मौसम विज्ञान

2020, अब तक के तीन सबसे गर्म सालों में से एक: यूएन मौसम विज्ञान एजेंसी

संयुक्त राष्ट्र की मौसम विज्ञान एजेंसी (WMO) के अनुमान दर्शाते हैं कि वर्ष 2020 अब तक के तीन सबसे गर्म सालों में से एक रहा है और वर्ष 2016 को पीछे धकेल कर अब तक का सर्वाधिक गर्म साल साबित होने का रिकॉर्ड भी बनाने के नज़दीक था.  

मौसम सम्बन्धी घटनाओं के असर पर ध्यान केन्द्रित करना होगा

जलवायु परिवर्तन के कारण चरम मौसम और जलवायु सम्बन्धी घटनाओं की आवृत्ति, तीव्रता और गम्भीरता में बढ़ोत्तरी हुई है जिसका निर्बल समुदायों पर गहरा और ग़ैर-आनुपातिक असर हो रहा है. संयुक्त राष्ट्र मौसम विज्ञान एजेंसी (WMO) की एक नई रिपोर्ट में हालात की गम्भीरता की ओर ध्यान आकर्षित करते हुए असरदार समय-पूर्व चेतावनी प्रणालियों में ज़्यादा संसाधन निवेश किये जाने की अहमियत को रेखांकित किया गया है. 

आर्कटिक में तापमान के नए कीर्तिमान की सम्भावना

विश्व मौसम विज्ञान एजेंसी (WMO) ने उन रिपोर्टों को अपनी स्वीकृति दे दी है जिनमें आर्कटिक सर्किल में अब तक का सबसे अधिक तापमान दर्ज किया गया है.  पिछले सप्ताहान्त रूस के एक गाँव में 38 डिग्री सेल्सियस (100.4F) तापमान दर्ज किया गया जोकि एक रिकॉर्ड है, हालाँकि अन्तरराष्ट्रीय विशेषज्ञों द्वारा इस आँकड़े की सटीकता की अन्तिम पुष्टि अभी किया जाना बाक़ी है. 

भारत में चक्रवाती तूफ़ान की रफ़्तार धीमी, जान-माल का नुक़सान

विश्व मौसम विज्ञान संगठन में भारत के स्थाई प्रतिनिधि डॉक्टर मृत्युन्जय मोहापात्रा ने यूएन न्यूज़ हिन्दी के साथ बातचीत में बताया है कि गुरुवार को चक्रवाती तूफ़ान ‘अम्फन‘ की रफ़्तार धीमी पड़ गई थी. बुधवार को सुपर सायक्लोन अम्फन पश्चिम बंगाल और ओडिशा में हवा के तेज़ झोंके और भारी बारिश लाया जिससे जान-माल का भारी नुक़सान हुआ है. 

कोविड-19: मौसम निगरानी प्रणाली की सटीकता पर संदेह के बादल

संयुक्त राष्ट्र की मौसम विज्ञान एजेंसी (WMO) ने कोविड-19 के कारण मौसम पूर्वानुमान प्रणाली और निगरानी प्रक्रिया में आने वाले व्यवधान पर चिंता जताई है. यूएन एजेंसी का कहना है कि ऑंकड़ों की उपलब्धता और मौसम विश्लेषण की गुणवत्ता प्रभावित होने से पूर्व चेतावनी प्रणाली पर भी असर पड़ने की आशंका है. 

जल की बूंद-बूंद को सहेजा जाना ज़रूरी

बाढ़, भारी बारिश, सूखा और पिघलते हिमनद...जलवायु परिवर्तन के कई बड़े संकेत स्पष्ट रूप से जल पर आधारित हैं. इस वर्ष विश्व मौसम विज्ञान दिवस पर यूएन की मौसम विज्ञान एजेंसी ने जल और जलवायु के आपसी संबंध को रेखांकित करते हुए जल संबंधी ऑंकड़ों की बेहतर उपलब्धता सुनिश्चित करने की पुकार लगाई है.   
 

ऑस्ट्रेलिया में 'विनाशकारी' दावानल: सतर्कता बरतने की चेतावनी

ऑस्ट्रेलिया के जंगलों में भीषण आग जारी रहने से भारी तबाही की आशंका व्यक्त की गई है. संयुक्त राष्ट्र के मौसम विज्ञान विशेषज्ञों ने ऑस्ट्रेलियाई सरकार की चेतावनी को दोहराते हुए लोगों को सचेत किया है कि तेज़ी से फैलते ख़तरे और विस्फोटक स्थिति में हर हाल में सतर्कता बरती जानी चाहिए.

जलवायु विशेषज्ञों ने पर्वतों के क्षरण से निपटने का संकल्प लिया

संयुक्त राष्ट्र की मौसम विज्ञान संस्था (WMO) और साझेदार संगठनों ने जलवायु परिवर्तन के कारण उच्च पर्वतीय क्षेत्रों में ग्लेशियरों की बर्फ़ पिघलने और जल उपलब्धता का संकट बढ़ने की आशंका के मद्देनज़र गुरुवार को एक नई पहल की घोषणा की है. इस पहल के तहत उच्च पर्वतीय क्षेत्रों की निगरानी और पूर्वानुमान तकनीकों को बेहतर बनाने पर प्रयास केंद्रित किए जाएंगे.