मानवीय राहत

लेबनान के बेका घाटी में एक अनौपचारिक बस्ती शिविर में अपने घर के बाहर एक युवा सीरियाई शरणार्थी.
© UNHCR/Diego Ibarra Sánchez

कड़ाके की सर्दी में, जबरन विस्थापित परिवारों के लिये बड़ा संकट

संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी (UNHCR) ने चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि विश्व में जबरन विस्थापितों के लिये, आने वाला सर्दी का मौसम हाल के वर्षों की तुलना में कहीं अधिक चुनौतीपूर्ण होगा. कईं विस्थापित परिवारों के पास भोजन और निवाच बनाए रखने में से किसी एक को चुनने के अलावा कोई विकल्प नहीं होगा.

पाकिस्तान के सिन्ध प्रान्त में बाढ़ से प्रभावित एक रिहायशी इलाक़ा.
© UNICEF/Asad Zaidi

पाकिस्तान: तबाही की ‘दूसरी लहर’ आने की आशंका, 81 करोड़ डॉलर की सहायता अपील

पाकिस्तान में संयुक्त राष्ट्र के वरिष्ठ सहायता अधिकारी ने सचेत किया है कि भीषण बाढ़ से प्रभावित देश, मौत व तबाही की एक दूसरी लहर आने की आशंका का सामना कर रहा है. यूएन मानवीय राहत एजेंसियों ने बाढ़ प्रभावित लोगों तक राहत पहुँचाने के लिये, 16 करोड़ डॉलर की धनराशि की अपील को बढ़ाकर, अब 81 करोड़ 60 लाख डॉलर कर दिया है.

यूक्रेन के ख़ारकीव में एक स्वास्थ्य केन्द्र में परिवार को मदद दी जा रही है.
© UNICEF/Christina Pashkina

यूक्रेन: ख़ारकीव क्षेत्र में डेढ़ लाख लोगों तक मानवीय राहत पहुँचाने के प्रयासों में तेज़ी 

संयुक्त राष्ट्र और साझीदार संगठनों ने यूक्रेन के उन इलाक़ों में मानवीय राहत पहुँचाने के लिये प्रयास तेज़ किये हैं, जिन्हें यूक्रेन सरकार ने कई महीनों के रूसी क़ब्ज़े के बाद, हाल ही में फिर से अपने नियंणत्र में लेने की घोषणा की थी. इनमें ख़ारकीव भी है, जहाँ हिंसक टकराव से डेढ़ लाख लोग प्रभावित हुए हैं. 

दुबई में UNHCR के वैश्विक भंडार से राहत सामग्री लदी हुई है, जो पाकिस्तान के कराची में बाढ़ पीड़ितों के लिए बाध्य है.
यूएनएचसीआर

पाकिस्तान: बाढ़ पीड़ितों के लिये सड़क व वायु मार्ग से मानवीय राहत

संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी (UNHCR) ने पाकिस्तान में मूसलाधार बारिश और भीषण बाढ़ की चपेट में आए पीड़ितों तक मानवीय राहत पहुँचाने के लिये, दुबई से विशाल स्तर पर हवाई अभियान शुरू किया है और सड़क मार्ग से भी राहत सामग्री की खेप रवाना की गई है. इसके ज़रिये दक्षिणी सिन्ध प्रान्त के सर्वाधिक प्रभावित लरकाना और सुक्कुर स्थानों में विस्थापितों तक अति-आवश्यक सामग्री की आपूर्ति सुनिश्चित की जाएगी.

पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रान्त में अपने परिवार के साथ सुरक्षित स्थान की ओर जा रहा एक बच्चा.
© UNICEF/A. Sami Malik

पाकिस्तान: विनाशकारी बाढ़ से राहत के लिये, 16 करोड़ डॉलर की राहत योजना

संयुक्त राष्ट्र ने पाकिस्तान में आई विनाशकारी बाढ़ से उपजी चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों की पृष्ठभूमि में, 16 करोड़ डॉलर की एक आपात राहत योजना पेश की है. इस योजना के ज़रिये देश में सर्वाधिक निर्बल 52 लाख लोगों तक सहायता पहुँचाने का लक्ष्य रखा गया है.

यूएन शरणार्थी एजेंसी के प्रमुख फ़िलिपो ग्रैण्डी ने यूक्रेन के इरपिन का दौरा किया, जहाँ एक हज़ार इमारतें क्षतिग्रस्त हुई हैं और 115 पूरी तरह ध्वस्त हो गई हैं.
© UNHCR/Andrew McConnell

यूक्रेन: युद्ध प्रभावितों के लिये सर्दियों में कठिनाइयाँ और बढ़ने की चेतावनी

संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी (UNHCR) ने गुरूवार को आगाह किया है कि यूक्रेन में युद्ध से प्रभावित लाखों लोगों के लिये सर्दी के महीने बेहद कठिनाई भरे साबित हो सकते हैं. यूएन एजेंसी की यह चेतावनी ऐसे समय में आई है जब यूक्रेन के पूर्वी हिस्से में भीषण लड़ाई के बीच रूसी सैन्य बल आगे बढ़ रहे हैं.

श्रीलंका में आर्थिक संकट के कारण बड़ी संख्या में आम नागरिकों को खाद्य असुरक्षा का सामना करना पड रहा है.
© WFP/Josh Estey

श्रीलंका: आसमान छूती क़ीमतों के बीच, लाखों लोग खाद्य असुरक्षा का शिकार

श्रीलंका में रिकॉर्ड स्तर पर खाद्य मुद्रास्फीति, ईंधन की आसमान छूती क़ीमतों, और बुनियादी वस्तुओं की क़िल्लत के कारण 62 लाख से अधिक नागरिक, अपना पेट भरने के लिये कठिनाइयों का सामना कर रहे हैं.

अफ़ग़ानिस्तान के पक्तिका प्रान्त में भूकम्प में ध्वस्त हो गए एक घर में पिता अपने पुत्र के साथ.
© UNICEF/Sayed Bidel

भूकम्प-प्रभावित पूर्वी अफ़ग़ानिस्तान में जीवन रक्षक सहायता की आपूर्ति

संयुक्त राष्ट्र मानवीय राहतकर्मी और साझीदार संगठन, पूर्वी अफ़ग़ानिस्तान के भूकम्प-प्रभावित इलाक़ों में सर्वाधिक निर्बल समुदायों तक आपात जीवनरक्षक सहायता पहुँचाना जारी रखने के लिये निरन्तर प्रयासरत हैं. 

अफ़ग़ानिस्तान के पक्तिका प्रान्त में 5.9 की तीव्रता वाले भूकम्प से ध्वस्त एक घर.
© UNICEF/Ali Nazari

अफ़ग़ानिस्तान: तालेबान से बातचीत ही है 'आगे बढ़ने का एकमात्र रास्ता'

संयुक्त राष्ट्र के वरिष्ठ अधिकारियों ने गुरूवार को सुरक्षा परिषद में सदस्य देशों को जानकारी देते हुए बताया है कि अफ़ग़ानिस्तान में विनाशकारी भूकम्प, देश के समक्ष मौजूद अनेक आपात परिस्थितियों में से एक है, जिनसे बाहर निकलने के लिये यह ज़रूरी है कि तालेबान प्रशासन के साथ सम्वाद जारी रखा जाए.

दक्षिण सूडान के पिबॉर में कुछ बच्चे विश्व खाद्य कार्यक्रम के वितरण केंद्र से प्राप्त आहार का सेवन कर रहे हैं.
WFP/Marwa Awad

जीवनरक्षक सहायता ज़रूरतों में 10 प्रतिशत वृद्धि, तत्काल कार्रवाई की अपील

संयुक्त राष्ट्र के मानवीय राहत मामलों में समन्वय (UNOCHA) के लिये अवर महासचिव मार्टिन ग्रिफ़िथ्स ने, विश्व भर में बढ़ती मानवीय राहत आवश्यकताओं पर चिन्ता व्यक्त करते हुए कहा है कि इस वर्ष, ज़रूरतमन्द लोगों की संख्या में अब तक 10 प्रतिशत तक की वृद्धि हो चुकी है.