मानवीय राहत

सीरिया के इदलिब में संघर्षविराम पर सुरक्षा परिषद सहमति से दूर

सीरिया के इदलिब प्रांत में सरकारी सुरक्षा बलों और विद्रोहियों के बीच चल रही लड़ाई को रोकने के लिए सुरक्षा परिषद में गुरूवार को दो प्रस्ताव लाए गए लेकिन दोनों ही पारित नहीं हो पाए. लंबे समय से गृहयुद्ध से जूझ रहे सीरिया के इदलिब प्रांत में विद्रोहियों का व्यापक दबदबा है जिसे तोड़ने के लिए सुरक्षा बल अभियान चला रहे हैं लेकिन इससे बड़ी संख्या में लोग विस्थापन का शिकार हुए हैं और वहां मानवीय संकट खड़ा हो गया है.

यमन में छीना जा रहा है 'बच्चों के मुंह से निवाला'

संयुक्त राष्ट्र विश्व खाद्य कार्यक्रम (WFP) के प्रमुख डेविड बीज़ली ने क्षोभ व्यक्त करते हुए कहा है कि यमन में हुती विद्रोहियों के नियंत्रण वाले इलाक़ों में भूखे बच्चों के मुंह से निवाला छीना जा रहा है. सुरक्षा परिषद को जानकारी देते हुए उन्होंने स्पष्ट कर दिया है कि अगर समझौतों का सम्मान नहीं हुआ तो कुछ ही दिनों में भोजन सामग्री की सहायता को रोक दिया जाएगा.

सीरिया के इदलिब प्रांत में टकराव बढ़ने के 'विनाशकारी नतीजे' होंगे

संयुक्त राष्ट्र में राजनीतिक और मानवीय मामलों के प्रमुखों ने सुरक्षा परिषद से सीरिया के इदलिब प्रांत के आसपास जारी हिंसा को तत्काल रोके जाने की अपील की है. उन्होंने आगाह किया कि टकराव बढ़ने के विनाशकारी परिणाम होंगे इसलिए सीरियाई जनता के लिए राजनीतिक समाधान तलाशे जाने के प्रयास होने चाहिए.

वेनेज़्वेला में मानवीय स्थिति बदतर, 70 लाख लोगों को मदद की दरकार

वेनेज़्वेला मुद्दे पर परस्पर विरोधी प्रस्तावों के पारित न हो पाने के करीब एक महीने बाद वहां कायम स्थिति पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में फिर चर्चा हुई है. बुधवार की बैठक में वेनेज़्वेला को एक बड़ी वास्तविक मानवीय समस्या बताया गया है जहां 70 लाख लोगों को सहायता की ज़रूरत है और हर दिन पांच हज़ार लोग देश छोड़कर जाने को मजबूर हैं. 

सीरिया में शांति स्थापना अंतरराष्ट्रीय समुदाय का 'नैतिक दायित्व'

दुनिया भर में सरकारों का नैतिक दायित्व बनता है कि वे सीरियाई नागरिकों को उनके साझा भविष्य के लिए एक साथ लाने में सहायता प्रदान करें. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने सीरिया में आठ साल से चले आ रहे संघर्ष के अंत के लिए इसे ज़रूरी बताया है. 

यमन में मानवीय मदद के लिए 2.6 अरब डॉलर का संकल्प

यमन में जारी संकट से निपटने के लिए हो रहे प्रयासों के तहत दानदाता देशों ने मानवीय राहत अभियानों के लिए 2.6 अरब डॉलर की सहायता राशि प्रदान करने का संकल्प लिया है. यह धनराशि पिछले साल के मुक़ाबले 30 फ़ीसदी अधिक है जिससे यमन में विकट परिस्थितियों में रह रहे लाखों लोगों तक मानवीय राहत पहुंचाने के काम में मदद मिल सकेगी. 

लीबिया: मानवीय संकट का शिकार लोगों के लिए करोड़ों डॉलर की आवश्यकता

संयुक्त राष्ट्र और साझेदार संगठनों ने लीबिया में अंतरिम सरकार के साथ मिलकर मंगलवार को मानवीय राहत के लिए योजना को प्रस्तुत किया जिसमें 20 करोड़ डॉलर की अपील जारी की गई है. इस सहायता राशि के ज़रिए मानवीय संकट से जूझ रहे साढ़े पांच लाख से अधिक महिलाओं, बच्चों और पुरुषों के लिए जीवन-रक्षक सेवाओं को सुनिश्चित करने में मदद मिल सकेगी. 

छह महीने में पहली बार पश्चिमी यमन में मदद पहुंची

विश्व खाद्य कार्यक्रम (WFP) को यमन में हिंसक संघर्ष से प्रभावित हज़ारों परिवारों तक राशन और अन्य राहत सामग्री पहुंचाने में सफलता मिल गई है. पिछले साल जुलाई के बाद यह पहली बार है जब लोगों को सहायता दी जा रही है जो शांति के लिए हो रहे प्रयासों का नतीजा है.