कोरोना वायरस

कोविड-19: मृतक संख्या 50 लाख, वैक्सीन समता की पुकार

दुनिया भर में, कोविड-19 महामारी के कारण हुई मौतों की संख्या, सोमवार को, 50 लाख का तकलीफ़देह आँकड़ा पार कर गई है. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेश ने इस सन्दर्भ में वैश्विक नेताओं से, वायरस को मात देने के लिये, सभी जगह वैक्सीन की उपलब्धता को एक वास्तविकता बनाने के लिये चलाई जा रही, यूएन रणनीति को समर्थन देने और अधिकतम सतर्कता बरते जाने की पुकार लगाई है.

महामारी का ख़ात्मा करने के लिये वैश्विक कार्यक्रम को अब भी, अरबों डॉलर की ज़रूरत

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने गुरूवार को एक नई रणनीति घोषित की है जिसमें कोविड-19 महामारी से बचाने वाली वैक्सीन्स, टैस्ट, जाँच और उपचार की उपलब्धता में मौजूद असमानता का मुक़ाबला करने के लिये, क़रीब 23 अरब 40 करोड़ डॉलर की रक़म का प्रबन्ध किये जाने की पुकार लगाई गई है.

कोविड-19 के स्रोत के अध्ययन और भावी महामारियों की रोकथाम के लिये नया वैज्ञानिक समूह

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने महामारी फैलाव की वजह बनने वाले नए रोगाणुओं के मूल स्रोतों की पड़ताल के लिये बुधवार को एक नए विशेषज्ञ समूह के प्रस्तावित सदस्यों की घोषणा की है. ये समूह कोविड-19 महामारी के लिये ज़िम्मेदार कोरोनावायरस SARS-CoV-2 सहित अन्य रोगाणुओं का अध्ययन करेगा. 

सर्वजन को मानसिक स्वास्थ्य सेवाएँ मुहैया कराने की पुकार

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुटेरेश ने रविवार, 10 अक्टूबर को विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस पर अपने सन्देश में कहा है कि दुनिया भर में कोविड-19 महामारी ने लोगों के मानसिक स्वास्थ्य पर बहुत व्यापक नकारात्मक प्रभाव डाला है, और महामारी द्वारा उजाकर व हर तरफ़ नज़र आ रही विषमताएँ दूर करने के लिये, ठोस कार्रवाई करने की ज़रूरत है.

वैश्विक वैक्सीन रणनीति - वर्ष के अन्त तक 40 फ़ीसदी आबादी के टीकाकरण का लक्ष्य 

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कोविड-19 महामारी से पूरी तरह उबरने के लिये, गुरूवार को आठ अरब डॉलर की लागत वाली एक रणनीति पेश की है, जिसका लक्ष्य कोरोनावायरस टीके, सर्वजन के लिये, हर स्थान पर सुलभ बनाना है.

कोविड-19 के संक्रमण मामलों व मृतक संख्या में लगातार कमी

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के अनुसार, दुनिया भर में कोविड-19 महामारी के संक्रमण व उसके कारण होने वाली मौतों की संख्या में हर दिन कमी हो रही है. गत सप्ताह संक्रमण के नए मामलों की संख्या 31 लाख दर्ज की गई जबकि मृतक संख्या लगभग 54 हज़ार थी.

कोविड-19: डेल्टा वैरिएंट ही अब भी सबसे ज़्यादा ख़तरनाक

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के वरिष्ठ अधिकारियों ने मंगलवार को कहा है कि कोविड-19 के म्यू नामक एक नए वैरिएंट के उभरने के बावजूद, डेल्टा वैरिएंट ही, दुनिया भर में सबसे ज़्यादा चिन्ता का कारण बना हुआ है जिसने अन्य रूपों या प्रकारों को पीछे छोड़ रखा है.

कोविड-19: वैक्सीन के असर में कमी ला सकता है ‘म्यू’ वेरिएंट

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कहा है कि कोरोनावायरस के एक नए वेरिएंट ‘म्यू’ की नज़दीकी तौर पर निगरानी की जा रही है. कोरोनवायरस के इस नए प्रकार का वैज्ञानिक नाम B.1.621 बताया गया है. 

कोविड-19: वायरस के स्रोत पर केंद्रित अध्ययनों के लिये समर्थन का आग्रह

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कहा है कि कोविड-19 वायरस के स्रोत सम्बन्धी सभी परिकल्पनाओं व अनुमानों की परख के लिये, सभी देशों को आपसी मतभेदों को भुलाकर एक साथ मिलकर प्रयास करने होंगे. इनमें प्रयोगशाला में वायरस को तैयार किये जाने का दावा करने वाला अप्रमाणित अनुमान भी है.

कोविड-19: दक्षिण-पूर्व एशियाई देशों में 50 करोड़ से ज़्यादा ख़ुराकों का टीकाकरण

दक्षिण-पूर्व एशिया के लिये विश्व स्वास्थ्य संगठन के क्षेत्रीय कार्यालय (WHO SEARO) ने कहा है कि क्षेत्र में अब तक कोविड-19 वैक्सीन की 50 करोड़ से ज़्यादा ख़ुराकों का टीकाकरण किया जा चुका है.