मानवाधिकार उल्लंघन

नेपाल: संक्रमणकालीन न्याय प्रक्रिया के ज़रिये, जवाबदेही व मुआवज़ा सुनिश्चित किये जाने पर ज़ोर

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त कार्यालय (OHCHR) ने नेपाल में एक दशक लम्बी हिंसा पर विराम लगाने वाले शान्ति समझौते के संकल्पों को वास्तविकता में पूरा किया जाने की आवश्यकता पर बल दिया है. यूएन एजेंसी का मानना है कि संक्रमणकालीन न्याय प्रक्रिया के ज़रिये मानवाधिकार उल्लंघनों के मामलों में जवाबदेही और पीड़ितों के लिये मुआवज़ा तय करने से, स्थाई शान्ति की ज़मीन तैयार करने में मदद मिलेगी. 

कोविड-19: वृद्धजनों के साथ हिंसा व दुर्व्यवहार के मामलों में उछाल

संयुक्त राष्ट्र की स्वतंत्र मानवाधिकार विशेषज्ञ क्लॉडिया माहलेर ने बुज़ुर्गों के साथ होने वाले दुर्व्यवहार के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिये, 15 जून को विश्व दिवस पर ऐसे उपायों को अपनाने की पुकार लगाई है जिनसे वृद्धजनों के लिये न्याय को सुनिश्चित किया जा सके.

म्याँमार: सेना की पूरी कोशिश, 'दुनिया के सामने सच्चाई ना आए'

म्याँमार में मानवाधिकारों की स्थिति पर सयुक्त राष्ट्र के विशेष रैपोर्टेयर टॉम एण्ड्रयूज़ ने यूएन न्यूज़ के साथ एक ख़ास इण्टरव्यू में बताया है कि सैन्य नेतृत्व पूरी कोशिश कर रहा है कि देश से सच को बाहर जाने से रोका जा सके. उनके मुताबिक़ सेना नहीं चाहती है कि म्याँमार में हालात के बारे में, दुनिया को सही जानकारी मिल सके. यूएन विशेषज्ञ ने उन उपायों का इस्तेमाल किये जाने की सिफ़ारिश की है कि जोकि अतीत में सफल साबित हो चुके हैं.  

थाईलैण्ड: सरकार से शान्तिपूर्ण विरोध प्रदर्शनों को अनुमति देने का आग्रह 

संयुक्त राष्ट्र के स्वतन्त्र मानवाधिकार विशेषज्ञों ने थाईलैण्ड में आपातकालीन हालात लागू किये जाने को एक बेहद कठोर क़दम क़रार देते हुए सरकार से आग्रह किया है कि देश की जनता को शान्तिपूर्वक एकत्र होने और आज़ाद ढँग से अपनी बात कहने के अधिकारों की गारण्टी मिलनी चाहिये. 

नाइजीरिया में कथित पुलिस क्रूरता पर रोक लगाने की मांग

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने कहा है कि नाइजीरिया में घटनाक्रम पर वह नज़दीकी नज़र रख रहे हैं. ग़ौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों में देश में प्रदर्शनकारियों के हताहत होने की ख़बरें मिली हैं जिनके बाद यूएन महासचिव ने कथित रूप से पुलिस क्रूरता और दुर्व्यवहार पर लगाम लगाने की माँग की है.

दक्षिण सूडान: भुखमरी का युद्ध के औज़ार के रूप में इस्तेमाल

संयुक्त राष्ट्र समर्थित मानवाधिकार आयोग ने कहा है कि दक्षिण सूडान में बर्बर हिंसक संघर्ष में भुखमरी को जानबूझकर एक युद्ध के एक औज़ार के रूप में इस्तेमाल किया गया जिससे खाद्य असुरक्षा व कुपोषण की स्थिति और भी ज़्यादा गम्भीर हुई है. देश में मानवाधिकारों की हालत पर नज़र रखने के लिये गठित मानवाधिकार आयोग ने मंगलवार को अपनी ताज़ा रिपोर्ट जारी की है.

जबरन गुमशुदगी पर रोक लगाने के प्रयासों को मज़बूती देने का आहवान

विश्व के अनेक देशों में लोगों को जबरन ग़ायब कराए जाने की घटनाएँ व्यक्तियों के मानवाधिकार उल्लंघन के मामलों के साथ-साथ समाजों में आतंक फैलाने की रणनीति को भी दर्शाती हैं. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने रविवार, 30 अगस्त, को 'जबरन गुमशुदगी के पीड़ितों के अन्तरराष्ट्रीय दिवस' पर सदस्य देशों से इस समस्या पर विराम लगाने का आहवान किया है. 

ख़शोग्जी हत्या मामले की स्वतंत्र और निष्पक्ष जांच की मांग

सऊदी अरब मूल के पत्रकार जमाल ख़शोग्जी की हत्या के मामले में रियाद की एक अदालत ने पांच अभियुक्तों को मौत की सज़ा और तीन को जेल भेजे जाने का फ़ैसला सुनाया है. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने कोर्ट के निर्णय के बाद मामले की स्वतंत्र और निष्पक्ष जांच कराए जाने की आवश्यकता दोहराई है.  

'लोकतंत्र के लिए ज़हर' है यहूदीवाद-विरोध, शिक्षा में निवेश की अपील

धर्म या आस्था की आज़ादी पर संयुक्त राष्ट्र के विशेष रैपोर्टेयर अहमद शहीद ने कहा है कि यहूदीवाद-विरोध लोकतंत्र के लिए ज़हरीला है और अगर उससे नहीं निपटा गया तो यह सभी समाजों के लिए एक बड़ा ख़तरा बन जाएगा. न्यूयॉर्क स्थित संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने शिक्षा में ज़्यादा निवेश किए जाने की अपील भी की ताकि बढ़ते भेदभाव और नफ़रत की रोकथाम हो सके.

कार्यस्थलों पर हिंसा और उत्पीड़न पर रोक लगाने वाला ऐतिहासिक समझौता पारित

कार्यस्थल पर कर्मचारियों के साथ हिंसा और उत्पीड़न पर पाबंदी लगाने के लिए एक महत्वपूर्ण अंतरराष्ट्रीय समझौता पारित हो गया है. जिनीवा में अंतरराष्ट्रीय श्रम संगठन (ILO) के शताब्दी सम्मेलन के दौरान इस समझौते की घोषणा हुई जिसके बाद संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने सदस्य देशों और अन्य हिस्सेदारों को इस उपलब्धि के लिए बधाई दी है.