार, 10 अक्टूबर, को ‘विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस’ के अवसर पर आगाह किया है कि कोरोनावायरस के कारण लोगों के मानसिक स्वास्थ्य पर भारी असर हुआ है और इसके दुष्परिणामों से निपटने के लिये संसाधन निवेश की तत्काल सख़्त ज़रूरत है. 

कोविड-19: मृतक संख्या दस लाख, 'दिमाग़ों को सुन्न कर देने वाला एक पड़ाव'

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने दुनिया भर में कोविड-19 महामारी के कारण होने वाली मौतों की संख्या 10 लाख होने पर कहा है कि निसन्देह, ये आँकड़ा, एक तकलीफ़देह पड़ाव के रूप में हमारे दिमाग़ों को सुन्न करने वाला है, मगर विश्व को हर एक इनसान की ज़िन्दगी को नज़रों से ओझल नहीं होने देना होगा.

कोविड-19: महामारी के ख़िलाफ़ लड़ाई में 'रैपिड टैस्ट' होंगे नए औज़ार

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के महानिदेशक टैड्रॉस एडहेनॉम घेबरेयेसस ने कोरोनावायरस संक्रमण का मिनटों में पता लगाने वाले टैस्ट को स्वीकृति मिलने की घोषणा की है.  प्रति यूनिट पाँच डॉलर क़ीमत वाली ऐसी 12 करोड़ परीक्षण किटें अगले छह महीनों में साझीदार संगठनों के साथ मिलकर तैयार की जाएँगी जिनसे निम्न व मध्य आय वाले देशों में परीक्षणों का दायरा बढ़ाने में सफलता मिलने की उम्मीद है. 

दरकती दुनिया को कोविड-19 से ख़तरा, शान्ति की पुकार

जापान में प्रचलित एक सिद्धान्त के अनुसार टूटी हुई वस्तुओं में भी ख़ूबियाँ तलाश की जाती हैं. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने गुरुवार को यूएन मुख्यालय में 21 सितम्बर को मनाए जाने वाले अन्तरराष्ट्रीय शान्ति दिवस से पहले गुरूवार को आयोजित एक वार्षिक कार्यक्रम में वैश्विक आग्रह किया कि ऐसे समय जब दुनिया दरक रही है, कोविड-19 से उबरने की प्रक्रिया के दौरान इसी सिद्धान्त को अपनाए जाने की आवश्यकता है.  

साक्षात्कार: समान और न्यायपूर्ण दुनिया ही वक़्त की ज़रूरत - यूएन प्रमुख

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने यूएन न्यूज़ के साथ एक ख़ास बातचीत में कोविड-19 के प्रसार पर चिन्ता जताई है और महामारी के बाद बेहतर पुनर्निर्माण, सतत पुनर्बहाली, समानता व बहुपक्षवाद बढ़ाने पर ज़ोर दिया है. संयुक्त राष्ट्र की 75वीं वर्षगाँठ और महासभा के 75वें सत्र के मौक़े पर दिये इस साक्षात्कार में महासचिव ने एक समान व न्यायपूर्ण व टिकाऊ दुनिया के निर्माण का आहवान किया है.

कोविड19: यूनिफ़िल की मुस्तैदी

यूनिफ़िल ने लेबनान के दक्षिणी हिस्से में कोविड-19 से बचाव के ऐहतियाती उपायों के तहत अपने शान्तिरक्षकौों के लिये सख़्त नियमों वाली रोटेशन व्यवस्था लागू की है. इसका मक़सद है – शान्तिरक्षकों और मेज़बान समुदाय को कोरोनावयरस के संक्रमण से बचाना. देखिये एक वीडियो रिपोर्ट...

फ़ेस मास्क पहनें और सुरक्षित रहें!

बचिये! कोरोनावायरस का सुपर विलेन आपके पीछे आ रहा है!!! लेकिन आपको भागने, छिपने या डरने की ज़रूरत नहीं है. आपको ज़रूरत है - केवल फ़ेस मास्क पहनने की! देखें इस वीडियो में...

कोविड-19: अरब क्षेत्र में 'व्यवस्थागत ख़ामियों व हिंसक संघर्षों से निपटने का अवसर'

अरब देशों को वैश्विक महामारी कोविड-19 से निपटने की कार्रवाई में अनेक मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है लेकिन यह महामारी लम्बे समय से चले आ रहे हिंसक संघर्षों और पूरे क्षेत्र में ढाँचागत ख़ामियों को दूर करने का भी एक अवसर प्रदान करती है. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने महामारी से अरब क्षेत्र की बेहतर पुनर्बहाली के लिये गुरुवार को अपना नीतिपत्र (Policy brief) जारी करते हुए यह बात कही है.