महिलाएँ

एड्स के लिये ज़िम्मेदार एचआईवी (वायरस) का मुक़ाबला करने के लिये, सुलभ परीक्षण एक महत्वपूर्ण उपकरण है.
Public Health Alliance/Ukraine

एड्स की रोकथाम के वैश्विक प्रयासों में, लैंगिक विषमताएँ हैं बड़ी बाधा

एचआईवी संक्रमण और एड्स के ख़िलाफ़ लड़ाई के प्रयासों की अगुवाई कर रही संयुक्त राष्ट्र एजेंसी – UNAIDS ने मंगलवार को प्रकाशित एक रिपोर्ट में कहा है कि असमानता, दुनिया को एड्स पर वैश्विक लक्ष्यों की प्राप्ति से रोकेगी, मगर एक महिलावादी मार्ग, देशों को फिर से सही रास्ते पर चला सकता है.

अफ़ग़ानिस्तान में, अगस्त 2021 में तालेबान की सत्ता वापसी के बाद, महिलाओं और लड़कियों की ज़िन्दगी में तूफ़ान आ गया है.
Sayed Habib Bidel/UNWomen

तालेबान द्वारा महिलाओं के मानवाधिकार उल्लंघन, माने जा सकते हैं - मानवता के विरुद्ध अपराध

संयुक्त राष्ट्र के 11 स्वतंत्र मानवाधिकार विशेषज्ञों ने शुक्रवार को कहा है कि अफ़ग़ानिस्तान में सत्ताधीन तालेबान शासकों द्वारा महिलाओं और लड़कियों को निशाना बनाने की नवीनत गतिविधियों की जाँच, लैंगिक प्रताड़ना के रूप में की जानी चाहिए.

महिलाओं व लड़कियों के विरुद्ध हिंसा का उन्मूलन करने के लिए, UNiTE अभियान के तहत ग्वाटेमाल सिटी में एक दीवार पर चित्रकारी.
UN Women/Carlos Rivera

‘महिलाओं के विरुद्ध हिंसा का अन्त करना होगा’ यूएन एजेंसियाँ

संयुक्त राष्ट्र की 11 विभिन्न एजेंसियों ने शुक्रवार को, महिलाओं के विरुद्ध हिंसा (VAWG) का उन्मूलन करने के अन्तरराष्ट्रीय दिवस पर कहा है कि ये हिंसा ना केवल भेदभाव के भीषणतम रूपों में से एक है, बल्कि ये दुनिया भर में सर्वाधिक व्यापक और लगातार मानवाधिकार उल्लंघनों में से एक बनी हुई है.

ईरान में 22 वर्षीय महिला महसा अमीनी की मौत, हिजाब सम्बन्धी विवाद में होने के बाद, स्वीडन में भी विरोध प्रदर्शन हुए हैं.
Unsplash/Artin Bakhan

ईरान: यूएन मानवाधिकार परिषद द्वारा जाँच मिशन गठित

यूएन मानवाधिकार प्रमुख वोल्कर टूर्क द्वारा, ईरान में प्रदर्शनकारियों के विरुद्ध घातक हिंसा के लगातार प्रयोग की एक स्वतंत्र जाँच की मांग उठाए जाने के बाद, जिनीवा स्थित यूएन मानवाधिकार परिषद ने 16 सितम्बर 2022 को शुरू हुए इन प्रदर्शनों के सम्बन्ध में एक जाँच मिशन गठित किया है.

लैटिन अमेरिका और कैरेबियाई महिलाओं ने कोलंबिया के बोगोटा की सड़कों पर मार्च निकाला और महिलाओं और लड़कियों के ख़िलाफ हिंसा को खत्म करने की माँग की.
UN Women

बहुत सी महिलाओं व लड़कियों के लिए उनका घर ही बना ‘सबसे ख़तरनाक स्थान’, यूएन रिपोर्ट

संयुक्त राष्ट्र की दो एजेंसियों ने बुधवार को प्रकाशित एक हैरान करने वाली नई रिपोर्ट में कहा कि वर्ष 2021 में हर घंटे औसतन पाँच से अधिक महिलाओं या लड़कियों की हत्या, उनके ही परिवार किसी सदस्य ने कर दी . संयुक्त राष्ट्र के ड्रग्स एवं अपराध निरोधक कार्यालय (UNODC) और यूएन महिला संगठन  (UN Women) के एक नवीन अध्ययन में ये बात सामने आई है.

महिलाओं के विरुद्ध हिंसा का अन्त करने की मांग के साथ, उरुग्वे में एक महिला आन्दोलन
UN Women/Sahand Minae

महिलाओं व लड़कियों के विरुद्ध हिंसा को ‘इतिहास की पुस्तकों में’ समेट दें

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने महिलाओं के विरुद्ध हिंसा का अन्त करने के लिए अन्तरराष्ट्रीय दिवस के अवसर पर बुधवार को कहा है कि हर 11वें मिनट कोई महिला या लड़की, अपने अन्तरंग साथी या परिवार के सदस्य के हाथों अपनी जान गँवा देती है. उन्होंने 25 नवम्बर को मनाए जाने वाले इस दिवस के मौक़े पर सभी से महिलाओं और लड़कियों के विरुद्ध हिंसा को, अतीत की बात बना देने का आग्रह भी किया है.

अफ़ग़ानिस्तान के कन्दहार में यूनीसेफ़-समर्थित एक स्वास्थ्य केंद्र में प्रतीक्षा कक्ष.
© UNICEF/Alessio Romenzi

अफ़ग़ानिस्तान: आर्थिक बदहाली के बीच, बढ़ते अपराध और पनपता आतंकवाद

संयुक्त राष्ट्र महासभा के अध्यक्ष कसाबा कोरोसी ने गुरूवार को आगाह किया कि अफ़ग़ानिस्तान में दो-तिहाई लोग भूख की मार झेल रहे हैं, लड़कियों की शिक्षा पर तालेबानी आदेश लागू किए गए हैं, जबकि अफ़ीम उत्पादन में बड़ी बढ़ोत्तरी के परिणामस्वरूप अपराध और आतंकवाद एक बार फिर फल-फूल रहे हैं.

UN News

आतंकवाद निरोधक समिति की बैठक: लैंगिक दृष्टिकोण अपनाए जाने की अहमियत रेखांकित

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की आतंकवाद निरोधक समिति की दो-दिवसीय विशेष बैठक 28 व 29 अक्टूबर को भारत में आयोजित हुई है. इस बैठक में आतंकी गुटों द्वारा नई व उभरती टैक्नॉलॉजी के प्रयोग से पनप रहे ख़तरों के अनेक पहलुओं पर चर्चा हुई.

इस बैठक में हुई चर्चा में, सदस्य देशों के प्रतिनिधियों, यूएन अधिकारियों, नागरिक समाज संस्थाओं, निजी सैक्टर और शोधकर्ताओं ने शिरकत की. 

ऑडियो
5'6"
ईरान की एक महिला महसा अमीनी की हिजाब सम्बन्धी विवाद में मौत होने के बाद, बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन भड़क उठे हैं. ऐसा ही विरोध प्रदर्शन अमेरिका के कैलीफ़ोर्निया में भी हुआ.
© Unsplash/Craig Melville

ईरान: सुरक्षा बलों को जवाबदेह ठहराने में, अन्तरराष्ट्रीय समुदाय की ठोस कार्रवाई का समय

संयुक्त के एक स्वतंत्र मानवाधिकार विशेषज्ञ जावेद रहमान ने गुरूवार को कहा है कि ईरान में चल रहे हिजाब विरोधी प्रदर्शनों पर सरकारी क्रूर और लगातार दमन की निन्दा पर्याप्त नहीं है, और उन्होंने एक अन्तरराष्ट्रीय जाँच-प्रणाली गठित किये जाने का आहवान किया है.

मिस्र की राजधानी काहिरा में, एक महिला कार्यकर्ता, यौन उत्पीड़न के विरुद्ध अभियान चलाते हुए.
UN Women/Fatma Elzahraa Yassin

नगर बनें महिलाओं के लिये सुरक्षित: व्यापक परिवर्तनों की पुकार

संयुक्त राष्ट्र की सोमवार को जारी एक रिपोर्ट में कहा गया है कि नगरों में महिलाओं के विरुद्ध एक पूर्व निर्मित पूर्वाग्रह बसा हुआ है जिसके कारण शहर और नगर, महिलाओं के लिये असुरक्षित व अनुपयुक्त हैं. रिपोर्ट में नगरों व शहरों का रूप पूरी तरह से बदले जाने और नगर नियोजन में, महिलाओं की ज़्यादा निकट भागेदारी सुनिश्चित किये जाने की पुकार भी लगाई गई है.