महासचिव

नागोर्नो-काराबाख़ में दोनों पक्ष आम लोगों की सुरक्षा के लिये ज़िम्मेदार

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने संघर्षरत नागोर्नो-काराबाख़ में और उसके आसपास के आबादी वाले इलाक़ों में ताज़ा हमलों की निन्दा की है. इस बीच आर्मीनिया और अज़रबैजान ने एक दूसरे पर ताज़ा मानवीय सहायता युद्धविराम समझौते का उल्लंघन करने का आरोप लगाया है.

यमन: युद्ध और कोविड-19 से लाखों लोग तबाही के कगार पर

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने गुरुवार को बताया कि पाँच साल से अधिक समय से चल रहे युद्ध ने "यमन के करोड़ों लोगों का जीवन तबाह कर दिया है." विशेषज्ञों का अनुमान है कि यमन में लगभग दस लाख लोग कोविड-19 से प्रभावित हुए हैं.

यूएन महासभा: ‘बहुपक्षवाद की आवश्यकता’ को रेखांकित करता 75वाँ सत्र शुरू

संयुक्त राष्ट्र महासभा का 75वाँ सत्र सोमवार, 15 सितम्बर को शुरू हो गया है जिसमें विश्व के सामने मौजूद कोविड महामारी की अभूतपूर्व चुनौती के मद्देनज़र, एक क्षण का मौन रखा गया. इस अवसर पर महासभा के नए अध्यक्ष वोल्कान बोज़किर ने कहा कि कोरोनोवायरस ने हमें ये समझने पर मजबूर कर दिया है कि "हमारी सामूहिक चुनौतियों का सामना करने के लिये" बहुपक्षवाद कितना आवश्यक है.

नागासाकी: जीवितों का साहस बने परमाणु हथियारों के उन्मूलन की प्रेरणा

संयुक्त राष्ट्र महासचिव  एंतोनियो गुटेरेश ने जापान के नागासाकी शहर में परमाणु हमले के 75 वर्ष पूरे होने के अवसर पर हीमाकुशा लोगों के साहस और सहनशील नज़रिये की सराहना की है. उस परमाणु हमले में जीवित बचे लोगों को हीबाकुशा कहा जाता है. 

पूर्व महासचिव पेरेज़ डी कुएइए को 100वें जन्म दिवस पर बधाई

संयुक्त राष्ट्र के पाँचवें महासचिव जेवियर पेरेज़ डी कुएइए ने रविवार 19 जनवरी 2020 को अपना 100वाँ जन्म दिवस मनाया. पेरेज़ डी कुएइए का संयुक्त राष्ट्र के साथ बिल्कुल पहला कामकाज महासभा की 1946 में हुई बैठक के साथ शुरू हुआ था.

हेती: भूकंप के प्रभावितों की याद, भविष्य संवारने में मदद का वादा भी

हेती में जनवरी 2010 में आए विनाशकारी भूकंप में लगभग दो लाख 20 लोगों की मौत हो गई थी और तीन लाख से ज़्यादा घायल हुए थे. मृतकों में संयुक्त राष्ट्र के 102 कर्मचारी भी थे.  केवल 35 सेकंड तक चले 7.0 की तीव्रता वाले उस भूकंप के बाद लगभग 15 लाख लोग बेघर भी हो गए थे. भूकंप के दस वर्ष पूरे होने के अवसर पर प्रभावितों को यूएन मुख्यालय में शुक्रवार को आयोजित एक विशेष कार्यक्रम में सम्मान के साथ याद किया गया.