मुद्रास्फ़ीति

यूक्रेन की राजधानी कीयेव में बमबारी के बाद मलबे के पास खड़ी एक महिला.
© UNDP/Oleksandr Ratushniak

यूक्रेन में युद्ध के कारण बढ़ती महंगाई, निर्धनता के गर्त में धँसते लोग

संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (UNDP) की एक नई रिपोर्ट में चेतावनी जारी की गई है कि वैश्विक खाद्य व ऊर्जा क़ीमतों में आए तेज़ उछाल के कारण, मार्च 2022 के बाद के तीन महीनों में, विकासशील देशों में सात करोड़ 10 लाख से अधिक लोग निर्धनता के गर्त में समा गए हैं. यूएन एजेंसी के अनुसार, यूक्रेन में युद्ध के कारण, निर्धनता दर पर हुआ असर, कोविड-19 महामारी से उपजे व्यवधान से कहीं अधिक तेज़ी से हुआ है.

एफ़डीआई के मौजूदा स्तर से, पिछले साल कोविड-19 संकट के कारण हुए नुक़सान के 70 प्रतिशत की क्षतिपूर्ति हो गई है.
Unsplash/Josue Isai Ramos Figuer

कोविड-19: विषमतापूर्ण पुनर्बहाली के बीच, वैश्विक निवेश के स्तर में सुधार

पिछले वर्ष कोविड-19 महामारी के कारण प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफ़डीआई) में आई बड़ी गिरावट के बाद, वर्ष 2021 की पहली छमाही में निवेश में मज़बूत सुधार देखने को मिला है और छह महीनों में इसने 852 अरब डॉलर के स्तर को छुआ है. यह सुधार अनुमान से कहीं बेहतर बताया गया है.